निराकरण के लिए पुलिस लाइन बलरामपुर में स्पंदन कार्यक्रम का आयोजन….
निराकरण के लिए पुलिस लाइन बलरामपुर में स्पंदन कार्यक्रम का आयोजन….
 

*संदीप कुशवाहा की रिपोर्ट*
 

बलरामपुर :– जिले के रक्षित केन्द्र / थाना / चौकी में पदस्थ ऐसे पुलिस अधिकारी/कर्मचारी जो 03 वर्ष या उससे अधिक अवधि से थाना चौकी/रक्षित केन्द्र में पदस्थ हैं, उनका स्थानांतरण किए जाने के अनुक्रम में रामकृष्ण साहू, भा.पु.से. पुलिस अधीक्षक, जिला बलरामपुर-रामानुजगंज के द्वारा रक्षित केन्द्र बलरामपुर में स्पंदन कार्यक्रम आयोजित किया गया,
जिसमें रक्षित केन्द्र / थाना चौकी में पदस्थ 03/3 सहायक उप निरीक्षक, 06 प्रधान आरक्षक तथा 75 आरक्षक / महिला आरक्षक सहित कुल 84 अधिकारी/ कर्मचारी जिनकी पदस्थापना अवधि 03 वर्ष या उससे अधिक हो चुकी उपस्थित रहे। पुलिस अधीक्षक बलरामपुर द्वारा स्पंदन कार्यक्रम में उपस्थित पुलिस अधिकारी/कर्मचारियों की स्थानांतरण संबंधी गुजारिशें सुनी गई

तथा उनका जल्द से जल्द तथा नियमानुसार निराकरण किए जाने हेतु आश्वासन दिया गया। पुलिस अधीक्षक, बलरामपुर द्वारा उपस्थित सभी अधिकारी/कर्मचारियों को पूर्ण निष्ठा एवं ईमानदारी से अपने कर्तव्यों का निर्वहन करने, समय के अनुरूप अपने आप को पुलिस के कार्यों के लिए तैयार रखने तथा कर्तव्य निर्वहन के दौरान आम एवं निर्दोष जनता को पुलिस से परेशानी न हो यह सुनिश्चित करने निर्देशित किया गया। पुलिस अधीक्षक, बलरामपुर द्वारा बताया गया कि पुलिस के दो महत्वपूर्ण कार्य अपराधों की रोकथाम, अपराधियों की पतासाजी है।

पुलिस अधीक्षक, बलरामपुर द्वारा कर्तव्य निर्वहन के दौरान प्रत्येक पुलिस अधिकारी / कर्मचारी को निर्धारित वर्दी तरतीब से धारण करने, निर्देशित किया गया। प्रत्येक पुलिस अधिकारी / कर्मचारी को अपने उत्तम कार्यक्षमता का प्रदर्शन करते हुए

जिले की बेहतरी के लिए कार्य करने, सामाजिक बुराईयों से स्वयं दूर रहने तथा समाज को दूर रखने के लिए समुचित प्रयास करने, अपने निजी जीवन में शान्तिपूर्ण एवं सौहाद्रपूर्ण व्यवहार का आदर्श प्रस्तुत करने हेतु निर्देशित किया गया।

स्पंदन कार्यक्रम में प्रशांत कतलम, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, बलरामपुर, डी.के. सिंह, उप पुलिस अधीक्षक (नक्सल आपरेशन), बलरामपुर, सनत कुमार ठाकुर, रक्षित निरीक्षक, बलरामपुर, राजेन्द्र साहू, यातायात प्रभारी, बलरामपुर, सउनि नरेन्द्र तिवारी, रीडर-1, पुलिस अधीक्षक कार्यालय बलरामपुर उपस्थित रहे।