हवन पूजन और फीता काटकर किया गया बाबा मठारदेव मेले का शुभारंभ।

 हवन पूजन और फीता काटकर किया गया बाबा मठारदेव मेले का शुभारंभ।



बैतूल/सारनी। कैलाश पाटिल 


10 दिनो तक लगने वाले श्री श्री 1008 बाबा मठारदेव मेले का शुभारंभ मंगलवार को हवन पूजन के बाद ध्वजारोहण के साथ हुआ। मेले के शुभारंभ के अवसर पर आमला-सारनी विधायक डॉ योगेश पंडाग्रे, नपाध्यक्ष आशा भारती, नपा उपाध्यक्ष भीम बहादुर थापा, सीएमओ सीके मेश्राम, एसडीओपी अभयराम चौधरी, तहसीलदार मोनिका विश्वकर्मा, थाना प्रभारी महेंद्र सिंह चौहान,  सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।


कार्यक्रम सुबह 10 बजे हवन पूजन शुरू हुआ जो कि 11:30 बजे तक चलता रहा है, हवन पूजन पश्चात मेले के प्रतीक ध्वज को फहराकर मेले का शुभारंभ किया गया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विधायक पंडाग्रे ने कहा कि सारनी वासियों के लिए 2021 नया सवेरा लेकर आएगा और सारनी पहले से जल्दी बेहतर होगा इसके प्रयास किए जा रहे हैं। संबोधन के पश्चात विधायक पंडाग्रे, नपाध्यक्ष आशा भारती ने फीता काटकर मेले का शुभारंभ किया। जबकि ज्ञात हो कि पिछले 30-32 साल से चली आ रही परंपरा इस साल कोरोना महामारी के कारण लगभग टूट चुकी है जिससे कि कई पाबंदी इस बार मेले के आयोजन पर लगी है। हालांकि इस बार कोविड-19 महामारी को देखते हुए भंडारों का आयोजन नहीं होगा। हाल फिलहाल में ही जनप्रतिनिधियों की मांग पर नपा द्वारा मेला लगाने की अनुमति नहीं दी गई, जिसके पश्चात दुकानदारों को दुकानें लगाने की अनुमति नहीं मिली थी, ऐसी स्थिति में दुकानदार असमंजस में थे। जिस पर जन प्रतिनिधियों ने मांग उठाई तो आनन-फानन में नपा ने इसकी अनुमति तो दे दी। परंतु असमंजस में फंसे व्यापारियों ने दुकान लगाने का मौका ना मिलने पर और जैसे ही नपा ने दुकान लगाने की अनुमति दी वैसे ही दुकानदारों ने अपनी आधी अधूरी दुकान शुभारंभ के दिन ही लगाना शुरू कर दी। हालांकि बीते वर्षो में मेले के शुभारंभ के पूर्व में अपनी दुकानें मेले लगाकर दुकानदार शुरू कर देते हैं। वही इस वर्ष मेले में झूले लगाने की अनुमति भी दी जा चुकी है और नपा द्वारा सभी दुकानदारों को आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए गए हैं कि वे कोविड-19 के उचित निर्देशों का पालन करते हुए दुकान का संचालन करें। इस मेले के शुभारंभ के अवसर पर जनप्रतिनिधि, पत्रकार, समाजसेवी, व्यापारियों के अलावा आमजन उपस्थित थे।