झील में तैरता मिला प्रो एन एस राणा का शव। सरोवर नगरी में शोक व्यापत।घर मे मचा कोहराम।
झील में तैरता मिला प्रो एन एस राणा का शव। सरोवर नगरी में शोक व्यापत।घर मे मचा कोहराम।
रिपोर्ट ललित जोशी।छायाकार धर्मा चंदेल
नैनीताल, । सरोवर नगरी झील में एक शव मिला है। शव की पहचान  डी एस बी कालेज के सेवानिवृत्त प्राध्यापक एवं डीएसबी परिसर के निदेशक भी रहे प्रो. एनएस राणा के रूप में हुई है। प्रो. राणा के पुत्र डॉ. महेंद्र राणा भी कुमाऊं विश्वविद्यालय में प्रोफेसर हैं। स्वर्गीय राणा धार्मिक प्रवृत्ति के व्यक्ति भी थे एवं कई धार्मिक-आध्यात्मिक कार्यक्रमों व चर्चाओं में भी भाग लेते थे।
प्राप्त जानकारी  छात्राओं ने ठंडी सड़क पर घूमते हुए पाषाण देवी मंदिर के पास नैनी झील में शव तैरता देखा तो पुलिस को सूचना दी। इस पर तल्लीताल थाने के चीता मोबाइल प्रभारी शिवराज राणा, व एसआई हरीश पुरी, मल्लीताल कोतवाल अशोक कुमार सिंह, एसआई नितिन बहुगुणा व नरेंद्र कुमार आदि मौके पर पहुंचे और शव को झील से बाहर निकाला और शव को पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाने की कार्रवाई की। उनके पास से कुछ रुपए, मास्क व रुमाल आदि सामग्री ही बरामद हुई है। घटना की सूचना मिलते ही उनके परिवार में शोक छा गया है। जबकि अन्य को उनकी इस तरह असाममयिक मृत्यु पर विश्वास नहीं हो रहा है।
बताया गया है कि बिड़ला रोड निवासी प्रो. राणा रोज की तरह   सैर पर घर से निकले थे। वह रोज दोपहर तक लौट आते थे। इसलिए उनके उनके परिजनों को भी ऐसी कोई आशंका नहीं थी। उनके परिजन मौके पर पहुंच गए हैं। उनके साथ कैसे यह घटना हुई, पुलिस इस बारे में अभी कुछ भी बताने की स्थिति में नहीं है।
इधर भाजपा, कांग्रेस, आप पार्टी,यू के डी समेत पूर्व छात्र छात्राओं ,डी एस बी कालेज के शिक्षक समेत  कई संगठनों ने दुःख व्यक्त किया।