गेहूं की फसल के साथ चना ,मसूर, सरसों भी खरीदी जाएगी - कृषि मंत्री श्री पटेल

गेहूं की फसल के साथ चना ,मसूरसरसों भी खरीदी जाएगी  - कृषि मंत्री श्री पटेल

कृषि मंत्री श्री पटेल ने मां नर्मदा की पूजा अर्चना कर प्रदेश की  समृद्धि के लिए प्रार्थना की

 

होशंगाबाद। किसान कल्याण एव कृषि  विकास मंत्री मध्यप्रदेश शासन श्री कमल पटेल ने शुक्रवार 12 फरवरी होशंगाबाद में पुण्य सलिला मां नर्मदा की पूजा अर्चना कर प्रदेशवासियों की सुख और समृद्धि की प्रार्थना की। उन्होंने विवेकानंद घाट होशंगाबाद में मां नर्मदा की आरती और वंदना की। 

      इस अवसर पर कृषि मंत्री श्री पटेल ने कहा कि इस वर्ष समर्थन मूल्य पर गेहूं की फसल के साथ-साथ चनामसूर एवं सरसों की फसल भी खरीदी जाएगी। इस बार लगभग 80 लाख मीट्रिक टन चनामसूर एवं सरसों खरीदी जाएगा। जिससे किसानों को 8000 करोड़ से लेकर 16000 करोड़ रुपए तक का सीधा लाभ मिलेगा।

 

किसान खेती के साथ व्यापार ,व्यवसाय व उद्योग भी स्थापित कर  सकेंगे

      कृषि मंत्री श्री पटेल ने कहा कि प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के माध्यम से अब किसानों को गांव की आबादी की भूमि पर मालिकाना हक प्राप्त होगा।जिससे किसान अपनी भूमि पर बैंको से किफायती ब्याज दर पर ऋण प्राप्त कर सकेंगे । साथी  ही व्यापारव्यवसाय  एवं उद्योग स्थापित कर अपनी आलू ,प्याजटमाटर आदि उत्पादों का प्रसंस्करण कर एमएसपी की जगह एमआरपी पर बेच सकेंगे।उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी एवं मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में गांवो के विकास के द्वार खुलेंगे। खेती किसानी की दशा और दिशा बदलेगी।

 

मंडिया बनेंगी आदर्श

      कृषि मंत्री श्री कमल पटेल ने कहा कि प्रदेश की सभी मंडियों को किसानों के लिए सर्व सुविधायुक्त आदर्श मंडी के रूप में तैयार किया जाएगा। जिसमें किसानों को आवश्कतानुसार  मंडियों में ही गुणवत्ता युक्त खादबीज एवं दवाइयां प्राप्त हो सकेगी। साथी ही मंडियों में पेट्रोलडीजल पंप की व्यवस्था होगी। किसानों को स्मार्ट कार्ड उपलब्ध कराएं जाएंगे जिससे वे आर्मी कैंटीन कि तरह अच्छी गुणवत्ता के कृषि उपकरण व  रोजमर्रा/ घरेलू सामान सस्ती कीमतों पर ले सकेंगे।

 

किसान आत्मनिर्भरदेश आत्मनिर्भर

      कृषि मंत्री श्री पटेल ने कहा कि किसानों के आत्मनिर्भर होने पर ही प्रदेश व देश आत्मनिर्भर होगा। मां नर्मदा के आशीर्वाद से किसानों की आय को दुगुना करने व उनके खुशहाली के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। किसानों के उत्थान के लिए प्रदेश सरकार कृत संकल्पित है।

      इस अवसर उपसंचालक कृषि श्री जितेन्द्र सिंह सहित कृषि विभाग के अधिकारी कर्मचारी  उपस्थित रहें।