आर टी आई कार्यकर्ता के पैरों में कीलें ठोंकी ,सी एम ओ ने रिपोर्ट तलब की, मानव अधिकार आयोग ने कलेक्टर एस पी को जारी किये नोटिस
*आर टी आई कार्यकर्ता के पैरों में कीलें ठोंकी ,सी एम ओ ने रिपोर्ट तलब की, मानव अधिकार आयोग ने कलेक्टर एस पी को जारी किये नोटिस*

परेऊ बाडमेर से वागाराम बोस की रिपोट    


*बाड़मेर।* सरहदी जिले के गिड़ा जसोड़ो की बेरी गांव निवासी आर टी आई कार्यकर्ता अमराराम का अपहरण कर बर्बरतापूर्वक मारपीट कर फेंक दिया। ग्राम पंचायत में व्याप्त भ्रष्टाचार व अवैध शराब बेचने की शिकायत का बदला लेने के लिए बर्बरतापूर्वक मारपीट की। दोनों पैर व एक हाथ तोड़ने के साथ पैरों में हथोड़े से लोहे की कीलों को ठोक दिया। करीब 50 घंटे बीते जाने के बाद भी पुलिस आरोपियों को पकड़ नहीं पाई है। आर टी आई कार्यकर्त्ता के साथ मारपीट मामले में मुख्यमंत्री कार्यालय ने रिपोर्ट तलब की,
बाड़मेर सरहदी बाड़मेर जिले के गिड़ा थाना क्षेत्र में आर टी आई कार्यकर्त्ता अमराराम पर असामाजिक तत्वों द्वारा हमला करने और उसके पैरो में कीलें ठोकने और सरिये से पेअर तोड़ने  में मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा जिला कलेक्टर से तथ्यात्मक रिपोर्ट तलब की ,जिला कलेक्टर लोक बंधु ने बताया की पुरे मामले की रिपोर्ट मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा चाही गयी हैं ,इससे पूर्व मानव अधिकार आयोग ने भी नोटिस जारी कर जिला कलेक्टर ,पुलिस अधीक्षक से रिपोर्ट मांगी 
अब अमराराम मामले में राजस्थान राज्य मानव अधिकार आयोग ने राजस्थान पुलिस महानिदेशक, आबकारी आयुक्त उदयपुर, बाड़मेर कलेक्टर व एसपी से तथ्यात्मक रिपोर्ट मांगी है। नोटिस में बताया कि हमले के पीछे अपराधियों व पुलिस की आपसी गठजोड़ उजागर हो रही है। नोटिस में 5 सवालों के जवाब 28 दिसंबर तक मांगे हैं।

गिड़ा के अमराराम मामले में राजस्थान राज्य मानव अधिकार आयोग के अध्यक्ष जस्टिस गोपाल कृष्ण व्यास ने ओमाराम बंजारा चोटिया पाली के एप्लिकेशन पर नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। आयोग ने महानिदेशक पुलिस व एसपी से जवाब मांगा है कि अमराराम गोदारा के पैरों में कीलें गाड़ने वाले अपराधियों के खिलाफ क्या कार्रवाई की गई है। शराब माफियों के खिलाफ आज दिन तक क्या-क्या कार्रवाई हुई है। आयुक्त आबकारी उदयपुर से जवाब मांगा कि बाड़मेर में अवैध शराब माफिया को लेकर अमराराम की शिकायत पर क्या-क्या कार्रवाई की गई। वहीं जिला कलेक्टर से जवाब मांगा कि आरटीआई कार्यकर्ता अमराराम पंचायती राज विभाग के संबंध में किन-किन गड़बड़ियों के संबंध में शिकायत की उस पर क्या कार्रवाई की गई।

सरपंच व अवैध शराब के खिलाफ की थी शिकायत

आरटीआई कार्यकर्ता अमराराम ने पुलिस को रिपोर्ट दी कि 21 दिसंबर को जोधपुर से वापस अपने गांव उतरा था। शाम 7 बजे घर लौट रहा था। बस से उतर कर पैदल ही जसोड़ो की बेरी जा रहा था। इसी दौरान एक सफेद रंग की स्कार्पियो में 6 लोग मुंह बांधे हुए उतरे और पीछा कर उसे पकड़ गाड़ी में डाल दिया। अपहरण कर सुनसान जगह पर ले गए। दो लोग गाड़ी में बैठे रहे। बदमाशों ने कहा पिछले काफी दिनों से कुंपलिया पूर्व सरपंच नगराज, वर्तमान सरपंच ममता, मानाराम पुत्र भोलाराम, नेमाराम लखारा शराब ठेकेदार पेरऊ के खिलाफ शिकायतें और आरटीआई लगा रहे हो। आज जिंदा नहीं छोड़ेगे। सभी 8 लोगों ने सरिया, लाठियों, चैन, वायर से बर्बरतापूर्वक हमला कर मारपीट करने लगे।

जोधपुर में चल रहा है इलाज

आरटीआई कार्यकर्ता के साथ बर्बरतापूर्वक मारपीट करने के बाद उसे परेऊ अस्पताल में लाया गया। वहां पर प्राथमिक उपचार के बाद उसे बालोतरा रेफर किया गया। वहां पर हालात गंभीर होने के कारण जोधपुर रेफर कर दिया गया। जोधपुर एमडीएम अस्पताल में भर्ती है। एसपी दीपक भार्गव ने मामले की गंभीरता को देखते हुए एएसपी नरपतसिंह को जोधपुर अस्पताल भेजा।

पुलिस इस प्रकरण को लेकर गंभीर हैं ,आरोपियों को पकड़ने के लिए चार टीमों का गठन कर तलाश में भेजी हैं ,आरोपी शीघ्र पकड़े जायेंगे ,इस तरह की वारदाते बर्दास्त नहीं होगी ,दीपक भार्गव ,पुलिस अधीक्षक बाड़मेर
Popular posts
कारखानों ,वेयरहाउस की छत के ऊपर गोल-गोल क्या घूमता रहता है
चित्र
शासकीय नर्मदा महाविद्यालय में व्याख्यानमाला का आयोजन का शुभारंभ किया गया वाणिज्य के क्षेत्र में रोजगार की असीम संभावनाएं डॉ.ओ.एन.चौबे
पोटाची खळगी भरण्यासाठी रेल्वे गाड्यांमध्ये खेळणी विकणाऱ्या अथवा गायन, संगीत कला सादर करणाऱ्या वांगणी येथील सुमारे ४५० अंध बांधवांसोबत कार्य सम्राट सांसद डॉ शिंदे ने साजरी केली दिवाळी
चित्र
अवैध उत्खनन के विरुद्ध जिला प्रशासन की बड़ी कार्रवाई,
पिण्डजप्रवरारुढा चण्डकोपास्त्रकैर्युता | प्रसादं तनुते मह्यं चन्द्रघण्टेति विश्रुता
चित्र