जन्मभूमि और मातृभूमि के लिए अल्पायु में 100 करोड़ समाज सेवा में खर्च करने का साहस रखने वाले महापुरुष
जन्मभूमि और मातृभूमि के लिए अल्पायु में 100 करोड़ समाज सेवा में खर्च करने का साहस रखने वाले महापुरुष डॉ धर्मेंद्र लटोरिया को बहुत-बहुत आशीर्वाद
डॉ धर्मेंद्र लटोरिया को मंच से देना पड़ा राजनीति में ना आने का स्पष्टीकरण संतोष गंगेले कर्मयोगी

      नौगांव छतरपुर गत दिवस श्री सूरज हीरा फाउंडेशन संस्था के अध्यक्षडॉ धर्मेंद्र लटोरिया द्वारा अपने माता पिता की पुण्यतिथि जन्म दिवस के अवसर पर एक विशाल कार्यक्रम अपने जन्म ग्राम नन्हीं मऊ तहसील थाना नौगांव में आयोजित किया गया जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में छतरपुर जिला कलेक्टर एवं कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला पुलिस अधीक्षक ने की विशिष्ट अतिथि के रूप में बिजावर विधानसभा क्षेत्र से विधायक रहे पूर्व विधायक श्री पुष्पेंद्र नाथ पाठक एवं जबलपुर से पधारे स्वामी संत महाराज जी मंचासीन रहे l

इस कार्यक्रम में छतरपुर जिले के दिग्गज विधायक श्री आलोक चतुर्वेदी पज्जन  भैया एवं महाराजपुर विधानसभा क्षेत्र के विधायक नीरज विनोद दीक्षित जी को सूचित किया कि कि कार्यक्रम प्रातः 10:30 होगा जिसमें आप मुख्य अतिथि और अध्यक्षता करेंगे लेकिन जैसे ही पता चला उन्हें की कार्यक्रम बहुत बलम से है और इसमें प्रशासनिक अधिकारी आ रहे हैं उन्होंने श्री सूरज हीरा फाउंडेशन के संस्थापक अध्यक्ष डॉ धर्मेंद्र लटोरिया जी के माता पिता को अपने श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए उनके अनुरोध को मान कर अपने अपने विधानसभा क्षेत्र में निर्धारित कार्यक्रम के बाद चले गए वह मंचासीन नहीं हुए जो चर्चा का विषय बना रहा l बुंदेलखंड के समाजसेवी संतोष गंगेले कर्मयोगी ने समाज सेवा में दान करने वाली दानवीर की पुलिस दिल से सराहना की है

        डॉ धर्मेंद्र लटोरिया द्वारा अतिथि स्वागत उद्बोधन में मंच से स्पष्ट रूप से कहा कि वह मातृभूमि की सेवा सेवक के रूप में करना चाहते हैं जनप्रतिनिधि के रूप में नहीं उन्होंने मंच से कहा कि मैं भगवान से प्रार्थना करता हूं कि मुझे इतनी शक्ति देना कि मैं अपने लोगों की मदद करता रहूं शोषित पीड़ित की मदद करता रहूं मुझे ऐसा ध्यान नया कि मैं राजनीति में रहूं इससे स्पष्ट होता है कि वह किसी भी तरह से वर्तमान में राजनीति में नहीं आना चाहते हैं लेकिन जो व्यक्ति 700 करोड़ रूपया मेडिकल के लिए खर्च कर सकता है और अरबों रुपए की सामाजिक संस्था गुजरात में चला रहा है और यदि प्रधानमंत्री जी राष्ट्रीय अध्यक्ष महोदय प्रदेश के मुख्यमंत्री महोदय यदि ऐसे जन सेवक को पार्टी में लिया कर जिस भी विधानसभा क्षेत्र से उसे प्रत्याशी बना देंगे वह 50 या 100 करोड़ रुपिया क्षेत्र प्रकाश के लिए निजी तौर पर खर्च कर सकता है उन्होंने अपने माता-पिता की पुण्यतिथि पर घोषणा की है कि वह अपनी जन्म भूमि के दोनों ग्रामों को पक्का मकान बनाकर एक से करना चाहते हैं डामरीकरण प्रकाश स्वच्छता स्वच्छता एवं भारतीय संस्कृति संस्कार से परिपूर्ण करने के लिए अध्यक्षता से जोड़ने के लिए उन्होंने 4:30 करोड़ रुपए की लागत से श्री राम जानकी पंच मंदिर बनाने का भूमि पूजन प्रशासन से कराया तथा छोटे से ग्राम में इलेक्ट्रॉनिक मृतक शरीर के लिए विद्युत संस्कार ग्रह बनाना का संकल्प लिया है पर बहुत कुछ करना चाहते हैं इसके बाद उन्होंने छतरपुर जिला कलेक्टर के गृह निवास हमीरपुर जिले पहुंचकर के वहां भी श्री राम जानकी मंदिर बनाने का जो भूमि पूजन किया उससे स्पष्ट होता है कि अब बुंदेलखंड का विकास पूरे क्षेत्र में होगा गुजरात एक धनाढ्य सोने चांदी हीरा का व्यापार जहां होता है देश का सबसे अच्छा ईमानदार पूंजीपति प्रदेश माना जाता है यदि डॉ धर्मेंद्र लटोरिया राजनीति में कहीं से भी आते हैं तो उसे क्षेत्र का  विकास होना निश्चित मानिए l