हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले में हुए हादसे में तवा वन में कार्यरत अंडर मैनेजर की बेटी प्रतिक्षा हुई हादसे का शिकार।
हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले में हुए हादसे में तवा वन में कार्यरत अंडर मैनेजर की बेटी प्रतिक्षा हुई हादसे का शिकार।

बैतूल/सारनी। कैलाश पाटील

हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले के चितकुला से सांगला जा रहे पर्यटकों को ले जा रहे टेम्पो पर एक बड़ा पत्थर गिर गया। नौ लोगों की मौत हो गई और तीन लोग घायल हो गए।  जानकारी के मुताबिक यह हादसा रविवार को दोपहर 1.30 बजे हुआ। सांगल छितकुल रोड पर बटसेरी के पास इसी वक्त भूस्खलन के चलते चट्टानों के गिरने का सिलसिला शुरू हुआ। तभी वहां गुजर रहा टैंपो ट्रैवलर इसकी चपेट में आ गया। इसमें कुल 11 लोग सवार थे, जिनमें से नौ की जान चली गई। इसमें से एक सारणी क्षेत्र मे रहने वाले सुनील पाटिल जो की तवा 1 - में अंडर मैनेजर के पद पर कार्यरत है उनकी बेटी प्रतिक्षा पाटील भी सवार थी वह भी इस हादसे का शिकार हो गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रत्येक पीड़ित के परिवार के लिए 2 लाख रुपये और घायलों के लिए 50,000 रुपये की सहायता की घोषणा की है