राष्ट्रीय किसान मोर्चा किसान विरोधी काले कानून के विरोध में धरना दिया

 अयोध्या प्रसाद रावत बबलू रावत मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी महासचिव ने आज पीपल चौक पर राष्ट्रीय किसान मोर्चा किसान विरोधी काले कानून के विरोध में धरना दिया और कहा कि कोरोना काल के दौरान


सभी जन विरोधी काला कानून को वापस करने के लिए किसान को देशव्यापी जन आंदोलन करना पड़ रहा है जो 550 जिला मुख्यालय पर एक साथ सात दिवसीय कार्यक्रम 11 1 2021 से दिनांक 16 1 2021 तक लगातार धरना प्रदर्शन एवं 17 1 2021 को पूरी शक्ति के साथ रैली प्रदर्शन किया जाना है आज देश में किसान सड़क पर है और सरकार कुर्सी पर है 3 6 2020 को किसान विरोधी तीन अध्यादेश पारित करने के लिए कोरोना महामारी लॉकडाउन दौरान बिल लोकसभा में रखा गया जिसे लोकसभा में एनडीए एंड यूपीएस के लोगों ने 543 लोकसभा सदस्यों ने बगैर चर्चा बहस किए दिनांक 5 6 2020 को पास करने का कार्य 4 सितंबर माह 2020 के आखिरी सप्ताह में उपरोक्त पारित अध्यादेश को कानूनी ने रूप देने के लिए राज्यसभा में रखा गया उस समय राज्यसभा सदस्यों की संख्या कुल 245 थी यूपीए गठबंधन के पास राज्यसभा संख्या बल सबसे अधिक 225 की थी एनडीए के पास मात्र 115 थे तथा अन्य दलों की राज्यसभा सदस्य संख्या मात्र 5 ही थी भाजपा नेतृत्व राज्यसभा में बहुमत से काफी पीछे थी उसके बाद भी काला कानून पास करना बहुत ही चिंता का विषय है जिससे आज देश के किसान सड़कों पर हैं वहीं दूसरी ओर युवा बेरोजगारों पर सवाल उठाते हुए कहा कि हमारे देश के युवा वर्ग आज दर-दर भटक रहे हैं रोजगार पाने के लिए और भाजपा ने आज दिनांक तक जो कहा था वह बेरोजगारों के हक में नहीं किया इस धरना प्रदर्शन में राष्ट्रीय किसान मोर्चा के पदाधिकारी एवं किसान समाजसेवी योगेश साहू जी घूमर  कर इस कार्यक्रम को कराने वाले हमारे जांबाज एडवोकेट भाई इरफान बैग एवं मीडिया जगत से मोहम्मद रसिक खान सहारे जी आदि अन्य कर्मचारी किसान मौजूद रहे