हर घर जुड़ेगा नल कनेक्शन से,जल जीवन मिशन सरकार की महत्वकांक्षी योजनाः विश्राम मीणा

 


हर घर जुड़ेगा नल कनेक्शन से,जल जीवन मिशन सरकार की महत्वकांक्षी योजनाः विश्राम मीणा


जिला कलक्टर ने ली जिला जल एवं स्वच्छता मिशन की पहली बैठक


गिडा बाड़मेर से वागाराम बोस की रिपोर्ट 


बाड़मेर, 16 दिसम्बर। जल जीवन मिशन के तहत जिला जल एवं स्वच्छता मिशन की प्रथम बैठक बुधवार को जिला कलेक्टर कार्यालय में हुई। बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिला कलक्टर विश्राम मीणा ने कहा कि जल जीवन मिशन सरकार की एक महत्वकांक्षी योजना है। जिसके तहत एक मिशन के रूप में कार्य करते हुए साल 2024 तक हर घर में पाइप के द्वारा पेयजल उपलब्ध कराया जाएगा साथ ही उन्होंने कहा कि प्रत्येक गांव में ग्राम जल एवं स्वच्छता समिति का गठन किया जाकर अधिकाधिक लोगों को लाभान्वित किया जाए। 

जिला कलक्टर विश्राम मीणा ने निर्देश दिए कि जल जीवन मिशन को सफलता प्रदान करने के लिए जल्द से जल्द समस्त गांव में ग्राम जल एवं स्वच्छता समिति का गठन पुनर्गठन कर 5 नए सदस्य जोड़े जाएंगे, इसके लिए ग्रामीण विभाग, स्वास्थ्य विभाग, जलदाय विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग,  कृषि विभाग, शिक्षा विभाग तथा जनप्रतिनिधियों के साथ आपसी समन्वय बनाकर मिशन को कामयाब बनाएंगे तथा प्रत्येक घर पहुंचाने में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करें।बैठक में जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के अधीक्षण अभियंता एवं जिला जल एवं स्वच्छता मिशन के सदस्य सचिव जे सी व्यास ने बताया कि जल जीवन मिशन की सफलता हेतु यह परिकल्पना की गई है कि समुदाय ही जलापूर्ति अवसंरचना की आयोजना, क्रियान्वयन, प्रबंधन एवं संचालन और रखरखाव में मुख्य भूमिका निभाएगा। जिसके परिणाम स्वरूप हर ग्रामीण घर में जल उपलब्ध हो सकेगा। बैठक में जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी मोहन दान रतनू, अधीक्षण अभियंता प्रोजेक्ट विनोद भारती , विद्युत विभाग के अधिशाषी अभियंता अश्विन जैन, उप निदेशक कृषि जे आर भाखर,निदेशक महिला बाल विकास विभाग प्रहलाद सिंह राजपुरोहित, अधीक्षण अभियंता लिछुराम, सोनाराम बेनीवाल, हजारी राम बलवा, प्रताप सिंह, जल जीवन मिशन के जिला आईसी सलाहकार अशोक सिंह एवं पीएचईडी के अमृत बोहरा शामिल हुए।


26 दिसम्बर को जिले भर में आयोजित होगी ग्राम सभा

साल 2024 तक जिले के हर घर ढाणी को नल कनेक्शन से जोड़ने को लेकर सरकार द्वारा शुरू किए गए सबसे महत्वकांक्षी मिशन जल जीवन मिशन के क्रियान्वयन को लेकर जिला जल एवं स्वच्छता मिशन की प्रथम बैठक के आयोजन में बाड़मेर जिला कलेक्टर विश्राम मीणा ने 26 दिसम्बर को जिले की सभी ग्राम पंचायतों में ग्राम सभा का आयोजन कर ग्राम जल एवम स्वच्छता कमेटियों का अनुमोदन करने के साथ कमेटियों के बैंक खाते खुलवाने के निर्देश दिए। जिला कलेक्टर विश्राम मीणा ने बैठक में ग्राम जल एवम स्वच्छता समितियों की आगामी दिनों में होने वाले ट्रेनिग प्रोग्राम को भी जल्द शुरू करवाने के लिए निर्देश जारी किए।


हर महीने के अंतिम बुधवार को होगी बैठक

जल जीवन मिशन के सफल क्रियान्वयन के लिए इसकी हर महीने समीक्षा की जाएगी। मिशन की पहली महवत्पूर्ण बैठक में जिला कलेक्टर विश्राम मीणा ने हर महीने के अंतिम बुधवार को करने का निर्णय लिया। जिला कलेक्टर मीणा ने मासिक समीक्षा बैठक में विभिन्न विभागों को अपने दस्तावेजों के साथ उपस्थित रहने के निर्देश भी जारी किए। बैठक में हर गाँव ढाणी को नल कनेक्शन से जोड़ने के 2024 के लक्ष्य को सही समय पर पूर्ण करने के निर्देश दिए।


1365 युवाओं को किया जाएगा प्रशिक्षित

राजस्थान कौशल एवं आजीविका विकास निगम चयनित प्रशिक्षण प्रदाताओं के माध्यम से प्लम्बिंग, इलेक्ट्रीशियन एवं फिटर ट्रेड में बाड़मेर जिले में 1365 युवाओं को प्रशिक्षित किया जाएगा। प्रति ट्रेड के हिसाब से 455 युवाओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा। आगामी दिनों में राजस्थान कौशल एवं आजीविका विकास निगम और जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग का वाटर सेनिटेशन सपोर्ट ऑर्गेनाईजेशन राज्य जल एवं स्वच्छता मिशन राजस्थान बाड़मेर जिले में यह प्रशिक्षण आयोजित करवाएगा। इससे प्लम्बिंग, इलेक्ट्रीशियन एवं फिटर जैसी आधारभूत सेवाओं के सेवा प्रदाताओं का नितांत अभाव के चलते ग्रामीण अंचल के लोगों को शहरों की ओर रुख करना पड़ता है। दूसरी ओर गांव का युवा उच्च शिक्षा की तरफ न बढ़ पाने एवं बेरोजगारी की समस्या भी है। इस जल जीवन मिशन में ग्रामीण व स्थानीय युवाओं को इन क्षेत्रों में आधारभूत प्रशिक्षण दिया जाएगा जिससे युवाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध करवाए जा सके।