एक पेड़ ऑक्सीजन के नाम अभियान के तहत पौधे लगाकर बक्सवाहा के जंगलों में लाखों पेड़ों को काटने का किया विरोध।
एक पेड़ ऑक्सीजन के नाम अभियान के तहत पौधे लगाकर बक्सवाहा के जंगलों में लाखों पेड़ों को काटने का किया विरोध। 

बैतूल। कैलाश पाटील

विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर मुलताई में  एक पेड़ ऑक्सीजन के नाम अभियान के तहत जिला कांग्रेस के आह्वान पर पूर्व मंत्री एवम् मुलताई विधायक सुखदेव पांसे और ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष किशोर सिंग परिहार के नेतृत्व में स्थानीय कांग्रेसियों द्वारा पौधे लगाकर बक्सवाहा के जंगल को काटने का विरोध किया गया और हीरे नहीं हरियाली चाहिए अभियान के तहत मध्यप्रदेश सरकार से अपील की गई कि सरकार जल्द से जल्द 2.15 लाख से भी ज्यादा पेड़ों को काटने का अपना तानाशाही आदेश वापस ले। पूर्व मंत्री एवम् मुलताई विधायक सुखदेव पांसे  एवं ब्लॉक अध्यक्ष किशोर सिंग परिहार ने बताया कि मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार के द्वारा छतरपुर जिले के बक्सवाहा के जंगल में कुछ करोड़ों के हीरे निकालने के लिए बरसों पुराने 2.15 लाख से भी ज्यादा पौधों को काटने का फरमान जारी कर दिया है। इन जंगलों से जहां स्थानीय लोगों को रोजगार मिलता है वहीं बुंदेलखंड के पर्यावरण के लिए भी पेड़ों का होना अत्यंत आवश्यक है। आज विश्व पर्यावरण दिवस पर पूरे जिले में पौधे लगाकर कांग्रेस मध्यप्रदेश सरकार के इस तानाशाही फरमान का विरोध करती है, हमें हीरे नहीं हरियाली चाहिए।
एक पेड़ ऑक्सीजन के नाम अभियान के तिरुपति एरुलु जी एवं  हितेश निरापुरे ने बताया कि आज कोरोना के इस महामारी के दौर में हम सभी ने और कोई बात सीखी हो ना हो पर ऑक्सीजन के महत्व को जरूर जान लिया है। पूर्व मंत्री एवम् मुलताई विधायक एवम् जिला उपाध्यक्ष तिरुपति एरुलु के मार्गदर्शन में एक पेड़ ऑक्सीजन के नाम अभियान के माध्यम से बक्सवाहा के इन लाखों पेड़ों को काटने से रोकने का अपना पूरा प्रयास करेंगे।  कांग्रेस कमिटी बैतूल द्वारा विश्व पर्यावरण दिवस पर मुलताई के साथ ही पूरे बैतूल जिले में जगह जगह पर पौधरोपण करके मध्य प्रदेश सरकार के इस 2.15 लाख से भी ज्यादा पेड़ों को काटने के फरमान का विरोध किया गया और सरकार से अपील की गई कि आम जनता को हीरे नहीं हरियाली चाहिए, मध्यप्रदेश सरकार जल्द से जल्द इन लाखों पेड़ों को काटने के आदेश को वापस लें। पौधरोपण के दौरान मुलताई विधायक सुखदेव पांसे के नेतृत्व में  उपस्थित थे।