फिर एक और गुमनाम सड़क मिल गई है
फिर एक  और गुमनाम सड़क मिल गई है                              रिपोर्ट केशर सिंह नेगी                 विकास खंड थराली  मुख्यालय के पास से बनी सड़क थराली जूनीधार -गोठिडा मोटर मार्ग जो 2006 मे कट कर तैयार हुई थी तब से आज तक कोई न कोई जनप्रतिनिधि  इस सड़क से तो गुजरा होगा मगर किसी का ध्यान इस और नहीं गया बस वोट मिल जाय भले जनता परेशान होती रहे इससे पहले पिछले सप्ताह हमने ग्वालदम- खंपाधार- चीडींगा मोटर मार्ग के बारे मे बताया था जो 2014 मे बन के तैयार हो गई थी लेकिनआज तक उस सड़क का डामरीकरण नहीं पाया जिससे यहां की जनता काफी आक्रोशित है और उन्होंने 2022 विधान सभा  चुनाओ का बहिष्कार की घोषणा तक कर डाली वही  विधायक थराली ने डेमेज कंट्रोल करते हुए जनता को चुनाओ से पहले सड़क का डामरीकरण करने का आश्वासन दिया गया वही इसी हप्ते एक और गुमनाम सड़क का पता और चल पाया जो घनीयाल धार -त्रिकोट -बुडजोला मोटर मार्ग है जो 2016 मे राज्य सरकार के द्वारा एस सी पी सी के तहत 5 कीलोमीटर की स्वीकृति मिली थी और इसमें प्रथम चरण के लिए 59 लाख की स्वीकृति भी मिली थी लेकिन आज तक सड़क को कोई अता पता नहीं है  जिसके चलते त्रिकोट बुडजोला घनीयाल  के ग्रामीणों मे भी रोष है ग्रामीणों ने भी 2022 के विधान सभा के चुनाओ के बहिष्कार की घोषणा कर डाली  अब ये तीसरी सड़क थराली जूनीधार गोठिडा मोटर मार्ग है चुनाव नजदीक है अब देखना  होगा इन सड़को का कायाकल्प कब होता है आज थराली जूनीधार गोठिडा मोटर मार्ग के बावत  ग्रामीणों ने प्रधान विक्रम भंडारी संघ के अध्यक्ष डॉ जगमोहन रावत के नेतृव मे उपजिलाधिकारी सुधीर कुमार के माध्यम से जिलाधिकारी को ज्ञापन भेज कर सड़क का सुधारीकरण, डामरीकरण करने की माँग की है ज्ञापन देने वालों मे जिला पंचायत सदस्य देवी जोशी, प्रधान सरोजनी देवी, कमलेश राम, विनोद राम, केदार राम, वीरेन्द सिंह, कोशा देवी, ग्रामप्रधान लेटाल गोठिडा , कुनी पार्था आदि प्रधानों के हताक्षर  है