पीड़ित महिलाओं की सहायता के लिए आगे आएं सखियांःलोकबंधु
*पीड़ित महिलाओं की सहायता के लिए आगे आएं सखियांःलोकबंधु*


वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए जिला कलक्टर एवं पुलिस अधीक्षक महिला सुरक्षा सखियो से हुए रूबरू।

बाड़मेर से वागाराम बोस की रिपोर्ट 


बाड़मेर,12 मार्च। पीड़ित महिलाओं की सहायता के लिए महिला सुरक्षा सखियांे को आगे आने की पहल करनी होगी। इस पुनित कार्य के लिए जिला मुख्यालय पर स्थित सखी केन्द्र के टोल नंबर पर सूचना दी जा सकती है। जिला कलक्टर लोकबंधू ने शनिवार को वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए महिला सुरक्षा सखियांे को संबोधित करते हुए यह बात कही।
जिला कलक्टर लोकबंधू ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की मंशा के अनुरूप महिला सशक्तिकरण के लिए सबको मिलकर प्रयास करने होंगे। उन्हांेने कहा कि बाड़मेर जिले मंे महिला प्रताड़ना के मामलांे के अलावा आत्महत्या के प्रकरण लगातार सामने आते हंै। कई बार छोटे-मोटे विवाद अथवा आवेश मंे आकर व्यक्ति आत्महत्या जैसे कदम उठा लेते है। ऐसे मामलांे मंे आपसी समझाइश के जरिए समस्या का समाधान करके ऐसी घटनाआंे को रोका जा सकता है। जिला कलक्टर लोकबंधू ने कहा कि जिला एवं पुलिस प्रशासन पीड़ित महिलाआंे को राहत पहुंचाने के साथ आत्महत्या की घटनाआंे को रोकने का प्रयास कर रहे है। महिला सुरक्षा सखियां भी इसमंे महत्वपूर्ण भागीदारी निभा सकती है। जिला कलक्टर ने जिले मंे आत्महत्या की घटनाआंे को रोकने के लिए चलाए जा रहे अनमोल जीवन अभियान की विस्तार से जानकारी देते हुए सखियांे से सखी केन्द्र के टोल फ्री नंबर पर इस तरह की सूचना देने की अपील की। जिला कलक्टर लोकबंधु ने बाड़मेर जिले को कुपोषण एवं एनिमिया मुक्त करने का संकल्प लेने का आग्रह किया। 
इस दौरान पुलिस अधीक्षक दीपक भार्गव ने समस्त जागरूक महिलाओं से सुरक्षा सखी बनने का आहवान करते हुए महिलाओं की समस्याआंे के समाधान मंे महत्वपूर्ण भूमिका निभाएं। उन्हांेने कहा कि कार्यकर्ता साथिन स्वयं सहायता समुह की महिलाएं संबंधित पुलिस थाने में जाकर स्वप्रेरणा से महिला सुरक्षा सखी बनने का संकल्प लें। ताकि मुख्यमंत्री की सोच के अनुसार राजस्थान के साथ साथ बाड़मेर जिला महिलाओं को सशक्त करने में अग्रणी बन सके। उन्होंने कहा कि कन्या भ्रूण हत्या, घरेलु हिंसा अधिनियम, दहेज उत्पीड़, बाल विवाह की रोकथाम के लिए सबको जागरूक होना होगा। उन्हांेने महिलाओं संबंधित योजनाओं का प्रचार-प्रसार करने की जरूरत जताई। उन्हांेने जिले के सामाजिक संगठनांे, स्वयं सेवी संस्थाओं तथा गणमान्य नागरिकों को भी आगे आने की अपील की। इससे पहले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए महिला सुरक्षा सखी मार्गदर्शिका का विमोचन करने के साथ विभिन्न सखियांे से संवाद करते हुए उनके अनुभव जाने। वीडियो कांफ्रेसिंग मंे जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी मोहनदान रतनू, अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ.पी.विश्नोई, आजीविका नवलाराम चैधरी, महिला एवं बाल विकास विभाग के उप निदेशक प्रहलादसिंह राजपुरोहित समेत विभिन्न विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।
इस दूरभाष पर दी जा सकती है सूचनाः अनमोल जीवन अभियान के तहत बाड़मेर जिले मंे बढ़ती आत्महत्या की घटनाआंे की रोकथाम के लिए अनमोल जीवन अभियान हेल्प लाइन 02982-222229, महिला गरिमा हेल्प लाइन 9830438100, जिला पुलिस कंट्रोल रूम 02982-221822, पुलिस हेल्प लाइन 100, वन स्टाप सखी केन्द्र 02982-221001, महिला थाना 02982-220092 पर सूचना दी जा सकती है।
Popular posts
साध्वी प्रेम बाईसा के जन्मदिवस पर संतों ने किया संगम वृक्षारोपण
चित्र
खाद्यान्न पर्ची की सूची में 31 मई तक जोड़ा जाएगा नवीन परिवारों को : मंत्री बिसाहूलाल सिंह* ---
चित्र
पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी रहे एक दिवसीय अवकाश पर विभिन्न मांगों को लेकर मुख्यमंत्री के नाम तहसीलदार को सौंपा ज्ञापन
चित्र
बाबा रामदेव अवतार धाम रामदेरिया काश्मीर मंदिर ट्रस्ट कमेटी द्वारा नवल किशोर गोदारा को निर्विरोध अध्यक्ष पद पर निर्वाचित किया गया।
चित्र
भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष के प्रथम नगर आगमन पर हुआ भव्य स्वागत
चित्र