पूर्व सीएम कमलनाथ पर एफआईआर दर्ज कराने भाजपाईयो ने थाना प्रभारी को सौंपा ज्ञापन।
पूर्व सीएम कमलनाथ पर एफआईआर दर्ज कराने भाजपाईयो ने थाना प्रभारी को सौंपा ज्ञापन।

बैतूल/सारनी। कैलाश पाटिल

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व सीएम कमलनाथ के विरुद्ध कोरोना महामारी के दौरान भारत को अपमानित करने, दंगा फैलाने,लोगों को गुमराह करने और गलत जानकारी के द्वारा दहशत फैलाने के विरुद्ध पुलिस प्रकरण दर्ज(FIR) करने के संबंध में भारतीय जनता पार्टी मंडल सारनी के अध्यक्ष नागेंद्र निगम के नेतृत्व में भाजपा कार्यकर्ताओ के साथ सारनी थाना प्रभारी महेंद्र सिंह चौहान को ज्ञापन सौंपा। मंडल अध्यक्ष नागेंद्र निगम ने प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के बयानों की घोर निंदा करते हैं। कोरोना महामारी के दौरान मीडिया एवं पत्रकार वार्ता में इतने बड़े पद पर होने के बावजूद भारत को अपमानित करने दंगा फैलाने लोगों को गुमराह करने का कृत्य कैसे कर सकते हैं, हम इनका विरोध करते हैं ।कमलनाथ कोरोना महामारी के दौरान मीडिया में पत्रकार वार्ता एवं अपने बयानों के माध्यम से ना केवल भारत का अपमान कर रहे हैं बल्कि गलत आंकड़ों और सूचनाओं के द्वारा रोगियों उनके परिजनों एवं जनता में दहशत फैलाने का कृत्य कर रहे हैं। श्री कमलनाथ द्वारा वर्चुअल पत्रकार वार्ता और इसके बाद 22 मई को उज्जैन में समाचार पत्र एजेंसियों को दिए गए बयानों में लगातार यह बात उजागर हुई है कि उन्होंने बिना किसी प्रमाण के कोरोना के "इंडियन वैरीअंट" कहकर देश दुनिया में भारत का अपमान किया और विदेश में रह रहे भारतवंशियों की सुरक्षा और सम्मान को चुनौती खड़ी की। वहीं "सरकार लाखों लोगों की मौत का आंकड़ा छिपा रही है" कहकर लोगों में दहशत फैला रहे हैं। अपनी पार्टी की वर्चुअल मीटिंग में वे अपने ही नेताओं से ''आग लगाने"का मौका बताकर उकसाकर जनता को भड़काने का कृत्य कर रहे हैं। कमलनाथ आदतन इस प्रकार के अपराध करने के आरोपित हैं। देश पर आपातकाल लगाकर जनता को प्रताड़ित करने वाले गिरोह के श्री कमलनाथ हिस्सा रहे हैं। 1984 के सामूहिक सिख नरसंहार के आरोपी भी श्री कमलनाथ हैं। कोरोना महामारी के दौरान समाज और सरकार ने मिलकर मुकाबला किया है। प्रशासन, पुलिस और जागरूक नागरिकों ने अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। वहीं दूसरी ओर, कांग्रेस नेता श्री कमलनाथ  द्वारा किये गए इस प्रकार के गैरकानूनी, अनैतिक और समाज में अराजकता फैलाने का कृत्य अक्षम्य है। इस थाना अंतर्गत निवासरत जनता पर उनके बयानों व कृत्यों का दुष्प्रभाव पड़ने की आशंका है। मंडल अध्यक्ष नागेंद्र निगम ने थाना प्रभारी से मांग की है कि जल्द से जल्द पूर्व सीएम  कमलनाथ के कृत्यों पर विभिन्न धाराओं के तहत प्रकरण दर्ज (FIR,)कर सख्त कानूनी कार्रवाई की जाए ताकि कानून का राज और समाज की संवेदनशीलता, सुरक्षा व सम्मान कायम  रहे। इस अवसर पर मुख्य रूप से भाजपा जिला मंत्री रंजीत सिंह नगर पालिका उपाध्यक्ष भीम बहादुर थापा,मंडल उपाध्यक्ष रेवाशंकर मगरदे, मंडल मंत्री कुबेर डोंगरे, राकेश सोनी आदि उपस्थित थे।