अतिक्रमण पर चला पीला पंजा, जेसीबी चलाकर आबादी भूमी से अबैध अतिक्रमण को प्रशासन ने किया ध्वस्त
*अतिक्रमण पर चला पीला पंजा, जेसीबी चलाकर आबादी भूमी से अबैध अतिक्रमण को प्रशासन ने किया ध्वस्त।*
 
पौषाल शिव।

शिव उपखंड के ग्राम पंचायत पोषाल मुख्यालय पर पिछले लम्बे समय से भूमाफियों द्वारा अवैध अतिक्रमण किया गया था। जिस पर शुक्रवार को प्रशासन ने जेसीबी चलाकर अवैध अतिक्रमण को हटाने की कार्रवाई की गई।
 अवैध अस्थाई अतिक्रमण को प्रशासन ने जेसीबी चलाकर ध्वस्त करने की कार्यवाही की जिससे गॉव के लंबे समय से सड़क किनारे भूमाफियों द्वारा अस्थाई रूप से अतिक्रमण किया हुआ था।  जिसकी शिकायत ग्राम पंचायत पौषाल की सरपंच श्रीमती भंवरी चौधरी ने प्रशासन को की जिसके बाद प्रशासन ने मौके पर पहुंच कर पूरे गॉव को अतिक्रमण मुक्त करवाया। शुक्रवार को भारी पुलिस जाब्ते के साथ मौके पर पहुंचे बाड़मेर कार्यकारी अधिकारी मोहन दान रतनू, शिव उपखंड अधिकारी महावीर सिहं जोधा, नायब तहसीलदार इंदाराम मेघवाल, विकास अधिकारी धनदान देथा, शिव थानाधिकारी ओमप्रकाश बिश्रनोई के नेतृत्व में ग्राम पंचायत पौषाल की आबादी भूमी अवैध रूप से अस्थाई अतिक्रमण को जेसीबी चलवा कर ध्वस्त करने की कार्यवाही की गई। जिसके कारण कस्बे के अतिक्रमियों व भूमाफियों में हड़कंप मच गया। पंचायत में अवैध पत्थरों को हटा कर ग्राम पंचायत की बाउड्री में इक्ठ्ठा किया गया। व आगे भी कारयवाही जारी है। इस मौके पर कार्यकारी अधिकारी मोहनदान रतनू, शिव उपखंड अधिकारी महावीर सिंह जोधा, नायब तहसीलदार इंदाराम मेघवाल, विकास अधिकारी धनदान देथा, शिव प्रधान मेहन्द्र जाॉणी, चन्द्र प्रकाश जॉणी, पौषाल सरपंच भंवरी चौधरी, खुमाराम सऊ, रसूल खान राजड़ पूर्व पंचायत समिति सदस्य सहित सैकड़ों ग्रामीण मौजूद रहे।

शिव से मूलाराम चौधरी की रिपोर्ट
Popular posts
विकास आयुक्त कार्यालय भोपाल से संयुक्त आयुक्त गोपाल अग्रवाल ने किया पन्ना जिले का भ्रमण
चित्र
साध्वी प्रेम बाईसा के जन्मदिवस पर संतों ने किया संगम वृक्षारोपण
चित्र
मेसर्स लक्ष्मी बीज उत्पादक सहकारी समिति मर्यादित के एक अमानक गेहूं बीज का जिले में भंडारण और विक्रय प्रतिबंधित
उपसरपंच पद को लेकर त्रिकोणीय मुकाबला
रामानुजगंज चोरपहरी घाट में दर्दनाक हादसा: तेज रफ्तार पिकअप कि टक्कर से सब्जी बेचकर साइकिल से घर लौट रहे किसान कि दर्दनाक मौत, तेज रफ्तार पर नहीं लग सकी लगाम, लगातार हो रहे हादसे।
चित्र