दलित किशोरी से गैंगरेप के आरोपियों से पुलिस की मुठभेड़, एक आरोपी घायल
कौशाम्बी से बड़ी खबरें

- दलित किशोरी से गैंगरेप के आरोपियों से पुलिस की मुठभेड़, एक आरोपी घायल


 कौशांबी ज़िले में दलित किशोरी से गैंगरेप मामले में फ़रार चल रहे आरोपियों और पुलिस से मुठभेड़ हो गयी। आमने-सामने हुई मुठभेड़ में गुलशन नाम के टॉपटेन अपराधी के पैर में गोली लगी हैं। पुलिस ने घायल आरोपी को जिला अस्पातल में भर्ती कराया हैं। जहाँ उसका इलाज़ किया जा रहा हैं।
- पूरी घटना शुक्रवार की बताई जा रही हैं। किशोरी सिलाई क्लास के लिये गयी हुई थी। वह से उसके प्रेमी ने घूमने के बहाने कनैली जंगल ले गया। बात-चीत के दौरान प्रेमी राजू ने जबरन किशोरी से शारीरिक संबंध बना रहा था। तभी वहां गुलशन उसका भाई और सत्यम पहुचे गए। तीनो ने मिलकर प्रेमी राजू को मार-पीट कर मोबाइल छीन लिया। आरोप हैं कि गुलशन और सत्यम ने बारी-बारी से दलित किशोरी के साथ गैंगरेप की घिनौनी वारदात को अंजाम दिया। और इस घटना के बाबत किसी से बताने पर जान से मारने की धमकी देकर फरार हो गए। हैवानों के चंगुल से छूटने के बाद किशोरी घर पहुची। और आप बीती बताई, तो परिजन किशोरी के साथ सरायअकिल थाना पहुच कर घटना की तहरीर दिया। तहरीर मिलने पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर प्रेमी राजू को गिऱफ्तार कर लिया। लेकिन मेन तीनो आरोपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर थे। ज़िले में दलित किशोरी के साथ हुई हैवानियत से आम जनमानस में आक्रोश था। लिहाज़ा पुलिस ने कई टीमें लगा कर आरोपियों की तलाश कर रही थी।  इसी दौरान कनैली जंगल मे दो आरोपियों के होने की सूचना एसओजी को मिली। सरायअकिल पुलिस के साथ पहुची एसओजी टीम ने घेराबंदी कर आरोपी को पकड़ने का प्रयास किया गया। तो आरोपी गुलशन ने पुलिस टीम पर फायर झोंक दिया। जवाबी कार्यवाही में गुलशन के पैर में गोली लग गयी। पुलिस ने घटनास्थल से दोनों आरोपियों को गिऱफ्तार कर लिया। वही पुलिस की गोली से घायल हुए गुलशन को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। आरोपी गुलशन टॉपटेन अपराधी बताया जा रहा हैं। इलाज़ के दौरान गुलशन ने मीडिया कर्मियों से बताया कि उसको उसी दिन घर से गिऱफ्तार कर लिया गया था। दो दिन पुलिस लाइन में रखने के बाद आज नदी किनारे ले जा कर गोली मार दी।

 कौशाम्बी से ब्यूरो चीफ पवन मिश्रा की रिपोर्ट