वाल्मीकि समुदाय की बच्ची के साथ शर्मसार करने वाली घटना के संबंध में राष्ट्रपति को लिखा पत्र।
वाल्मीकि समुदाय की बच्ची के साथ शर्मसार करने वाली घटना के संबंध में राष्ट्रपति को लिखा पत्र।
रिपोर्ट ललित जोशी छायाकार धर्मा चन्देल।
     नैनीताल । सरोवर नगरी नैनीताल  के वाल्मीकि समुदाय के लोगों ने  मनोनीत नगर पालिका के सभासद राहुल पुजारी के नेतृत्व में एक शिष्ट मंडल व हस्ताक्षर कर जिलाधिकारी  नैनीताल के माध्यम से राष्ट्रपति  को पत्र भेजा।बता दे कि देश की राजधानी दिल्ली में छावनी क्षेत्र में स्थित शमशान भूमि में विगत 2 अगस्त को वाल्मीकि समुदाय की 9 वर्षीय बच्ची शाम के समय शमशान घाट में स्थित आर ओ से पानी लेने गई थी,जहा पर शमशान घाट में कार्य करने वाले  दुष्कर्मियों ने पहले उसके साथ दुष्कर्म किया गया और अपना पाप छुपाने के उद्देश्य से उसे जिंदा ही जला भी दिया गया।इस हृदय को चीर देने वाली घटना से पूरे भारत के वाल्मीकि समुदाय में आक्रोश है।इसी संबंध में नैनीताल के वाल्मीकि समुदाय के लोगो ने अपने समुदाय की बच्ची को न्याय दिलाने के उद्देश्य से जिलाधिकारी  नैनीताल के माध्यम से राष्ट्रपति को पत्र लिख कर जल्द से जल्द उक्त दोषियों के खिलाफ घोर दंड देने का आग्रह किया और साथ ही देश में पिछड़े व दलित वर्ग के लोगों के साथ हो रही इस प्रकार की हृदय विदारक घटनाओं के प्रति रोष भी जताया।पत्र प्रेषित करने वालो में वाल्मीकि समुदाय नैनीताल से नगर पालिका परिषद नैनीताल में मनोनीत सभासद राहुल पुजारी,सफाई कर्मचारी यूनियन अध्यक्ष धर्मेश प्रसाद, महासचिव सोनू सहदेव,महेंद्र सिलेलान,राजन लाल,अमन टांक,विक्कीसीलेलान,विशाल,सनी आदि मौजूद रहे।