मध्य प्रदेश विद्युत ठेका श्रमिक संगठन के लोगों ने क्रमिक धरना और भूख हड़ताल कर सरकार को दी चेतावनी आगे करेंगे भूख हड़ताल
**क्रमिक धरना एवं भूख हड़ताल**
बैतूल जिले के मध्य प्रदेश विद्युत ठेका श्रमिक संगठन के लोगों ने क्रमिक धरना और भूख हड़ताल कर सरकार को दी चेतावनी आगे करेंगे भूख हड़ताल
बैतूल जिले की सबसे बड़ी नगर पालिका क्षेत्र में धरना आंदोलन की व्यथा आम होते हुए नजर आए सारणी नगर पालिका क्षेत्र में मध्य प्रदेश विद्युत मंडल के मुख्य अभियंता के प्रवेश द्वार पर एक नंबर गेट पर बैठे आंदोलनकारियो का आज चौथे दिन होने पर उनकी व्यथा सुनने के लिए बैतूल से श्रम अधिकारी ने पहुंच कर उन्होंने मजदूरों की आप बीती सुनी वहां धरने पर बैठी रीना विश्वास, सुरेंद्र हरसूले एवं सभी आंदोलनकारी कृमिक हड़ताल पर बैठे रहे आज  बैतूल से श्रम अधिकारी  क्रमिक धरना स्थल पर पहुंचकर पांच मांगों पर दमन सिंह भगत ,एवं निरीक्षण करने मौके पर पहुंचकर बिंदु वार मजदूरों एवं संगठन के बीच के लोगो से बातचीत की आम चर्चा भी  हुई मगर ऐसी कोई चर्चा नहीं हुई जिससे कि इनकी मांगों को मान लिया गया हो इसलिए संगठन के पास बैतूल से पहुंचे पदाधिकारियों ने कहा जब तक आप हमें आपकी पूरी व्याथा नहीं सुना पाएंगे तब तक हम आपकी मदद नहीं कर पाएंगे आंदोलनकारियों के मुख से कही बातें कि जब तक हमारी इन पांचों मांगों को पूरा नहीं किया जाएगा जब तक आंदोलन जारी रहेगा मध्य प्रदेश विद्युत ठेका श्रमिक संघ के अध्यक्ष गंगाधर चलो कर ने बताया कि हमारी श्रम विरोधी मांगे नहीं है बल्कि श्रम अधिनियम की लड़ाई है श्रेणी की लड़ाई है कंपनी एवं ठेकेदार द्वारा मन घड़त कहानी बनाकर पेश की जा रही है हम मजदूरों को धमकी देकर काम से बंद करा दिया जाता है और यह भी कहा जाता है कि जब तक संगठन आंदोलन कर रहा है तब से बाकी बचे मजदूरों को भी नोटिस दिया जा रहा है आप लोग धरना स्थल पर क्यों जा रहे हो कहकर मजदूरों को प्रताड़ित किया जाता है और मजदूर प्रताड़ना का शिकार हो रहा है मजदूरों का मानसिक संतुलन भी खराब हो रहा है और सहमें सहमे से भी लगने लगे हैं आज धरना स्थल पर गंगाधर चढोकर ,सुरेंद्र हरसूले ,विश्वजीत हालदार बबलू नर्रे, नरेश प्रजापति,रीता विश्वास सुखवनती पंडाग्रे शीवती सोनरे,आदि भी मौजूद रहे l मध्य प्रदेश विद्युत ठेका श्रमिक संगठन के लोगों का कहना है कि हमारी ज्वलंत मांगों को लेकर संगठन के द्वारा एवं  पत्राचार और वार्ता द्वारा मांगों का निराकरण करने का प्रयास कई बार किया गया है मगर मजदूर वर्ग के लोगों का अक्का लॉजिस्टिक्स कंपनी कैंप सारणी का 3 वर्ष का श्रेणी के हिसाब से डिफरेंस पेमेंट
 अब तक मजदूरों को नहीं मिल पाया और भारत मेकेनिकल कंपनी द्वारा 9 माह से बंद कर बेरोजगार किया गया महिलाओं को काम पर वापस रखा जाना एवं बाग बगीचों में कार्यरत मजदूरों को शासन के द्वारा नियम अनुसार वेतन दिया जाना एवं सभी कंपनियों को शासन के नियमों का पालन कर सभी मजदूरों को श्रेणी के हिसाब से वेतन दिया जाना और 660 मेगा वाट की नई यूनिट शीघ्रता से लगाई जाने ऐसी कुल 5 मांगों के सहारे ठेका श्रमिक संगठन क्रमिक धरना और भूख हड़ताल पर दिनांक 14 फरवरी 2022 से लगातार आज चौथे दिन बैठकर प्रशासन एवं राजनेताओं से मजदूर वर्ग पर हुए अत्याचारों का बयान करने के लिए विद्युत मंडल के मुख्य अभियंता कार्यालय के समक्ष एक नंबर गेट पर लगातार धरना दे रहे हैं श्रमिक अधिकारियों का बैतूल से आगमन तो हुआ मगर बात नहीं बनी ठेका श्रमिक संगठन का आगे भूख हड़ताल पर बैठना लगभग तय माना जा रहा है क्या इन गरीब मजदूरों पर हो रहे अत्याचार की व्यथा सुनने एवं इनकी मांगों को पूरा करने प्रशासन के अधिकारी 4 दिनों से मौन क्यों है सत्ताधारी सरकार अनशन और आंदोलन कार्यों को हमेशा से विफल बनाने का सफल प्रयास करते आ रहे हैं
ब्यूरो बैतूल मनोज पवार के साथ कैमरामैन बबलू पहाड़े
Popular posts
साध्वी प्रेम बाईसा के जन्मदिवस पर संतों ने किया संगम वृक्षारोपण
चित्र
खाद्यान्न पर्ची की सूची में 31 मई तक जोड़ा जाएगा नवीन परिवारों को : मंत्री बिसाहूलाल सिंह* ---
चित्र
पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी रहे एक दिवसीय अवकाश पर विभिन्न मांगों को लेकर मुख्यमंत्री के नाम तहसीलदार को सौंपा ज्ञापन
चित्र
बाबा रामदेव अवतार धाम रामदेरिया काश्मीर मंदिर ट्रस्ट कमेटी द्वारा नवल किशोर गोदारा को निर्विरोध अध्यक्ष पद पर निर्वाचित किया गया।
चित्र
भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष के प्रथम नगर आगमन पर हुआ भव्य स्वागत
चित्र