सड़क की मांग को लेकर पांच ग्रामीण भूख हड़ताल पर बैठे थे, तहसीलदार की समझाइश पर भूख हड़ताल समाप्त किया गया।

सड़क की मांग को लेकर पांच ग्रामीण भूख हड़ताल पर बैठे थे, तहसीलदार की समझाइश पर भूख हड़ताल समाप्त किया गया।


नवनीत पांडेय,बलरामपुर-रामानुजगंज


बलरामपुर जिले के विकासखंड वाड्रफनगर रघुनाथ नगर के पुराने शासकीय सड़क को बंद करने के विरोध में भूख हड़ताल किया जा रहा था। विगत 5 माह पूर्व से ग्राम पंचायत रघुनाथ नगर का एक मोहल्ला गोटिया पारा रास्ता बंद कर देने के कारण मेन रोड से कट गया है। जैसे उस पारा से आने-जाने वाले लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। जिसकी सूचना जुलाई 2020 से उच्च अधिकारियों को कई बार दी जा चुकी थी परंतु अधिकारीयों एवं जनप्रतिनिधियों द्वारा अब तक इसका निराकरण नहीं किया गया इससे परेशान होकर रघुनाथ नगर के पांच ग्रामीण रामाशंकर पंत, रामधनी सिंह, शिवम लाल साहू, देवीलाल साहू, राजेश कुमार जायसवाल द्वारा गांधी चौक रघुनाथ नगर में प्रातः 8:00 बजे से भूख हड़ताल में बैठ गए हैं इनका कहना है कि जब तक हमें शासन, प्रशासन एवं उच्च अधिकारियों के द्वारा सड़क के संबंध में उचित निराकरण नहीं किया जाएगा तब तक हम भूख हड़ताल में बैठे रहेंगे। प्रशासन को भूख हड़ताल की सूचना मिलते ही नायाब तहसीलदार विनीत सिंह एवं थाना प्रभारी रघुनाथ नगर कृष्णा पाटले दल बल के साथ पहुंच कर लोगों को समझाइश दी है और बताया गया कि सड़क के लिए दो राजस्व निरीक्षक एवं पटवारी के द्वारा स्थल पर जाकर जमीन का सीमांकन कर सड़क के लिए चिन्हाकित किया जाएगा और आश्वासन मिलने के पश्चात ग्रामीणों के द्वारा भूख हड़ताल को समाप्त किया गया।