मिलावट से मुक्ति अभियान में होशंगाबाद का बेहतर प्रदर्शन

 मिलावट से मुक्ति अभियान में होशंगाबाद का बेहतर प्रदर्शन


लीगल और सर्विलेंस नमूने लेने में होशंगाबाद जिला प्रदेश में अव्वल

होशंगाबाद, होशंगाबाद जिले में मिलावटखोरों के विरूद्ध जिला प्रशासन द्वारा लगातार प्रभावी कार्यवाही की जा रही हैं। मिलावट से मुक्ति अभियान के तहत जिले में बेहतर कार्य किया गया हैजिला खाद्य पदार्थों के लीगल और सर्विलेंस नमूने लेने के आधार पर प्रदेश में अव्वल आया हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बुधवार 10 मार्च को मंत्रालय से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से विभिन्न एजेंडों पर जिलेवार विस्तृत समीक्षा की। मिलावट से मुक्ति अभियान की  जिलेवार समीक्षा में होशंगाबाद जिला लीगल और सर्विलेंस नमूने लेने के आधार पर प्रदेश में सर्वोच्च स्थान पर रहा।

      कलेक्टर कमिश्नर्स कॉन्फ्रेंस में जिले के एनआईसी कक्ष में नर्मदापुरम कमिश्नर श्री रजनीश श्रीवास्तवपुलिस महानिरीक्षक श्री जे एस कुशवाहा पुलिस उप महानिरीक्षक श्री जगत सिंह राजपूतकलेक्टर श्री धनंजय सिंहपुलिस अधीक्षक श्री संतोष सिंह गौर एवं जिला पंचायत सीईओ श्री मनोज सरियाम उपस्थित रहे।

     उल्लेखनीय है कि जिले में कलेक्टर होशंगाबाद श्री धनंजय सिंह के दिशा निर्देशन में मिलावटखोरों पर रासुका सहित आपराधिक प्रकरण दर्ज करने जैसी कठोर कार्यवाही की जा रही है। कलेक्टर द्वारा गठित राजस्वस्वास्थ्य एवं नगरपालिका की संयुक्त टीम द्वारा जिले में प्रभावी कार्यवाही जारी है।

     जिले में 9 नवंबर से अभी तक खाद्य पदार्थो के नमूने अमानक पाए जाने फर्जी लेवल विवरण अंकित कर खाद्य सामग्री बेचने तथा बेस्ट बिफोर डेट निकलने के बाद खाद्य सामग्री विक्रय एवं संग्रहण करने पर  9 खाद्य कारोबारकर्ताओं के विरूद्ध एफआई आर दर्ज एवं 1 पर एनएसए की कार्यवाही  की गई है। खाद्य प्रतिष्ठानों से 224 लीगल नमूने एवं 2876 सर्विलेंस नमूने लिए गए हैं। साथ ही 83 खाद्य प्रतिष्ठानों को नोटिस भी जारी किया गया है।