RTI एक्टिविस्ट अमराराम पर हमले की जांच शुरू
*RTI एक्टिविस्ट अमराराम पर हमले की जांच शुरू*
*CID-CB टीम ने घटना स्थल व जब्त वाहन से जुटाए साक्ष्य, आरोपियों से की पूछताछ*

बाड़मेर से वागाराम बोस की रिपोर्ट 


*बाड़मेर।* बाड़मेर के आरटीआई कार्यकर्ता के हाथ पैरों को तोड़कर पैरों में कीलें ठोकने और जानलेवा हमला करने की जांच सीआईडी सीबी ने शुरू कर दी है। सीएम ने इस मामले की जांच सीआईडी सीबी को दी है। आदेश के दूसरे दिन ही सीआईडी सीबी एसपी गौरव यादव के नेतृत्व में टीम पचपदरा थाने पहुंची। सीआईडी सीबी टीम के साथ में एफएसएल की टीम शामिल थी। टीम में डीएसपी जितेंद्र सिंह मेड़तिया भी शामिल हैं।
दरअसल, बाड़मेर जिले के गिड़ा जसोड़ो की बेरी गांव निवासी RTI कार्यकर्ता अमराराम का अपहरण कर बेरहमी से मारपीट की गई थी। बताया जा रहा है कि आरटीआई कार्यकर्ता से ग्राम पंचायत में व्याप्त भ्रष्टाचार और अवैध शराब बेचने की शिकायत का बदला लेने के लिए मारपीट की गई। अमराराम के दोनों पैरों व एक हाथ तोड़ने के साथ पैरों में हथौड़े से लोहे की कीलें ठोंक दी गईं।
इस मामले में राजस्थान राज्य मानव अधिकार आयोग ने भी सरकार से 28 दिसंबर तक रिपोर्ट मांगी थी। पुलिस ने इस मामले में चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है।
सीआईडी सीबी एसपी गौरव यादव ने बताया कि आज सुबह पीड़ित से जोधपुर अस्पताल में मुलाकात की और स्वास्थ्य संबंधी जानकारी ली गई। घटना के बारे में पूरी जानकारी ली गई। पचपदरा में आकर जांच शुरू की गई है। मुख्य मकसद यह है कि जो मारपीट व साजिश करने वाले लोग कौन-कौन हैं और कार्रवाई निष्पक्ष और तेज गति से की जाए।

*पचपदरा थाने में पहुंची टीम*

सीआईडी सीबी टीम रविवार को पचपदरा थाने पहुंची। पुलिस जांच अधिकारी प्रदीप डांगा से अब तक की जांच के बारे में जानकारी ली। टीम के साथ में पाली से आई एफएसएल टीम ने जब्त स्कॉपियो गाड़ी से फिंगर प्रिंट व अन्य साक्ष्य जुटाए। इसके बाद गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ की गई। आरोपियों से अलग-अलग पूछताछ भी की गई है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक टीम बयानों की वीडियोग्राफी भी कर रही है।

*टीम ने देखा घटना स्थल*
 
आरटीआई एक्टिविस्ट अमराराम के साथ मारपीट होने वाली जगह पर टीम ने पहुंचकर निरीक्षण किया। टीम ने अमराराम के अपहरण वाले स्थान से लेकर जहां पर मारपीट की गई उस जगह पर पहुंच मौका मुआयना किया। बाड़मेर से डीएसटी प्रभारी हरचंदराम, पचपदरा थानाधिकारी प्रदीप डांगा साथ रहे।

*टीम ने अमराराम से मिलकर ली जानकारी*

सीआईडी सीबी टीम जयपुर से रविवार को जोधपुर पहुंची। जोधपुर एमडीएम अस्पताल में भर्ती आरटीआई एक्टिविस्ट अमराराम से मुलाकात की। अमराराम के स्वास्थ्य के बारे जानकारी ली। अमराराम से घटना को लेकर पूछताछ की गई। आरोपियों के बारे में जानकारी ली गई। अमराराम ने अपने बयानों में पूर्व सरपंच व प्रधान के नजदीक लोगों पर आरोप लगाया है।
Popular posts
शासकीय नर्मदा महाविद्यालय में व्याख्यानमाला का आयोजन का शुभारंभ किया गया वाणिज्य के क्षेत्र में रोजगार की असीम संभावनाएं डॉ.ओ.एन.चौबे
पिण्डजप्रवरारुढा चण्डकोपास्त्रकैर्युता | प्रसादं तनुते मह्यं चन्द्रघण्टेति विश्रुता
चित्र
पोटाची खळगी भरण्यासाठी रेल्वे गाड्यांमध्ये खेळणी विकणाऱ्या अथवा गायन, संगीत कला सादर करणाऱ्या वांगणी येथील सुमारे ४५० अंध बांधवांसोबत कार्य सम्राट सांसद डॉ शिंदे ने साजरी केली दिवाळी
चित्र
अवैध उत्खनन के विरुद्ध जिला प्रशासन की बड़ी कार्रवाई,
राष्ट्रपिता महात्मा गांधी देश के प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती सादगी से जिले भर में मनायी।
चित्र