नर्मदे हर एवं मैया पार लगा दे नैया के उद्घोष के बीच 10 हजार पंचक्रोशी यात्री से जिले रवाना
 हंडिया नर्मदे हर व मैया पार लगा दे नैया के जय उदघोष के साथ ही हरदा जिले से सोमवार सुबह से ही पंचक्रोशी यात्रा की विदाई के कार्यक्रम शुरु हो गया बताया जाता है कि शाम तक तकरीबन 10 हजार पंचकोशी यात्रियों को रवाना किया गया
सोमवार सुबह 6:00 वजे से पचंक्रोशी यात्रीयो ने पुण्य सलिल मे स्नान कर माँ नर्मदा का पूजन किया । नर्मदे हर एवं मैया पार लगा दे नैया के उद्घोष के बीच पंचक्रोशी यात्रियों को 50 नोकाओ के माध्यम से छोड़ने का कार्य प्रारंभ हो गया तत्पश्चात  प्रशासन द्धारा वडे वडे लाव लश्कर मे खडे  पंचक्रोशी यात्रीयो को पंक्ति वंध तरीके से कडी सुरक्षा के वीच विदा करने का कार्य शुरू किया । उन्हे नाव मे वैठाया गया। नाव तक जा रहे वुजुर्ग  पंचक्रोशी यात्रीयो को होमगार्ड के जवान हाथ पकडकर व समान आदि व्यवस्थ्ति ढंग से नाव तक पंहुचाते दिखाई पडे । एस डी एम श्रुति अग्रवाल ने वताया कि एक नाव मे २० से अधिक सवारी नही बैठाई गई है। व नाविको को 20  रूपये प्रति सवारी के मान से वसुले जाने के निदैश दिये गये हे। 
 उंचान घाट के लिए 50 से 60 नावो  मौजूद रही
एस डी एम एवं तहसीलदार ने संभाली सुरक्षा व्यवस्था
यात्रियों को कतार बद्ध तरीके से नोका तक पहुंचाते समय पुलिस एवं होमगार्ड के जवानों को सहयोग करने के लिए पहली मर्तबा एसडीएम श्रुति अग्रवाल एवं  तहसीलदार अर्चना शर्मा भी घाट पर आ गई जहां उन्होंने महिलाओं को समझाइश देकर शांतिपूर्ण ढंग से नोका तक पहुंचाने में मदद की
 पंचक्रोशी यात्रीयो को पार उतारने वाली नावो के दो नगर सेना के जवान लाईफ जैकेट के साथ दिखाई पडे। वही नोकाओ में सवारी बैठने के पश्चात होमगार्ड के जवान लोगों को धकाते हुए दिखाई पड़े।
गांव गांव हुआ पंचकोशी का अद्भुत स्वागत, खंडवा निवासी पंचक्रोशी यात्री अवधेश शुक्ला ने बताया कि नेमाबर से लेकर उचान घाट तक  देवास एबं हरदा जिले में गांव गांव जगह-जगह इतना भव्य स्वागत हुआ यहां पर ऐसा नजारा दिखाई पड़ा मानो मां नर्मदा के तट पर रहने वाले बाकई  मां के भक्तों की सच्ची सेवा करते हैं
उंचान घाट पर रही स्वास्थ व्यवस्था
सामूदायकि स्वास्थ केन्द्र हंडिया द्धारा उंचान घाट पर इस वर्ष स्वास्थ व्यवस्था के कडे इंतजाम किये गये । इस दौरान बीएमओ डॉ पंकज कोटिया डॉक्टर रिंकू पटेल स्टाफ के साथ पूरे समय मौजूद दिखाई पड़े साथ ही पंचक्रोशी यात्रा के साथ एम्वूलेस भी मौजूद रही। पंचकोशी यात्रियों की सुरक्षा व्यवस्था के लिए एडिशनल एसपी गजेंद्रसिंह वर्धमान एसडीएम श्रुति अग्रवाल एसडीओपी हिमानी मिश्रा तहसीलदार अर्चना शर्मा टी आई सुशील पटेल, आर आई संतोष पथोरिया  श्रद्धालुओं की सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेते दिखाई पड़े कल होगी पूर्ण विदाई जिला प्रशासन हरदा द्वारा आज करीब 10,000 पंचकोशी यात्रियों को विदा कर दिया गया वहीं शेष बचे करीबन 5000 से 7000 पंचकोशी यात्रियों ने अभी उचान, नयापुरा एवं आसपास के क्षेत्र में डेरा डाल रखा है जिन्हें  जिला प्रशासन द्वारा मंगलवार को रवाना किया जाएगा
Popular posts
शासकीय नर्मदा महाविद्यालय में व्याख्यानमाला का आयोजन का शुभारंभ किया गया वाणिज्य के क्षेत्र में रोजगार की असीम संभावनाएं डॉ.ओ.एन.चौबे
पिण्डजप्रवरारुढा चण्डकोपास्त्रकैर्युता | प्रसादं तनुते मह्यं चन्द्रघण्टेति विश्रुता
चित्र
पोटाची खळगी भरण्यासाठी रेल्वे गाड्यांमध्ये खेळणी विकणाऱ्या अथवा गायन, संगीत कला सादर करणाऱ्या वांगणी येथील सुमारे ४५० अंध बांधवांसोबत कार्य सम्राट सांसद डॉ शिंदे ने साजरी केली दिवाळी
चित्र
अवैध उत्खनन के विरुद्ध जिला प्रशासन की बड़ी कार्रवाई,
राष्ट्रपिता महात्मा गांधी देश के प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती सादगी से जिले भर में मनायी।
चित्र