एक शाम अटल जी के नाम के साथ मंच साझा करने वाले महान विभूतियों का हुआ सम्मान।

 एक शाम अटल जी के नाम के साथ मंच साझा करने वाले महान विभूतियों का हुआ सम्मान।



बैतूल/सारणी। कैलाश पाटील


स्व० अटल बिहारी बाजपेयी के जन्म दिवस पर स्वर्गीय अटल बिहारी बाजपेयी फुटबॉल ग्राउंड पाथाखेड़ा में जन आदर्श स्पोर्ट्स क्लब एंड वेलफेयर सोसायटी तथा भाजपा कार्यकर्ताओं ने स्व० अटल जी का जन्म दिवस अटल जी के रचित कविताओं का पाठ कर एवं देश भक्ति गीतों के रंगारंग कार्यक्रम के साथ पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी बाजपेई का जन्मदिवस हर्षोल्लास के साथ मनाया। इस अवसर पर कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में आमला सारणी के विधायक डॉ योगेश  पंडाग्रे की उपस्थिति में सन 1980 में पाथाखेड़ा फुटबॉल ग्राउंड में पहली बार अटल जी की सभा में मंच साझा करने वाले भारतीय मजदूर संघ के राष्ट्रीय पदाधिकारी डॉक्टर बसंतराय, उस समय के सांसद सुभाष आहूजा, पूर्व विधायक रामजीलाल उईके एवं कालिकाराम का स्वागत तथा सम्मान का कार्यक्रम जनआदर्श  स्पोर्ट्स क्लब एंड वेलफेयर सोसायटी के संरक्षक रंजीत सिंह, सुधा चंद्रा, जीपी सिंह ,भीम बहादुर थापा, नन्हे सिंह के माध्यम से विधायक योगेश पंडाग्रे के कर कमलों के द्वारा इन चारों महान विभूतियों का साल श्रीफल के द्वारा स्वागत किया गया एवं स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मान किया गया। तथा उस समय को याद करते हुए डॉ योगेश पंडाग्रे जी ने सभी लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि हम सबके लिए आज का दिन बहुत महत्वपूर्ण है। आज अटल जी की जयंती पर सारणी के कार्यकर्ताओं के द्वारा हमारे वरिष्ठ को सम्मान का कार्यक्रम रखा गया है और इन महान विभूतियों का जिन्होंने उस समय अटल जी के साथ जब कांग्रेस की दमनकारी सरकार थी, इसी पाथाखेड़ा फुटबॉल ग्राउंड में मंच को साझा किया ।मैं आज इस मंच से इन सभी महान विभूतियों को चरण स्पर्श कर प्रणाम करता हूं । तथा आयोजन समिति को बहुत-बहुत धन्यवाद ज्ञापित करता हूं, कि इतनी सुंदर कार्यक्रम की रचना आयोजन समिति ने किया। आयोजन समिति ने मांग की है कि, स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेई जी के नाम से नामांकृत इस फुटबॉल ग्राउंड में अटल जी की प्रतिमा प्रतिस्थापित होनी चाहिए। बात बिल्कुल सही है ,मैं आज इस मंच से घोषणा करता हूं कि आगामी वर्ष उनकी जन्म जयंती कार्यक्रम में हम सभी इसी फुटबॉल ग्राउंड में उनकी प्रतिमा का लोकार्पण कर स्वर्गीय अटल जी की जन्म जयंती मनायेंगे।

 इस अवसर पर आयोजन समिति के संरक्षक रंजीत सिंह, जीपी सिह,सुधा चंद्रा,नन्हे सिह ,भीम बहादूर थापा ने कहा कि यहां उत्सव हम सभी प्रतिवर्ष इस फुटबॉल ग्राउंड में हर्षोउल्लाहस के साथ मिलकर मनायेंगे ।आमला सारणी विधायक डॉ योगेश पंडाग्रे जी के माध्यम से इस फुटबॉल ग्राउंड का जो जीर्णोधार किया गया है उसके लिए विधायक श्री योगेश पंडाग्रे जी को आयोजन समिति की ओर से कोटि कोटि धन्यवाद ,साथ ही सारणी नगर पालिका परिषद का भी बहुत-बहुत आभार।

इस अवसर पर प्रमुख रूप से अतिथि दीर्घा में विराजमान भाजपा जिला मीडिया प्रभारी विशाल बत्रा ,भाजपा अनुसूचित जनजाति मोर्चा के प्रदेश मंत्री दीपक उईके ,सारणी मुख्य नगरपालिका अधिकारी सी के मेश्राम ,भारतीय मजदूर संघ के प्रदेश पदाधिकारी महेंद्र सिंह ठाकुर ,विजेंद्र सिंह ,भारतीय मजदूर संघ के अध्यक्ष प्रमोद सिंह, महामंत्री ओंकार शुक्ला , सांसद प्रतिनिधी दशरथ सिह जाट,भाजपा ग्रामीण मंडल सारणी के अध्यक्ष मोहन मोरे, भाजपा घोड़ाडोंगरी मंडल के अध्यक्ष राजेश महतो, नवनिर्वाचित कालिमाई व्यापारी संघ  के अध्यक्ष रमेश हरोड़े ,देवेंद्र सोनी आदि समस्त अतिथियों को आयोजन समिति के द्वारा पुष्पगुच्छ देकर स्वागत किया गया तथा स्मृति चिन्ह भेंट कर सब का सम्मान किया गया 

इस अवसर पर प्रमुख रूप से भाजपा मंडलमहामंत्री किशोर बर्दे, प्रकाश शिवहरे ,विनय मदने, संनंदा पाटिल,प्रकाश डेहरिया संदीपझपाटे ,योगेश बर्डे ,सरोज विश्वकर्मा ,आशा डेहरिया , राकेश सोनी , मनोज ठाकुर ,राकेश बारंगे ,बाबू सिंह बिज्जू, सुधीर यादव ,मुकेश यादव,संन्जू लोन्हारे,अशोक बारगे,प्रवीण आमरवंशी , दिपक सनोटिया,राकेश वर्मा,अमित अग्रवाल, गणेश महेशकी ,दिलीप विश्वकर्मा ,राकेश रघुवंशी ,चांद अंसारी ,रवि यादव, शुभम ,सुनील मुखेड़ ,टैबू सहित अनेक कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Popular posts
कारखानों ,वेयरहाउस की छत के ऊपर गोल-गोल क्या घूमता रहता है
चित्र
शासकीय नर्मदा महाविद्यालय में व्याख्यानमाला का आयोजन का शुभारंभ किया गया वाणिज्य के क्षेत्र में रोजगार की असीम संभावनाएं डॉ.ओ.एन.चौबे
पोटाची खळगी भरण्यासाठी रेल्वे गाड्यांमध्ये खेळणी विकणाऱ्या अथवा गायन, संगीत कला सादर करणाऱ्या वांगणी येथील सुमारे ४५० अंध बांधवांसोबत कार्य सम्राट सांसद डॉ शिंदे ने साजरी केली दिवाळी
चित्र
अवैध उत्खनन के विरुद्ध जिला प्रशासन की बड़ी कार्रवाई,
पिण्डजप्रवरारुढा चण्डकोपास्त्रकैर्युता | प्रसादं तनुते मह्यं चन्द्रघण्टेति विश्रुता
चित्र