उप मुख्यमंत्री ने उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग द्वारा आयोजित राज्य स्तरीय किसान मेला/संगोष्ठी/प्रदर्शनी का उद्घाटन तथा लगायी गयी प्रदर्शनी का अवलोकन किया
,कौशाम्बी, की खबरें
मा0 उप मुख्यमंत्री ने उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग द्वारा आयोजित राज्य स्तरीय किसान मेला/संगोष्ठी/प्रदर्शनी का उद्घाटन तथा लगायी गयी प्रदर्शनी का अवलोकन किया
मा0 उप मुख्यमंत्री जी द्वारा सेन्टर फाॅर एक्सलेन्स एवं भारत सरकार द्वारा स्वीकृत 14 इन्क्यूबेशन सेन्टर का शिलान्यास किया

एकीकृत बागवानी मिशन के अन्तर्गत इन्डो-इजराइल सेन्टर आॅफ एक्सीलेन्स फार फ्रूट कोखराज, कौशाम्बी का शिलान्यास किया

“अमरूद” उत्पादन एवं प्रसंस्करण के उन्नत तकनीकी “साहित्य” का विमोचन किया

मा0 उप मुख्यमंत्री द्वारा किसानों को ऋण स्वीकृत प्रमाण पत्र वितरितएवं प्रगतिशील किसानों को शाल ओढ़ाकर सम्मानित किया गया

कौशाम्बी सहित उ0प्र0 के लिए आज का दिन ऐतिहासिक

डबल इंजन की सरकार का लक्ष्य किसानों की प्रगति करना एवं उनकी आमदनी को दोगुना करना

किसान भाई निरन्तर आगे बढ़ते रहिए सरकार हर कदम पर आपके साथ कन्धे से कन्धा मिलाकर खड़ी है

प्रदेश के मा0 उप मुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य जी ने उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग द्वारा आयोजित राज्य स्तरीय किसान मेला/संगोष्ठी/प्रदर्शनी का द्वीप प्रज्ज्वलित कर उद्घाटन तथा लगायी गयी प्रदर्शनी का अवलोकन कर उत्साहवर्धन एवं उत्पादों की प्रशंसा की।
मा0 उप मुख्यमंत्री जी द्वारासेन्टर फाॅर एक्सलेन्स एवं भारत सरकार द्वारा स्वीकृत 14 इन्क्यूबेशन सेन्टर का शिलान्यास किया गया, जोप्रदेश के चयनित 14 जनपदों-कौशाम्बी, अलीगढ़, अयोध्या, बस्ती, झांसी, गोरखपुर, लखनऊ, मेरठ, वाराणसी, बरेली, आगरा, कानपुर देहात, सहारनपुर एवं मिर्जापुर में स्थापित की जायेगी।इसके साथ ही उन्हांेने एकीकृत बागवानी मिशन के अन्तर्गत इन्डो-इजराइल सेन्टर आॅफ एक्सीलेन्स फार फ्रूट कोखराज, कौशाम्बी का शिलान्यास किया। उन्होंने“अमरूद” उत्पादन एवं प्रसंस्करण के उन्नत तकनीकी “साहित्य” का विमोचन किया तथा किसानों को विभिन्न कार्यों हेतु ऋण स्वीकृत प्रमाण पत्र वितरित किये एवं विभिन्न जनपदों से आये हुए प्रगतिशील किसानों को शाल ओढ़ाकर सम्मानित किया।  
मा0 उप मुख्यमंत्री जी ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए प्रदेश के विभिन्न जनपदों से आये हुए प्रगतिशील किसानों का हार्दिक अभिनन्दन करते हुए कहा कि आप सभी ने खाद्य प्रसंस्करण के क्षेत्र में क्रान्ति लाने का कार्य किया है तथाकौशाम्बी सहित उ0प्र0 के लिए आज का दिन ऐतिहासिक दिन है। उन्होंने कहा कि जनपद कौशाम्बी एवं प्रयागराज का सुर्खा अमरूद प्रदेश एवं देश सहित पूरे विश्व में प्रसिद्ध है, इस विश्व प्रसिद्ध सुर्खा अमरूद को और अधिक बढ़ावा देने के लिए हर सम्भव प्रयास किये जा रहे हंै।उन्होंने कहा कि डबल इंजन की सरकार का लक्ष्य है, किसानों की प्रगति करना एवं उनकी आमदनी को दोगुना करना। उन्होंने कहा कि किसान भाई नयी-नयी तकनीक को अपनाकर उन्नतशील खेती करके अपनी आमदनी में बहुत ही ज्यादा वृद्धि कर सकतें हैं, जिसके फलस्वरूप वे अपने बच्चांे को अच्छी से अच्छी शिक्षा प्रदान करने में भी सक्षम हो सकते हैं, इस दिशा में मा0 प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में निरन्तर कार्य किया जा रहा है।
मा0 उप मुख्यमंत्री ने कहा कि कौशाम्बी में लगभग 2118 हेक्टेयर क्षेत्रफल में अमरूद एवं 832 हेक्टेयर क्षेत्रफल में आम की बागवानी होती है, जिससे क्रमशः 35.36 हजार मैट्रिक टन अमरूद एवं 10.47 हजार टन आम का उत्पादन होता है। इसी प्रकार टिश्यू कल्चर केला की लगभग 07 हजार हेक्टेयर में खेती होती है, जिससे लगभग 332.15 हजार मैट्रिक टन का उत्पादन होता है। उन्होंने कहा कि अधिकारियों को निर्देश दिये गये है कि विशेष अभियान चलाकर केले की खेती करने वाले सभी किसानों को सूचीबद्ध किया जाय, कोई किसान छूटने न पाये। उन्होंने कहा कि सरकार की योजनाओं को सीमित क्षेत्र में नहीं बल्कि असीमित क्षेत्र में बढ़ाया जाय, इसके लिए जितने बजट की आवश्यकता पड़ेगी, प्राविधान किया

