हर नागरिक तक जनसुविधाएं पहुंचाना नपा का लक्ष्य : रिचा पाहवा
हर नागरिक तक जनसुविधाएं पहुंचाना नपा का लक्ष्य : रिचा पाहवा
बराड़ा, (जयबीर राणा थंबड़)। नगर पालिका बराड़ा प्रदेश स्तर पर तीव्रता से विकासशील नगरपालिकाओं की श्रेणी में पहुंच रही है और अपने हर नागरिक को जनसुविधाएं पहुंचाना नगरपालिका बराड़ा का एकमात्र लक्ष्य है, जिसके लिए बिना किसी भेदभाव के समानरूप से विकास कार्य करवाए जा रहे हैं। यह शब्द नगरपालिका चेयरपर्सन श्रीमती रिचा पाहवा ने बराड़ा के वार्ड नं 10 में एक गली के नवनिर्माण के शुभ मुहूर्त पर कहे। इस अवसर पर उनके साथ युवा समाजसेवी बराड़ा भाजपा मंडल के वरिष्ठ उपाध्यक्ष हन्नी पाहवा विशेष रूप से उपस्थित रहे। गली का निर्माण कार्य शुरू होने पर पार्षद प्रिंस दातला ने सभी वार्डवासियों की ओर से नगरपालिका चेयरपर्सन श्रीमती रिचा पाहवा का धन्यवाद करते हुए कहा कि वार्ड में कईं गलियों नालियों का नवनिर्माण, स्ट्रीट लाइट की सुविधा व अन्य विकास कार्य किये  गये हैं जिसका श्रेय चेयरपर्सन रिचा पाहवा की समान विकास नीति को जाता है, जो बराड़ा के सभी वार्डो में बिना भेदभाव के जनसुविधाओं के विकास कार्य करवा रही हैं। इस अवसर पर नपा चेयरपर्सन रिचा पाहवा ने कहा कि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के नेतृत्व में प्रदेश चहुंमुखी विकास कर रहा है और हरियाणा सरकार द्वारा अपने प्रदेशवासियों के लिए और भी कई तरह की जनकल्याणकारी योजनाएं चलाई जा रही है जिसका आप सबको लाभ लेना चाहिए ताकि हर जरूरतमंद को उन योजनाओं से फायदा पहुंचे, जिसके लिए वह चलाई जा रही है।
इस अवसर पर बलवंत सिंह, राजू, सतनाम सिंह, कुलविंदर सिंह, मुख्तयार सिंह, रविन्द्र सिंह ललिया, बलविंदर सिंह ललिया, बलवंत सिंह, सुखविंदर सिंह, सुखचैन सिंह, अमरजीत सिंह, नवनीत कौर, सिमरजीत कौर, सोनू, मोनू, रिक्की दातला आदि उपस्थित रहे।
Popular posts
कारखानों ,वेयरहाउस की छत के ऊपर गोल-गोल क्या घूमता रहता है
चित्र
शासकीय नर्मदा महाविद्यालय में व्याख्यानमाला का आयोजन का शुभारंभ किया गया वाणिज्य के क्षेत्र में रोजगार की असीम संभावनाएं डॉ.ओ.एन.चौबे
पोटाची खळगी भरण्यासाठी रेल्वे गाड्यांमध्ये खेळणी विकणाऱ्या अथवा गायन, संगीत कला सादर करणाऱ्या वांगणी येथील सुमारे ४५० अंध बांधवांसोबत कार्य सम्राट सांसद डॉ शिंदे ने साजरी केली दिवाळी
चित्र
अवैध उत्खनन के विरुद्ध जिला प्रशासन की बड़ी कार्रवाई,
पिण्डजप्रवरारुढा चण्डकोपास्त्रकैर्युता | प्रसादं तनुते मह्यं चन्द्रघण्टेति विश्रुता
चित्र