21 लाख रूपये की ठगी प्रकरण में फरार आरोपी निजामुदीन अब्दूल हुसैन को बेलगाॅव, कर्नाटक से गिरफ्तार करने में सफलता

 21 लाख रूपये की ठगी प्रकरण में फरार आरोपी निजामुदीन अब्दूल हुसैन को बेलगाॅव, कर्नाटक से गिरफ्तार करने में सफलता

 


गिड़ा बाड़मेर से वागाराम बोस की रिपोर्ट 


 आनन्द शर्मा पुलिस अधीक्षक बाड़मेर द्वारा जानकारी देते हुए बताया कि वांछित अपराधियों की धरपकड़ हेतु चलाये जा रहे अभियान के तहत अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक बालोतरा  नितिन आर्य व वृताधिकारी वृत बालोतरा  सुभाष चंद्र खोजा के सुपरविजन व प्रेमाराम नि.पु. थानाधिकारी पुलिस थाना सिवाना के निर्देशन में गठित पुलिस टीम द्वारा पुलिस थाना सिवाना पर दर्ज प्रकरण संख्या 214/20 में 21 लाख रूपये की ठगी के मुख्य आरोपी निजामुदीन अब्दूल हुसैन निवासी ठाणे, नई मुम्बई को पुलिस टीम द्वारा बेलगाॅव, कर्नाटक से गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की गई।


घटना का विवरण


 दिनांक 24.10.20 को पुलिस थाना सिवाना में परिवादी  बगाराम पुत्र गेपाराम देवासी निवासी पीपलून, सिवाना ने प्रकरण दर्ज करवाया कि मेरा मुम्बई शहर में इमिटेशन ज्वेलरी का व्यवसाय है। कोविड-19 महामारी के चलते अप्रेल, 2020 में गा्रम पीपलून आया हुआ था। इसी दौरान मेरे पास निजामुदीन अब्दूल हुसैन पुत्र अब्दूल हुसैन मुरीदअली सेख निवासी ठाणे, नई मुम्बई का मोबाईल फोन आया तथा मुझे अपनी जान पहचान व मित्रता का हवाला देते हुए बताया कि मेरी लाईनक्स आॅटोमेटीव से पंजिबद्व फर्म है जो वाहनों की निलामी में खरीद फरोक्त का व्यवसाय करती है। उसके द्वारा मुझे पनवेल, गोवा स्थित गोदाम में बडी संख्या में मारूती वाहन नये हालत में दिखाकर 50 प्रतिषत छूट राशी के साथ उक्त वाहन बेचने का प्रस्ताव रखा जिस पर मेरे द्वारा 74 वाहन खरीदने का प्रस्ताव स्वीकार किया व मेरे द्वारा चैक के माध्यम से 21 लाख रूपये साई पेटे सुपूर्द किये। राशी देने के बाद अभियुक्त द्वारा षडयंत्र रचकर धोखाधडी कर वाहनों की डिलीवरी नही देकर रूपये हड़प लिये वगैरा पर प्रकरण संख्या 214/20 धारा 420, 409, 406, 384, 120बी भादसं में थाना सिवाना में दर्ज किया जाकर अनुसंधान शुरू किया गया।   


पुलिस टीम का गठन व आरोपी को गिरफ्तार करने में सफलता


 अनुसंधान अधिकारी द्वारा अनुसंधान सें प्राथी के साथ 21 लाख रूपये की धोखाधडी करना पाया जाने व घटना के बाद से अभियुक्त फरार होने व बावजूद प्रयासो के अभियुक्त की दस्तयाबी नही होने से पुलिस अधीक्षक द्वारा प्रकरण को गम्भीरता से लेते हुए श्री प्रेमाराम नि.पु. थानाधिकारी पुलिस थाना सिवाना के नेतृत्व में  बाबूलाल स.उ.नि. मय जाब्ता की विशेष टीम का गठन कर मुलजिम गिरफ्तारी के निर्देश दिये गये। विशेष टीम द्वारा अभियुक्त की तलाष मुम्बई, पूना, सतारा आदि स्थानोें पर की जाकर दौराने अनुसंधान, तलाष व आसूचना के आधार पर मुलजिम को बेलगाॅव, कर्नाटक से दस्तयाब करने में सफलता हासिल की गई। मुलजिम से पूछताछ करने पर उसके द्वारा प्रार्थी बगाराम से 21 लाख रूपये की ठगी करना स्वीकार करने पर गिरफ्तार किया गया। मुलजिम को मान्नीय न्यायालय में पेश किया जाकर दिनांक 02.01.21 तक पुलिस रिमाण्ड पर लिया जाकर ठगी किये गये रूपयो की बरामदगी व अन्य सरीक अभियुक्तों के सम्बन्घ में गहनता से अनुसंधान व पूछताछ की जा रही है।

पुलिस टीम:-

बाबूराम  स.उ.नि.,संदीप कुमार कानि.,साईबर टीम सदस्य ओमप्रकाश कानि., प्रेमकुमार कानि.