जायेगा। उन्होंने कहा कि जनपद में कौशाम्बी में फलों एवं सब्जियों की खेती में आधुनिक विकास के उद्देश्य से इण्डो-इजराइल सेंटर आॅफ एक्सीलेंस स्थपित किया जा रहा है, इस योजना की लागत लगभग 10 करोड़ रू0 है तथा इस सेन्टर से प्रतिवर्ष एक लाख फलदार पौधों का उत्पादन किया जायेगा, जिससे लगभग 1000 किसान लाभान्वित होंगे तथा इस सेंटर पर हाइटेक नर्सरी, पाली हाउस की स्थापना, नेट हाउस की स्थापना, प्रदर्शन ब्लाॅक की स्थापना एवं कृषक प्रशिक्षण की सुविधा उपलब्ध होगी। इसी प्रकार 08 लाख सब्जी पौध उत्पादन भी किया जायेगा, जिससे लघु एवं सीमान्त कृषक लाभान्वित होंगे एवं अधिक मात्रा में फसलों का उत्पादन कर सकंेगे। उन्होंने कहा कि हमारा देश तभी आगे बढ़ेगा, जब हमारे देश के किसानों की आमदनी में वृद्धि होगी, इसके लिए केन्द्र एवं प्रदेश सरकार किसानों के हित में निरन्तर कार्य कर रही है। उन्हांेने कहा कि हमारे लिए सभी किसान एक समान हैं।
मा0 उप मुख्यमंत्री ने कहा कि शिलान्यास हो रहे इन्क्यूबेशन सेन्टरों में पेठा, नमकीन, आलू आधारित उत्पाद, दुग्ध आधारित उत्पाद, बेकरी, गुड़, हल्दी, सिरका, मक्का आधारित उत्पाद, केला मसाले, आम, तिलहन, टमाटर, मधु, फल एंव सब्जी आदि आधारित प्रोसेसिंग लाइनों की स्थापना की जायेगी। इन सेन्टरों के माध्यम से किसानों द्वारा उत्पादित फसलांे की सफाई, ग्रेडिंग, पैकेजिंग मिलिंग, फ्लेकिंग, थर्मल प्रोसेसिंग, ब्राइनिंग इत्यादि के साथ-साथ उनकों कोल्ड स्टोर में रखने की सुविधा एवं आधुनिक पैकेजिंग से सुसज्जित उत्पाद तैयार कराये जायंेगे।
मा0 उप मुख्यमंत्री ने कहा कि उ0प्र0 में आम 2.8 लाख हेक्टेयर भूमि में होता ह,ै जिसका उत्पादन 48 लाख मै0टन है, जो सम्पूर्ण भारतवर्ष में उत्पादन का 26 प्रतिशत है। केले का उत्पादन 73 हजार हेक्टेयर में किया जाता है, जिसका उत्पादन 33.9 लाख मै0टन है। अमरूद 52 हजार हेक्टेयर में उगाया जाता है, जिसका उत्पादन लगभग 10 लाख मै0टन है। आॅवला का उत्पादन 36700 हेक्टेयर में किया जाता है, जिसका उत्पादन 4.3 लाख मै0टन है तथा आलू का उत्पादन उ0प्र0 में लगभग 160 लाख मै0टन है, जो सम्पूर्ण भारत वर्ष का लगभग 34 प्रतिशत है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा इस क्षेत्र में अपार सम्भावनाओं के परिप्रेक्ष्य में खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र में कई महत्वाकाॅक्षी व जनापयोगी योजनाएं संचालित की जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना के अन्तर्गत पाॅच वर्ष की अवधि में रू0 2000 करोड़ के बजट के साथ रू0 10 हजार करोड़ की निवेश के उद्देश्य से संचालित केन्द्र प्रायोजित योजना है तथाप्रदेश में 05 वर्षो में 37.805 सूक्ष्म खाद्य प्रसंस्करण इकाइयों के उन्नयन का लक्ष्य है। वर्ष 2021-22 में 9400 इकाइयाॅ स्थापित किये जाने का लक्ष्य है। उन्होंने कहा कि योजना का मुख्य लक्ष्य सूक्ष्म उद्यमों की प्रतिस्पर्धात्मकता को बढ़ाना एवं आधुनिक बनाना तथा सामान्य बुनियादी ढांचे का निर्माण, बैकवर्ड फारवर्ड लिंकेज, ब्राण्डिग और विपणन के लिए एफपीओ/एसएचजी/सहकारी समितियों को सपोर्ट करना है।उन्होंने किसान भाइयों से कहा कि आप निरन्तर आगे बढ़ते रहिए सरकार हर कदम पर आपके साथ कन्धे से कन्धा मिलाकर खड़ी है। उन्होंने कहा कि दैवी आपदा के तहत किसानों को फसल की क्षति होती है तो उन्हें शीघ्र से शीघ्र सहायता राशि देने का प्रयास किया जाता है।
इस अवसर पर मा0 सांसद श्री विनोद सोनकर, मा0 विधायकगण श्री संजय गुप्ता, श्री लाल बहादुर एवं श्री शीतला प्रसाद उर्फ पप्पू पटेल, भाजपा जिलाध्यक्षा श्रीमती अनीता त्रिपाठी सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण तथा जिलाधिकारी श्री सुजीत कुमार, पुलिस अधीक्षक श्री राधेश्याम विश्वकर्मा सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

