अपनी मनमानी की वजह से जाती है मुक बधिर जानवरों की जान
अपनी मनमानी की वजह से जाती है मुक बधिर जानवरों की जान
 जैसे तैसे फॉरेस्ट अधिकारी अपने कानून के हिसाब से लोगों को बोर्ड लगाकर समझाइश दे रहे हैं की रोड पर रुक कर जंगली जानवरों को खाने की चीजें ना दें जिससे कि रोड पर जानवरों का जमावड़ा होकर इनकी जान के दुश्मन ना बने फिर भी लोग शौकिया तौर से बिस्किट और कुछ खाने की चीजें देकर इन मुक बधिर जानवरों की जान से खिलवाड़ करते हुए नजर आने लगे बैतूल से इटारसी मुख्य मार्ग बरेठा पर अक्सर बंदरों को खाना और बिस्किट देने की खबरें कई बार देखी गई मगर अब यही चलन रानीपुर से बैतूल मुख्य मार्ग पर भी देखने को मिल रही है इस मार्ग पर फॉरेस्ट विभाग ने एक भी जगह बोर्ड नहीं लगाए जिससे कि राहगीरों को समझाइश दे सके की जंगल में जानवरों को रोड पर खाने की कोई भी सामग्री नहीं देनी चाहिए जिससे  अचानक से जानवरों के रोड पर आने से जानवरों की और खुद गाड़ी वालों की जान की हानि ना हो सके मगर यह लोग बंदरों को भगवान श्री हनुमान जी का अवतार समझकर कुछ ना कुछ खाने की चीज रोड पर फेंक कर इनका तमाशा देखने से नहीं चूकते ऐसे शौकिया लोगों को फॉरेस्ट विभाग विभिन्न धाराओं के तहत कार्रवाई करने का अब तक कोई प्रयास भी नहीं कर पाई जो की जरूरी है
 घोड़ाडोंगरी रिपोर्टर मनोज पवार
Popular posts
शासकीय नर्मदा महाविद्यालय में व्याख्यानमाला का आयोजन का शुभारंभ किया गया वाणिज्य के क्षेत्र में रोजगार की असीम संभावनाएं डॉ.ओ.एन.चौबे
पिण्डजप्रवरारुढा चण्डकोपास्त्रकैर्युता | प्रसादं तनुते मह्यं चन्द्रघण्टेति विश्रुता
चित्र
पोटाची खळगी भरण्यासाठी रेल्वे गाड्यांमध्ये खेळणी विकणाऱ्या अथवा गायन, संगीत कला सादर करणाऱ्या वांगणी येथील सुमारे ४५० अंध बांधवांसोबत कार्य सम्राट सांसद डॉ शिंदे ने साजरी केली दिवाळी
चित्र
अवैध उत्खनन के विरुद्ध जिला प्रशासन की बड़ी कार्रवाई,
राष्ट्रपिता महात्मा गांधी देश के प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती सादगी से जिले भर में मनायी।
चित्र