सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के राज्यमंत्री ओम प्रकाश यादव बोले, इन लोगों को नहीं मिलेगी बुढ़ापा पेंशन
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के राज्यमंत्री ओम प्रकाश यादव बोले, इन लोगों को नहीं मिलेगी बुढ़ापा पेंशन
चंडीगढ़/हरियाणा(जयबीर राणा थंबड़)
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के राज्यमंत्री श्री ओम प्रकाश यादव ने कहा कि हरियाणा सरकार द्वारा भविष्य में सभी सामाजिक सुरक्षा योजनाओं को परिवार पहचान पत्र के साथ जोड़ा जा रहा है ताकि पेंशन बनाने की प्रक्रिया को और सरल बनाया जा सके।

श्री यादव ने कहा कि वर्तमान में जो लाभार्थी विभाग द्वारा संचालित योजनाओं का लाभ उठा रहे हैं उनका डाटा भी परिवार पहचान पत्र के साथ जोड़कर संबंधित योजनाओं के प्रावधान अनुसार कार्यवाही की जा रही है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में अक्टूबर माह में कुल 28लाख 85हजार 508 लाभार्थियों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना की अदायगी नवंबर में की गई है, जिसमें से 17लाख 47हजार 751 लाभार्थियों को वृद्धावस्था सम्मान भत्ता की अदायेगी की गई। उन्होंने बताया कि इस योजना के अंतर्गत यदि लाभार्थी पति और पत्नी की  वार्षिक आय सभी  स्त्रोतों से 2 लाख से अधिक है तो वह  इस योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्त करने योग्य नहीं है।

श्री यादव ने बताया कि अक्टूबर में 20हजार956 लाभ पात्रों की पेंशन जारी नहीं की गई , क्योंकि उनकी (पति और पत्नी दोनों की मिलाकर) वार्षिक आय स्वयं हस्ताक्षरित परिवार पहचान पत्र में 3.50 लाख से अधिक थी। उन्होंने बताया की जिन लाभार्थियों की वार्षिक आय (  पति- पत्नी  की मिलाकर )  2 लाख या उससे कम है उनकी पेंशन नहीं रोकी जाएगी। लाभार्थी के बेटों की आय  इन दो लाख में नहीं जोड़ी जाएगी।
Popular posts
शासकीय नर्मदा महाविद्यालय में व्याख्यानमाला का आयोजन का शुभारंभ किया गया वाणिज्य के क्षेत्र में रोजगार की असीम संभावनाएं डॉ.ओ.एन.चौबे
पिण्डजप्रवरारुढा चण्डकोपास्त्रकैर्युता | प्रसादं तनुते मह्यं चन्द्रघण्टेति विश्रुता
चित्र
पोटाची खळगी भरण्यासाठी रेल्वे गाड्यांमध्ये खेळणी विकणाऱ्या अथवा गायन, संगीत कला सादर करणाऱ्या वांगणी येथील सुमारे ४५० अंध बांधवांसोबत कार्य सम्राट सांसद डॉ शिंदे ने साजरी केली दिवाळी
चित्र
अवैध उत्खनन के विरुद्ध जिला प्रशासन की बड़ी कार्रवाई,
राष्ट्रपिता महात्मा गांधी देश के प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती सादगी से जिले भर में मनायी।
चित्र