कोरोना काल में एक अनियमित एएनएम के भरोसे पूरा पीएचसी
*कोरोना काल में एक अनियमित एएनएम के भरोसे पूरा पीएचसी*

गिड़ा बाड़मेर से वागाराम बोस की रिपोर्ट 


पंचायत समिति गिड़ा के ग्राम पंचायत हीरा की ढाणी का पूरा पीएचसी कोरोना काल के मध्य अनियमित कार्यकर्त एएनम के भरोसे पड़ा है जहां डॉक्टर नहीं होने की वजह मरीजों को जाँच करवाने काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है!! जानकारी अनुसार पिछले 6 महीने से यहां कार्यरत  अनियमित चिकित्साकर्मी का भी तबादला पिछले सप्ताह हो गया और उससे पहले एक नियमित एएनम का भी तबादला हुआ था जिससे पिछले काफी दिनों से पीएचसी में उपचार हेतु  चिकित्सा कर्मी स्टाफ की कमी होने की वजह से कोरोना काल में मरीजों को अपने निजी वाहनों से नजदीकी पीएचसी में जाना पड़ रहा है !! प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र हीरा की ढाणी आसपास के गांवो का बड़ा अस्पताल आज खुद एक अनियमित एएनम के भरोसे बीमार नजर आ रहा है ! इसी स्वास्थ्य केंद्र में खोखसर , जाखडा , खोखसर पश्चिम और केसुंबला सहित फलसुंड जैसलमेर की सीमा के लोग यहां उपचार के लिए आते है ये अस्पताल बाड़मेर जैसलमेर की सीमा पर स्थित है !! ग्रामीणों ने बताया कि अस्पताल में नियमित चिकित्सक की कमी को लेकर राजस्व मंत्री , जिला प्रमुख एवं  अधिकारियो को अवगत करवाया था लेकिन समस्या का समाधान नहीं हुआ जिसको लेकर इलाज के संबधित आने वाले मरीज एवं लोग चिंतित है !समय पर इलाज नही मिलता।

*इनका कहना है*
क्षेत्र में चिकित्सक की कमी बेहद गंभीर समस्या है आस पास के क्षेत्र के लोग इसी पीएचसी में इलाज को लेकर आते है लेकिन चिकित्सक की कमी होने की वजह से लोगो को परेशानी हो रही है ! सोशल मीडिया के माध्यम से मंत्री महोदय , जिला प्रमुख व सीएमचओ को अवगत करवाने का आग्रह किया है हमे भरोसा है कि उपर्युक्त मामले को संज्ञान में लेकर जनप्रतिनिधि एवं आलाधिकारी समस्या का समाधान करवाएंगे !
*खीमराज सोनी* 
सामाजिक कार्यकर्ता गिड़ा