कलेक्टर ने कुसमी वेयर हाउस का किया निरीक्षण ,

कलेक्टर ने कुसमी वेयर हाउस का किया निरीक्षण 



समय-समय पर खाद्यान्नों की जांच कर गुणवत्ता सुनिश्चित करने के दिये निर्देश....



संदीप कुशवाहा की रिपोर्ट


सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत राशन कार्डधारी परिवारों को चावल, चना, नमक तथा शक्कर निर्धारित मात्रा में निःशुल्क तथा शासकीय दर पर प्रदान किया जाता है। इन खाद्यान्नों का भंडारण छत्तीसगढ़ वेयरहाउस कॉरपोरेशन के गोदामों में किया जाता है। कलेक्टर श्याम धावडे ने कुसमी स्थित वेयरहाउस कॉरपोरेशन के गोदाम का औचक निरीक्षण कर भंडारण किए गए खाद्यान्नों की मात्रा की जानकारी ली। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत प्रदाय किए जाने वाले खाद्य सामग्री की गुणवत्ता से कोई समझौता नहीं किया जाएगा। अधिकारी समय-समय पर खाद्यान्नों की जांच कर गुणवत्ता सुनिश्चित करें। वर्तमान में कुसमी स्थित गोदाम में 368.62 क्विंटल चना, 7931.73 क्विंटल चावल, 952.19 क्विंटल नमक, 58.15 क्विंटल शक्कर तथा 1031.02 क्विंटल गेंहू का भंडारण है।

      कलेक्टर श्याम धावड़े ने कुसमी स्थित स्टेट वेयर हाउस के गोदाम में पहुंचकर भंडारित सामग्री की मात्रा की जानकारी ली। उन्होंने गुणवत्ता निरीक्षक को चावल की गुणवत्ता का जांच कर दिखाने को कहा। गुणवत्ता निरीक्षक ने चावल के गुणवत्ता जांच की पूरी प्रक्रिया को तीन चरणों में पूर्ण करके दिखाया। गुणवत्ता निरीक्षक ने सर्वप्रथम चावल को डिवाइडर में डालकर दो भागों में एकत्रित किया, तत्पश्चात उसे रोटी का आकार देकर सेपरेटर के माध्यम से अलग किया। गुणवत्ता मापन के लिए चावल के दस ग्राम की मात्रा स्व डायल द्वारा उसकी लेंथ मापकर गुणवत्ता का निर्धारण किया। कलेक्टर ने गुणवत्ता निरीक्षक को निर्देशित करते हुए कहा कि खाद्यान्न सामग्रियों की गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए समय-समय पर जांच करें। कलेक्टर ने अधिकारियों से चर्चा करते हुए कहा कि खाद्यान्न का भंडारण समय पर हो तथा उसका उचित रख-रखाव किया जाए। इस दौरान जिला खाद्य अधिकारी शिवेंद्र कामठे, जिला विपणन अधिकारी  अरुण विश्वकर्मा, जिला प्रबंधक नान आर.एन. सिंह सहित अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।