प्रकाश बिंझाडे संभालेंगे विश्व की सबसे बड़ी जिम्मेदारी एवं कमान।

 प्रकाश बिंझाडे संभालेंगे विश्व की सबसे बड़ी जिम्मेदारी एवं  कमान। 



बैतूल/सारनी। कैलाश पाटिल


अंतराष्ट्रीय स्वदेशी भारत दल प्रमुख संस्थापक एवं राष्ट्रीय ०00०00000000०0०

 रूप मे उनकी जिम्मेदारी होंगी उन्हें यहाँ जिम्मेàस्तर पर मान्यता सौंप  कर प्राप्त हुई। अंतराष्ट्रीय ०0क़्ग0आ अपराध नियंत्रण संगठन, रेजिस्टर्ड नीति आयोग न्यू दिल्ली, एंट्री करप्शन  आर्गेनाइजेशन एवं अंतराष्ट्रीय हिन्दू महासभा, क्राइम इन्वेस्टीगेशन आर्गेनाइजेशन,  इंटरनेशनल ह्यूमन फाउंडेशन एवं राष्ट्रीय एकता मिशन के चेयरमेन तथा ब्रांड एम्बेसीडर पंडित मोहित नवानी एवं सेंट्रल कॉउंसलिं ऑफ़ ह्यूमन  राईट फाउंडर एडवोकेट डीपी जोशी रायपुर के नेतृत्व मे उन्हें यह कमान उनके कठोर 8 वर्ष की कड़ी मेहनत एवं परिश्रम असंख्य सैकड़ो  सभा करने के उपरांत प्राप्त हुई है| बिंझाडे ने बताया की  स्वदेशी के प्रणेता राजीव भाई दीक्षित के अधूरे सपनो को पुरा करने हेतू संगठन विश्व मे अपनी एक अलग पहचान बनाएगा। सम्पूर्ण विश्व मे स्वदेशी की एक मजबूत नींव रखकर स्वदेशी कृषि, स्वदेशी रोजगार, स्वदेशी चिकित्सा, स्वदेशी गौ अर्थ व्यवस्था ,देश को बढ़ावा देने पर निरंतर ग्राम स्तरीय, ब्लॉक एवं तहसील, जिला राज्य स्तरीय मजबूत समिति का निर्माण कर आगे अपने उद्देश्य को प्राप्त करने हेतू आगे बढ़ेगा एवं देश मे तेजी से बड़ रहे आपराधिक घटनाओ एवं भ्रस्टाचार की रोकथाम हेतू मजबूती से कार्य किरेगे। कोविड 19 के मद्देनज़र आत्म निर्भरता और स्वदेशी की प्रासंगिकता का जिक्र करते हुए बिंझाडे ने कहाँ की महामारी ने स्पष्ट कर दिया है की वैश्विकरन के वांछित परिणाम प्राप्त नहीं हुए है और एक आर्थिक मॉडल सभी जगहों पर लागू नहीं होता। उन्होंने कहाँ की स्वतंत्रता के बाद देश की जरूरतों के अनुरूप आर्थिक नीति नहीं बनी। आजादी के बाद जैसे आर्थिक नीति बननी चाहिए थी वैसे नहीं बनी आजादी के बाद ऐसा माना ही नहीं गया की हम लोग कुछ कर सकते है। अच्छा हुआ की अब शुरू हो गया आजादी के बाद रूस से पचवर्षीय योजना ली गई, पश्चिमी देशो का अनुकरन किए गया लेकिन अपने लोगों के ज्ञान और क्षमता की ओर नहीं देखा गया। अपने देश मे उपलब्ध अनुभव आधारित ज्ञान को बढ़ावा देने की जरुरत है और दुनिया एवं  कोविड 19 के अनुभव से स्पष्ट है की विकास का एक नया मूल्य आधारित मॉडल लाना बेहद जरुरी है।