आदिवासी दंपत्ति को पीटने वाले एसआईएसएफ के जवानों के खिलाफ जय संगठन ने थाने में दिया ज्ञापन।
आदिवासी दंपत्ति को पीटने वाले एसआईएसएफ के जवानों के खिलाफ जय संगठन ने थाने में दिया ज्ञापन।

बैतूल/सारनी। कैलाश पाटिल

विगत कुछ दिनों पहले पाथाखेड़ा के जंगल में तेंदूपत्ता तोड़ रहे एक आदिवासी दंपत्ति को राज्य औद्योगिक सुरक्षा बल एसआईएसएफ के 4 जवानों द्वारा बेरहमी से पिटाई की गई। दिनेश के कुल्हे पर इतनी लाठियां मारी गई की सूजन आ गई और खून जमा हो गया। एसआईएसएफ के जवानों ने दिनेश से उसकी पत्नी के पैर पड़वाकर वीडियो भी बनाया। उक्त घटना से प्रदेश के आदिवासी समुदाय में आक्रोश व्याप्त है साथ ही भारतीय संविधान जनजातियों के संरक्षण हेतु कटिबद्ध है। जिसको लेकर के सारणी थाना के थाना प्रभारी महेंद्र सिंह चौहान को अवगत कराते हुए राज्य शासन द्वारा पारित अधिनियम के खिलाफ कार्य करने वाली सुरक्षाकर्मीयो पर कार्यवाही करने हेतु ज्ञापन दिया गया। कार्यवाही 10 दिनो के भीतर ना होने पर जयस संगठन के साथ समस्त आदिवासी संगठन मिलकर धरना प्रदर्शन, चक्का जाम करने बाध्य होगा। ज्ञापन देने वालों में मुख्य रुप से रितिक परते जिला उपाध्यक्ष, निशू नर्रे जिला संगठन मंत्री, लक्ष्मण नर्रे जिला महासचिव, घोड़ाडोंगरी ब्लॉक अध्यक्ष जगदीश नर्रे, लक्ष्मण मालवीय ब्लॉक शिक्षा प्रभारी मौजूद थे।