जिलाधिकारी ने विकास प्राथमिकता कार्यक्रमों की, की समीक्षा
कौशाम्बी, की खबर                                                      

जिलाधिकारी ने विकास प्राथमिकता कार्यक्रमों की, की समीक्षा 
निर्माण कार्यों को तेजी से पूर्ण करानेे के दिये निर्देश
लापरवाही बरतने पर अधिकारियों को प्रतिकूल प्रविष्टि देने के दिये निर्देश
जिलाधिकारी श्री सुजीत कुमार की अध्यक्षता में शुक्रवार को कलेक्टेªट स्थित सम्राट उदयन सभागार में विकास प्राथमिकता कार्यक्रमों की समीक्षा बैठक आयोजित की गयी। 
बैठक में बताया गया कि गौशालाओं में क्षमता से कम पशुओं को रखा गया है, जिस पर जिलाधिकारी ने मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को गौशालाओं की क्षमता के अनुरूप निराश्रित पशुओं को रखने के निर्देश दिये। उन्हांेने सभी अधिकारियों को निर्देशित किया कि उनके कार्यालय में अगर बिजली बिल बकाया है, तो वे धनराशि उपलब्ध होने की स्थिति में तत्काल बिजली बिल जमा करायें, धनराशि न होने की स्थिति में अपने विभाग से धनराशि की मांग करना सुनिश्चित करें। उन्होंने संबंधित कार्यदायी संस्थाओं के अधिकारियों से कहा कि जो भी निर्माण कार्य पूर्ण हो गये हैं उन्हें हैण्डओवर कर दिया जाय। उन्होंने सहायक श्रमायुक्त एवं कार्यदायी संस्थाओं को निर्देशित किया कि अधिक से अधिक श्रमिकों का पंजीयन करायें, जिससे वे विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं का लाभ प्राप्त कर सकंे। उन्होंने सभी संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देशित किया कि उनके यहां जितने भी ऋण आवेदन लंबित हैं, उन सभी का तत्काल निस्तारण कराना सुनिश्चित करें। 
जिलाधिकारी ने कार्य में लापरवाही बरतने पर डी0पी0एम0 को प्रतिकूल प्रविष्टि तथा ए0आर0को-आपरेटिव को राजस्व वसूली में लापरवाही बरतने पर प्रतिकूल प्रविष्टि देने के निर्देश दिये। उन्होंने अधिशासी अभियंता एवं सहायक अभियंता आर0ई0एस0 के बैठक में न आने पर प्रतिकूल प्रविष्टि देने के निर्देश दिये। उन्होंने जिला पंचायत राज अधिकारी को विभिन्न ग्राम प्रधानों के विरूद्ध प्राप्त शिकायतांे की जांच में लापरवाही बरतने एवं संबंधित ग्राम प्रधानों की जांच बहुत दिनों से लंबित होने पर नाराजगी प्रकट करते हुए जिला पंचायत राज अधिकारी को प्रतिकूल प्रविष्टि एवं जांच हेतु नामित अधिकारियों को एक सप्ताह के अन्दर जांच आख्या प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। 
जिलाधिकारी ने राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत समूह गठन में और प्रगति लाने के निर्देश दिये। उन्होने विभिन्न निर्माण कार्यों की प्रगति की समीक्षा के दौरान कार्यदायी संस्थाओं को कार्यों में तेजी से प्रगति लाने के निर्देश दिये। उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, मुख्यमंत्री आवास योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल मिशन योजना, हर घर नल योजना, मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना, कन्या सुमंगला योजना, दुग्ध समितियां एवं आपरेशन पर्यावरण सहित आदि योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी श्री शशिकान्त त्रिपाठी, जिला विकास अधिकारी श्री विजय कुमार, अर्थ एवं संख्याधिकारी श्री श्रवण कुमार सिंह, मुख्य चिकित्साधिकारी, परियोजना निर्देशक सहित अन्य सम्बन्धित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित रहे। 
 यूपी स्टेट से मिडिया प्रभारी पवन मिश्रा की रिपोर्ट