मूसलाधार बारिश के चलते सुरक्षा दीवार धराशायी। वाहनों का आवागमन बन्द।
मूसलाधार बारिश के चलते सुरक्षा दीवार धराशायी। वाहनों का आवागमन बन्द।
नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी चोटिल होने से बाल बाल बचे।
रिपोर्ट । ललित जोशी छायाकार धर्मा चंदेल।
नैनीताल।  सरोवर नगरी व उसके आसपास देर रात से मूसलाधार के चलते जनजीवन अस्त व्यस्त  हो गया ।वही मैदानी जिलों को कुमाऊं की पहाङी जिलों को जोङने वाला भीमताल-रानीबाग मोटर मार्ग की सुरक्षा दीवार  मूसलाधार बारिश के चलते  आज सुबह  धराशायी हो गई। जिसके चलते मार्ग पर आवाजाही पूर्ण रूप से बंद हो गई है। लोक निर्माण विभाग और पुलिस प्रशासन ने हल्द्वानी से पर्वतीय क्षेत्रों को जाने वाले वाहनों को वाया ज्योलीकोट-भवाली होते हुए भेजना शुरू कर दिया है। वहीं भीमताल-रानीबाग मार्ग में अंतिम आदेश तक आवाजाही पर पूर्ण रूप से रोक लगा दिया है।  मूसलाधार बारिश के चलते रानीबाग मार्ग के पास की सुरक्षा दीवार के टूटने से मार्ग पर आवाजाही बंद कर दी गई है।  ज्योलीकोट-भवाली होते हुए भेजा जा रहा है। 
वहीं अब भीमताल-रानीबाग मार्ग के बंद होने से  भीमताल,कुमाऊँ को जाने वाले वाहन पिथौरागढ़, धारचूला, लोहाघाट, चंपावत, बागेश्वर, अल्मोड़ा, भवाली, धानाचूली, शहरफाटक सहित अन्य पर्वतीय क्षेत्रों के वाहन चालकों और यात्रियों को अतिरिक्त सफर तय करके ज्योलीकोट-भवाली मार्ग से सफर करने को मजबूर होना पड़ेगा । इधर सरोवर नगरी में भी मूसलाधार बारिश के चलते बारिश का पानी सड़कों में आ गया।बीते दो दिनों से लगातार हो रही बारिश पूरे जिले में कहर बरपा रही है। बारिश से जिले के कई मार्ग बंद हो चुके है वहीं ग्रामीण क्षेत्रो में लोगो के घरों में दरार पड़ चुकी है तो नदी नाले उफान पर आ गए हैं और कई नदियों का जलस्तर भी बढ़ चुका है।आज सुबह नैनीताल नगर पालिका अधिशासी अधिकारी अशोक कुमार वर्मा मीटिंग को लेकर भीमताल विकास भवन को जा रहे थे तभी तल्लीताल कैंट क्षेत्र में पहाड़ से अचानक पत्थर गिरने लगे और एक बड़ा बोल्डर आकर उनकी गाड़ी में भी गिर गया गनीमत रहेगी इस दौरान बड़ा नुकसान नहीं हुआ गाड़ी में  नुकसान हुआ है।बारिश के दौरान नैनीताल के कमजोर पड़ाड़ों में भूस्खलन भी शुरू हो गया है। सोमवार पूर्वाह्न करीब साढ़े 10 बजे विभागीय कार्य से चालक के साथ भीमताल जा रहे नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी का वाहन पहाड़ से गिरते पत्थरों की चपेट में आकर क्षतिग्रस्त हो गया।