पंचायत कर्मियों ने विधायक आशीष शर्मा को सौंपा ज्ञापन*
पंचायत कर्मियों ने विधायक आशीष शर्मा को सौंपा ज्ञापन

*मुख्यमंत्री से चर्चा करने का आश्वासन देकर किया धरना समाप्त करने का आग्रह*


*कन्नौद।पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के 17 घटक संगठनों के संयुक्त मोर्चा के बैनर तले चल रही अनिश्चितकालीन हड़ताल के चौथे दिन रविवार को भी जारी रही जनपद पंचायत प्रांगण में हड़ताल के चलते ग्राम पंचायतों में समस्त विकास कार्य  बंद पड़े हैं एवं ग्रामीण विकास जनों को अत्यधिक परेशानी का सामना करना पड़ रहा है चौथे दिन रविवार को संयुक्त मोर्चा द्वारा धरना स्थल पर मोर्चा संयोजक बीएस पुरविया के नेतृत्व में  विधायक आशीष शर्मा को अपनी मांगों को लेकर मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंप कर समस्त मांगों के संबंध विस्तार से बताया वही विधायक शर्मा द्वारा ज्ञापन स्वीकार कर समस्त कर्मचारियों की मांगों के समर्थन में शीघ्र ही मुख्यमंत्री से चर्चा करने का आश्वासन देते हड़ताल समाप्त करने का आग्रह करते हुए कहा हमारे काम नहीं करने से विकास के काम तो ठप होते ही है साथ ही इससे जनहित के काम भी बड़े पैमाने पर प्रभावित होते हैं इधर संयुक्त मोर्चा के पदाधिकारी प्रवीण अग्रवाल द्वारा बताया गया कि प्रदेश स्तर से प्राप्त निर्देशों के अनुक्रम में प्रमुख रूप से संविदा कर्मियों एवं नियमितीकरण छठे एवं सातवें वेतनमान का लाभ 5 जून 2018 की नीति लागू करना तथा अन्य अनार्थिक मांगे शामिल है विधायक शर्मा द्वारा बहुत ही सकारात्मक रूप से हमारी मांगे सुनी गई एवं शीघ्र ही उन्होंने मुख्यमंत्री से चर्चा करने का आश्वासन दिया गया साथ ही अग्रवाल ने बताया कि जैसा कि पूर्व में भी कई बार मात्र आश्वासन के आधार पर हड़ताल समाप्ति का निर्णय लिया गया परंतु शासन द्वारा आश्वासन उपरांत कोई भी कार्रवाई नहीं की जाती है इसलिए इस बार प्रदेश स्तर के निर्णय आने पर एवं शासन द्वारा मांगों के समर्थन के आदेश जारी होने तक 17 संगठन द्वारा लामबंद होकर किया जा रहा है यह आंदोलन सतत  चलता रहेगा एवं आगामी समय में आंदोलन को उग्र रूप भी दिया जाएगा ज्ञापन देते समय धरना स्थल पर संयोजक बीएस पुरविया, अनिल शर्मा, प्रवीण अग्रवाल, सुल्तान सिसोदिया, राजेश बामने, विनोद मेहंदीया, विजय भुसारिया,  यशवंत धाकड़, राजेश बागवान, विजय गरिड, ईश्वर चौहान, बलराम विश्वकर्मा, मुकेश लोवंशी,  कुलदीप जाट सहित समस्त 85 पंचायतों के एवं जनपद के कर्मचारी गण उपस्थित थे

कन्नौदसे श्रीकांत पुरोहित की रिपोर्ट