मा0 उप मुख्यमंत्री ने रू0 1346.66 करोड़ लागत की कुल 542 परियोजनाआंे का शिलान्यास, लोकार्पण कर जनपदवासियों को विकास की दी सौगात

मा0 उप मुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य जी ने लोक निर्माण विभाग की रू0 1266.09 करोड़ लागत की कुल 498 परियोजनाओं का शिलान्यास तथा रू0 74.48 करोड़ लागत की कुल 41 परियोजनाओं का लोकार्पण किया तथा उ0प्र0 सेतु निगम लि0 की 3.98 करोड़ लागत की 02 सेतु परियोजनाआंे का लोकार्पण एवं उ0प्र0 राजकीय निर्माण निगम लि0 की रू0 2.11 करोड़ लागत की एक परियोजना का लोकार्पण किया। इस प्रकार उन्होंने कुल रू0 1346.66 करोड़ लागत की कुल 542 परियोजनाआंे का शिलान्यास/लोकार्पण कर जनपदवासियों को विकास की सौगात दी।
इस अवसर पर मा0 सांसद श्री विनोद सोनकर, मा0 विधायकगण श्री संजय गुप्ता, श्री लाल बहादुर एवं श्री शीतला प्रसाद उर्फ पप्पू पटेल, भाजपा जिलाध्यक्षा श्रीमती अनीता त्रिपाठी सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण तथा जिलाधिकारी श्री सुजीत कुमार, पुलिस अधीक्षक श्री राधेश्याम विश्वकर्मा सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहे।
 यूपी स्टेट से मिडिया प्रभारी पवन मिश्रा की रिपोर्ट
Popular posts
साध्वी प्रेम बाईसा के जन्मदिवस पर संतों ने किया संगम वृक्षारोपण
चित्र
खाद्यान्न पर्ची की सूची में 31 मई तक जोड़ा जाएगा नवीन परिवारों को : मंत्री बिसाहूलाल सिंह* ---
चित्र
पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी रहे एक दिवसीय अवकाश पर विभिन्न मांगों को लेकर मुख्यमंत्री के नाम तहसीलदार को सौंपा ज्ञापन
चित्र
बाबा रामदेव अवतार धाम रामदेरिया काश्मीर मंदिर ट्रस्ट कमेटी द्वारा नवल किशोर गोदारा को निर्विरोध अध्यक्ष पद पर निर्वाचित किया गया।
चित्र
भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष के प्रथम नगर आगमन पर हुआ भव्य स्वागत
चित्र