जनजातीय समाज ने मनाया रानी दुर्गावती का बलिदान दिवस।
जनजातीय समाज ने मनाया रानी दुर्गावती का बलिदान दिवस।

बैतूल/सारनी। कैलाश पाटील 

जनजातीय समाज के युवाओं द्वारा गुरुवार को ग्राम छतरपुर में रानी दुर्गावती का बलिदान दिवस मनाया। इस अवसर पर उपस्थित जनसमुदाय ने रानी दुर्गावती के छायाचित्र पर माल्यार्पण किया एवं उनके बलिदान को याद किया। रानी दुर्गावती की जीवन गाथा पर प्रकाश डालते हुए भाजपा प्रशिक्षण वर्ग के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य कमलेश सिंह ने कहा कि रानी दुर्गावती गोंडवाना सम्राज्य की गौरव एवं एक महान वीरांगना थी। उन्होंने मरते दम तक पराजय को स्वीकार नही किया। मुगलों की सेना से आखिरी सांस तक संघर्ष किया और आज के दिन ही युद्धभूमि में वीरगति को को प्राप्त हुई। रानी का रण कौशल, उनकी जीवनगाथा एवं शासन करने की शैली समाज के लिए आज भी प्रेरणादायी है। रानी दुर्गावती के बलिदान दिवस के अवसर पर ग्राम छतरपुर और ढुमकढाना के युवाओं ने पौधरोपण किया। रानी की स्मृति में छायादार और फलदार पौधे लगाए। इस मौके पर कोरोना से बचाव के लिए टीकाकरण जागरूकता अभियान शुरू किया गया। दर्जन भर युवा वैक्सीन लगवाने के लिए तैयार हुए। गांव के युवकों ने अधिक से अधिक संख्या में वैक्सीन लगवाने का संकल्प लिया। इस कार्यक्रम में पूर्व उप सरपंच दिलीप वरकड़े, मुकेश धुर्वे, मनोज वरकड़े, नन्नू लाल सलाम, कैलाश सरेआम, कमलेश आहाके, प्रताप भोरसे, केसू मर्सकोले, धनराज धुर्वे,मेलाराम ककोडिया, सन्तोष धुर्वे, राजू धुर्वे सहित कई लोग मौजूद थे।