एस एम एस कॉलेज में सात दिवसीय एनएसएस शिविर का शुभारंभ।
एस एम एस कॉलेज में सात दिवसीय एनएसएस शिविर का शुभारंभ।
"आत्म निर्भर भारत के लिए खुद को बनाना होगा सुदृढ़ :-डॉ प्रवीण वर्मा।
बराड़ा ,24, दिसंबर(जयबीर राणा थंबड़)
संत मोहन सिंह ख़ालसा लबाना गर्ल्स कॉलेज बराड़ा में एनएसएस यूनिट की ओर से सात दिवसीय एनएसएस कैम्प का शुभारंभ कॉलेज प्रिंसिपल डॉ प्रवीण वर्मा ,कमेटी प्रधान सरदार दीदार सिंह के दिशा निर्देश में  एनएसएस कैंप की प्रोग्राम ऑफिसर डॉ नवनीत कौर और  सीमा सैनी की देखरेख में किया गया। सात दिवसीय एनएसएस कैंप की मुख्य थीम "आत्मनिर्भर भारत है" इसी के साथ अमृत महोत्सव और नशा मुक्ति के बारे में जागरूक करना है।कॉलेज प्रिंसिपल डॉ प्रवीण वर्मा ने इस अवसर पर सभी का अभिनन्दन किया।उन्होंने बताया कि एनएसएस का मुख्य उद्देश्य स्वयं के लिए नहीं अपितु दूसरों के लिए काम करना है। थीम आत्म निर्भर भारत का उद्देश्य अपने आपको सुदृढ़ करना है अगर आप हर क्षेत्र में सशक्त है तभी आप दूसरो की मदद कर सकते हो।सात दिवसीय कैम्प में दो दिन प्राथमिक चिकित्सा की ट्रेनिंग दी जाएगी।कैंप के प्रथम दिन प्रोग्राम ऑफिसर डॉ नवनीत कौर ने कॉलेज छात्राओं को एनएसएस के महत्व के बारे में बताते हुए कहा भारत को आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी  ने 12 मई 2020 को इस अभियान की घोषणा की थी । अंबाला रेड क्रॉस सोसाइटी से आए एन के शर्मा ने कॉलेज छात्राओं को प्राथमिक चिकित्सा के बारे में बताते हुए कहा कि हमारा प्राथमिक चिकित्सा देना का उद्देश्य जान बचाना, स्थिति बिगड़ने से बचाना, ठीक होने में मदद करना है। प्राथमिक चिकित्सा देने से पहले हमे प्राथमिक चिकित्सा के नियम श्वसन नली की जांच, बी -बार्थिंग, परिसचरण कि जाँच अनिवार्य है। फर्स्ट ऐड देते वक्त हो सके तो  घायल व्यक्ति के खून, लार और अन्य शारीरिक तरल पदार्थों से दूर रहें। अगर ऐसा संभव न हो, तो अपने आप को सुरक्षित रखने के लिए दस्ताने पहनें। प्राथमिक चिकित्सा देने के बाद, हमेशा अपने हाथ अच्छी तरह से धोएं और अपनी आंखों, नाक या मुंह को हाथ न लगाएं। इसके साथ-साथ प्राथमिक चिकित्सा देने के बाद बिना हाथ धोए खान-पान न करें।इसी के साथ रैड क्रॉस सेल को इंचार्ज  सरला सेठी ने भी कॉलेज छात्राओं को प्राथमिक चिकित्सा के नियमों को सीखने के साथ-साथ अपने जीवन में अपनाने का आह्वान किया। इस मौके पर कॉलेज प्रबंधक कमेटी के पदाधिकारियों ,सदस्यों, स्टाफ सहित छात्राएं उपस्थित रही।


Popular posts
कारखानों ,वेयरहाउस की छत के ऊपर गोल-गोल क्या घूमता रहता है
चित्र
शासकीय नर्मदा महाविद्यालय में व्याख्यानमाला का आयोजन का शुभारंभ किया गया वाणिज्य के क्षेत्र में रोजगार की असीम संभावनाएं डॉ.ओ.एन.चौबे
पोटाची खळगी भरण्यासाठी रेल्वे गाड्यांमध्ये खेळणी विकणाऱ्या अथवा गायन, संगीत कला सादर करणाऱ्या वांगणी येथील सुमारे ४५० अंध बांधवांसोबत कार्य सम्राट सांसद डॉ शिंदे ने साजरी केली दिवाळी
चित्र
अवैध उत्खनन के विरुद्ध जिला प्रशासन की बड़ी कार्रवाई,
पिण्डजप्रवरारुढा चण्डकोपास्त्रकैर्युता | प्रसादं तनुते मह्यं चन्द्रघण्टेति विश्रुता
चित्र