बसपा के संभावित प्रत्याशी अतुल द्विवेदी ने महाराजा बिजली पासी का मनाया जन्मदिन
*बसपा के संभावित प्रत्याशी अतुल द्विवेदी ने महाराजा बिजली पासी का मनाया जन्मदिन* 

चायल कौशांबी पिपरी थाना क्षेत्र के तिल्हापुर मोड़ स्थित मखाऊपुर  के मैदान में बसपा के संभावित प्रत्याशी अतुल द्विवेदी द्वारा महाराजा बिजली पासी की जयन्ती धूमधाम से मनायी गयी जिसके मुख्य अतिथि पूर्व मंत्री बाबू लाल भैरवा रहे व कौशांबी जिले के अनेकों सदस्य मौजूद थे एवं 
सभी अतिथियों द्वारा महाराजा बिजली पासी व बाबा साहब भीमराव अंबेडकर व मान्यवर कासीराम को माल्यापर्ण कर श्रद्धा सुवन अर्पण किया गया।
इस अवसर मुख्य अतिथि बाबूलाल बैरवा मौर्य समाज पर तंज कसते हुए कहां मौर्य समाज जो मूली गाजर धो रही है और भाजपा की कुर्सी के आगे पीछे घूम रहीं और  बीजेपी में उनको सम्मान नही मिलता है उसके बावजूद बीजेपी को बखान करते रहते है वही पूर्व की सपा सरकार पर निशाना साधते हुए कह पिछली सरकार तो गुण्डो की सरकार थी आए दिन लूट मार काट  हुआ करता था और हमारी  माताएं बहनें के साथ सारे आम इज्जत लूटी जाती थी और कहा बहन कुमारी मायाबाती जी की भी आबरू लूटने का काम किया गया था  बहन कुमारी मायावती के शासन काल मे  कोई गुंडई नही कर पता था और शोषित और कमजोर समाज के लोगों के लिये कार्य किया था पर वर्तमान भाजपा सरकार सिर्फ देश को लूट रही व बर्बाद कर रही और देश के युवाओं को धोखा दे रही है 
वहीं संभावित प्रत्याशी अतुल द्विवेदी ने कहा आप लोग हाथी के बटन को दबाकर हमारा हाथ मजबूत करें और  बहुजन समाज पार्टी की मुखिया बहन मायावती के हाथ मजबूत हो और आप के नेता के नेतृत्व में सरकार बन सके।
इस अवसर बसपा बाबूलाल बैरवा व मंझनपुर प्रभारी नीतू कनौजिया एवं बसपा के कार्यकर्तागण और उनके साथ लगभग 3 हजार लोगों की तादाद में जन सैलाब देखने को मिला

चायल तहसील से अम्बिकेश पाण्डेय की रिपोर्ट
Popular posts
कारखानों ,वेयरहाउस की छत के ऊपर गोल-गोल क्या घूमता रहता है
चित्र
शासकीय नर्मदा महाविद्यालय में व्याख्यानमाला का आयोजन का शुभारंभ किया गया वाणिज्य के क्षेत्र में रोजगार की असीम संभावनाएं डॉ.ओ.एन.चौबे
पोटाची खळगी भरण्यासाठी रेल्वे गाड्यांमध्ये खेळणी विकणाऱ्या अथवा गायन, संगीत कला सादर करणाऱ्या वांगणी येथील सुमारे ४५० अंध बांधवांसोबत कार्य सम्राट सांसद डॉ शिंदे ने साजरी केली दिवाळी
चित्र
अवैध उत्खनन के विरुद्ध जिला प्रशासन की बड़ी कार्रवाई,
पिण्डजप्रवरारुढा चण्डकोपास्त्रकैर्युता | प्रसादं तनुते मह्यं चन्द्रघण्टेति विश्रुता
चित्र