शासकीय नर्मदा महाविद्यालय में व्याख्यानमाला का आयोजन का शुभारंभ किया गया वाणिज्य के क्षेत्र में रोजगार की असीम संभावनाएं डॉ.ओ.एन.चौबे
शासकीय नर्मदा महाविद्यालय में व्याख्यानमाला का आयोजन का शुभारंभ किया गया वाणिज्य के क्षेत्र में रोजगार की असीम संभावनाएं डॉ.ओ.एन.चौबे

 शासकीय नर्मदा महाविद्यालय नर्मदा पुरम के वाणिज्य विभाग में विश्व बैंक परियोजना के अंतर्गत आयोजित व्याख्यानमाला के शुभारंभ पर महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ ओ एन  चौबे ने अपने शुभकामना संदेश में कहा कि वाणिज्य के क्षेत्र में रोजगार की असीम संभावनाएं हैं बैंकिंग बीमा ,प्रबंधन वित्त नियोजन ,पूंजी बाजार ,शेयर बाजार लेखांकन के क्षेत्र में रोजगार के अवसर उपलब्ध है। विद्यार्थी को यथासंभव प्रयास करना चाहिए। विभाग प्रमुख डॉ एस सी हरने ने कहा वाणिज्य के विद्यार्थी चार्टर्ड अकाउंटेंट,आईसीडब्ल्यू, चार्टर्ड फाइनेंशियल एनालिस्ट एवं विधि के क्षेत्र में भी अपना कैरियर बना सकते हैं ।व्याख्यान की  श्रृंखला में पहला व्याख्यान शासकीय शहीद भगत सिंह महाविद्यालय पिपरिया के वरिष्ठ प्राध्यापक डॉ ए के राकेशिया द्वारा वाणिज्य विषय के क्षेत्र में रोजगार के  विभिन्न अवसरों पर प्रस्तुत किया गया। उन्होंने कहा वाणिज्य सर्वव्यापी है जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में व्यावसायिक गतिविधियां होती हैं एवं अवसर भी बहुत हैं लेकिन इन अवसरों को भुनाने की क्षमता का विद्यार्थियों में अभाव है। दूसरा व्याख्यान के अंतर्गत डायरेक्टर चेंबर ऑफ इंश्योरेंस एवं बीमा विशेषज्ञ श्री शहीद खान ने  बीमा की उपयोगिता एवं संभावनाओं पर विद्यार्थियों को मार्गदर्शन प्रदान किया। उन्होंने कहा बीमा उद्योगआज घरेलूसामान ,जीवन ,सुरक्षा स्वास्थ्य, प्राकृतिक आपदा, वाहन के क्षेत्र में सुविधा उपलब्ध करा रहा है। सेवा का क्षेत्र व्यापक होने के कारण रोजगार की असीम संभावनाएं हैं बीमा एजेंट ,बीमा सर्वेयर और विकास अधिकारी के रूप में रोजगार के बहुत से अवसर हैं।वाणिज्य विभाग की प्राध्यापक डॉ मीना कीर ने नवीन शिक्षा पद्धति में इंटर्नशिप  की अनिवार्यता एवं प्रक्रिया पर प्रकाश डाला ,प्राध्यापक डॉ दिनेश श्रीवास्तव ने सामान्य दुर्घटना बीमा एवं स्वास्थ्य बीमा की उपयोगिता पर अपने विचार प्रस्तुत किए । व्याख्यानमाला में बड़ी संख्या में विद्यार्थियों ने उत्साह से अपनी उपस्थिति दर्ज की। इस अवसर पर डॉ प्रीति आनंद , डॉ रोशनी थापक,डॉ मालती पटेल, नीता वर्मा, चेतना पवार ,रीना सक्सेना उमेश सेन ,एसके झा उपस्थित थे।
Popular posts
साध्वी प्रेम बाईसा के जन्मदिवस पर संतों ने किया संगम वृक्षारोपण
चित्र
पिण्डजप्रवरारुढा चण्डकोपास्त्रकैर्युता | प्रसादं तनुते मह्यं चन्द्रघण्टेति विश्रुता
चित्र
मनसंगी साहित्य संगम की मासिक ई पत्रिका के सातवे अंक का शीर्षक "मतदान का महत्व" भव्य विमोचन समारोह।
चित्र
राष्ट्रपिता महात्मा गांधी देश के प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती सादगी से जिले भर में मनायी।
चित्र