नही मिला 05 साल से मुआवजा, दर-दर की ठोकरे खाने को मजबूर कास्तकार
*नही मिला 05 साल से मुआवजा, दर-दर की ठोकरे खाने को मजबूर कास्तकार*
 जिला मजिस्ट्रेट के आदेश के बाद भी नहीं हुई कोई कार्यवाही
 परिवार सहित तहसील कार्यालय में धरने हेतु दिया ज्ञापन।
रिपोर्ट केशर सिंह नेगी थराली

        वि0ख0 नारायण बगड के अन्तर्गत मींग गधेरा-डांगतोली मोटर मार्ग पर कार्यदायी संस्था पीएमजीएसवाई द्वारा सडक निर्माण के दौरान एक कास्तकार को 5 साल से आवासीय भवन तथा शौचालय मेंदरारें आने से छतिग्रस्त होने पर मुआवजा न दिये जाने को लेकर 06 अगस्त से तहसील प्रांगण में धरने पर बैठने हेतु तहसीलदार को ज्ञापन दिया गया जबकि पूर्व में इसी सम्बन्ध में जिला मजिस्ट्रट द्वारा कार्यदायी संस्था पीएमजीएसवाई को नोटिस भेजकर सूचित किया गया था कि वे कास्तकार को आंगणन प्रस्ताव के   अनुसार प्रतिकर / मुआवजे को एक सप्ताह के अन्तर्गत वितरित करे अन्यथा  ऐसा न करने की दशा पर भू-राजस्व की भाॅती वसूली के आदेश पारित किये जायेगे । लेकिन इसके बाद भी उपरोक्त मामले में कोई कार्यवाही न होने पर कास्तकार द्वारा ब्यथित होकर यह निर्णय लिया गया वही विभाग द्वारा अब तकनीकी निरिक्षण किये जाने की बात कही जा रही है ।
    सनेड गाॅव निवासी हरक सिंह पुत्र केदार सिंह  ने बताया कि वर्ष 2017 -18 में पीएमजीएसवाई द्वारा मोटर मार्ग मींग गधेरा- डांगतोली का निर्माण कार्य प्रारम्भ हुआ जिसमें सनेड गाॅव स्थित उनके आवासीय मकान के नीचे से सडक कटिग का कार्य किया गया जिससे भूकटाव होने के कारण उनके आवासीय मकान में दरारे आ गयी जिसकी उनके द्वारा तत्काल सूचना विभागीय अधिकारीयों को दी गयी लेकिन विगत 05 सालांे से विभागिय अधिकारीयों द्वारा केवल उन्हें आश्वसन ही दिया जा रहा है वही  जिला मजिस्ट्रेट के आदेश के बाद भी विभाग द्वारा कोई जाॅच /कार्यवाही नही कि गयी है ।