कोरोना काल में शारीरिक और मानसिक फिटनेस के लिए दैनिक जीवन में शामिल करें योग : केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी
*कोरोना काल में शारीरिक और मानसिक फिटनेस के लिए दैनिक जीवन में शामिल करें योग : केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी*

केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि कोरोना रोकथाम को लेकर केंद्र सरकार और राज्य सरकारें तो अपनी ओर से आवश्यकतानुसार और हरसंभव प्रयास कर ही रही है, लेकिन वर्तमान कोरोना काल में मजबूत इम्युनिटी के महत्व को देखते हुए योग को दैनिक दिनचर्या में शामिल करें आमजन

बाड़मेर से वागाराम बोस की रिपोर्ट 


दिल्ली/जयपुर/बाड़मेर-जैसलमेर

अपने संसदीय क्षेत्र बाड़मेर जैसलमेर में कोरोना प्रबंधन को लेकर केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने पिछले दिनों लगभग क्षेत्र के सभी मुख्य अस्पतालों, स्वास्थ्य केंद्रों और कोविड सेंटरों का निरीक्षण कर स्वास्थ्य व्यवस्थाओं का जायजा लिया है। इस दौरान कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने कोरोना प्रबंधन को लेकर जीवन रक्षक दवाओं और आवश्यक चिकित्सा उपकरणों की खरीद के लिए सांसद निधि से अब तक 3 करोङ 31लाख रूपए की अनुशंसा और साथ ही 80 आक्सीजन कंसंट्रेटर मशीन खरीदने के लिए 80 लाख रुपए भी स्वीकृत किए या मशीन ले जाकर स्वास्थ्य अधिकारियों को सुपुर्द की है। इसी कड़ी में शनिवार और रविवार को सुबह जल्दी अपने दिल्ली स्थित आवास पर केंद्रीय मंत्री कैलाश चौधरी ने कोरोना काल में इम्युनिटी मजबूत करने के लिए आमजन से योग प्राणायाम करने की अपील की है।

कोरोना काल में मजबूत इम्युनिटी के लिए योग का महत्व बताते हुए कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि हमें अपने दैनिक जीवन का एक छोटा सा भाग योग के लिए संरक्षित रखना चाहिए। प्राचीन काल में हमारे समाज में कई योगी हुई हैं, जिनका सम्पूर्ण जीवन निरोगी रहा। शारीरिक व मानसिक लाभ के साथ योग के आध्यात्मिक लाभ भी है। आप सभी से भी निवेदन है कि अपने दिन की शुरूआत योग से करें। कैलाश चौधरी ने कहा कि कोरोना के मरीजों को भी जल्द रिकवरी के लिए योगासन और प्राणायाम करना चाहिए। डॉक्टर्स भी प्राणायाम करने की सलाह दे रहे हैं, इससे फेफड़े बेहतर तरीके से काम करने लगते हैं। योग करने से छाती वाला हिस्सा खुलता है और फेफड़ों की कार्यक्षमता बढ़ती है। योग से पाचन क्रिया भी तेज होती है। योग से रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है और शरीर में ऑक्सीजन का फ्लो अच्छा होता है।

कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि पूरी दुनिया कोरोना से जंग लड़ रही है। भारत में कोरोना की दूसरी लहर जानलेवा साबित हो रही है। ऐसे में जो लोग कोरोना से रिकवर हो रहे हैं, उन्हें योग करने की सलाह दी जा रही है। कोरोना संक्रमित होने के दौरान के अपने अनुभव साझा करते हुए कैलाश चौधरी ने कहा कि कोविड-19 से रिकवरी में योग काफी फायदेमंद है। योग से न केवल रिकवरी में मदद मिलती है बल्कि मानसिक शांति भी मिल रही है। ऐसे में कोविड के मरीज को शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को फिट रखने के लिए योग जरूर करना चाहिए। उन्होंने कहा कि कोरोना रोकथाम को लेकर केंद्र सरकार और राज्य सरकारें तो अपनी ओर से आवश्यकतानुसार और हरसंभव प्रयास कर ही रही है लेकिन वर्तमान समय में समय की मांग और मजबूत इम्युनिटी के महत्व को देखते हुए आमजन को भी योग को दैनिक दिनचर्या में जगह देनी चाहिए।