वैक्सीन का एक भी डोज वेस्ट ना हो- कलेक्टर धनंजय सिंह
वैक्सीन का एक भी डोज वेस्ट ना हो- कलेक्टर धनंजय सिंह 
कलेक्टर श्री सिंह ने की वैक्सीनेशन कार्यक्रम की समीक्षा
होशंगाबाद, 21 मई 2021/जिले में वैक्सीनेशन अभियान सुचारू रूप से जारी है।गुरुवार को कलेक्टर धनंजय सिंह ने जिले में वैक्सीनेशन कार्यक्रम की विस्तृत समीक्षा की और आवश्यक निर्देश दिए। कलेक्टर श्री सिंह ने स्पष्ट निर्देश देते हुए कहा कि वेक्सिनेशन सत्र स्थलों पर वैक्सीन का एक भी डोज वेस्ट ना हो यह सुनिश्चित करें।  उन्होने सभी वैक्सीन का सदुपयोग करने के निर्देश मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी एवं जिला टीकाकरण अधिकारी को दिए। 
       कलेक्टर श्री सिंह ने 18 पल्स आयु एवं 45 प्लस आयु के नागरिकों के टीकाकरण केंद्रों पर मॉनिटरिंग के लिए  नोडल अधिकारी नियुक्त करने के निर्देश दिए है जिसके परिपालन में सीएमएचओ द्वारा होशंगाबाद अन्तर्गत 18 पल्स आयु के टीकाकरण केंद्र शा कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के लिए नोडल जिला शिक्षा अधिकारी श्री आर एस बघेल मोबाइल नंबर 9425427241, शासकीय उत्कृष्ट स्कूल बाबई के लिए श्री एस एस रघुवंशी 9826944987, शासकीय बाल उ.मा. विद्यालय डोलरिया के लिए श्री विमल राकेश 9755064547, केसला अन्तर्गत शासकीय कन्या उ.मा. विद्यालय इटारसी के लिए जिला प्रधान पाठक श्री महेश रैकवार 9009024909,शासकीय एम स्कूल जमानी के लिए श्री पोप सिंह अहिरवार 8770559809, शासकीय प्राथमिक मिडिल स्कूल सुखतवा के लिए श्री राम कुमार बघेल 9907408337, पिपरिया अन्तर्गत आर.एन.ए. उत्कृष्ट स्कूल पिपरिया के लिए श्री एन के राज विकास खंड शिक्षा अधिकारी 7987878404, शासकीय उत्कृष्ट स्कूल बनखेड़ी के लिए बीआरसी श्री शेर सिंह यादव 9893986204, सिवनी मालवा के अंतर्गत शासकीय उत्कृष्ट स्कूल सिवनी मालवा के लिए विकास खंड शिक्षा अधिकारी श्री के के चौधरी 942569342, शासकीय कन्या स्कूल शिवपुर के लिए प्राचार्य श्री एसएस रघुवंशी 9826944987, सोहागपुर अन्तर्गतएस.जे. एल. स्कूल सोहागपुर के लिए बीआरसी श्री आनंद शर्मा 9826977226, शासकीय बालक मिडिल स्कूल सेमरीहरचंद के लिए श्री जेपी रजक बीआरसी 7999066976 को नोडल अधिकारी बनाया गया है। इसी तरह 45 प्लस आयु के नागरिकों के टीकाकरण केंद्र होशंगाबाद अन्तर्गत शासकीय एस.एन.जी. उ.मा.विद्यालय होशंगाबाद के लिए डीपीसी श्री एसएस पटेल 9425041462, यूपी एच.सी. मालाखेड़ी के लिए शिक्षक श्री अमर सिंह रघुवंशी 9926333201, यूपी. एच.सी ग्वालटोली के लिए श्री प्रमोद कुमार नगर शिक्षक 7828305390, शासकीय उत्कष्ट स्कूल बाबई के लिए श्री शेर सिंह यादव बीआरसी 9893986204, शासकीय बालक उ.मा. स्कूल डोलरिया के लिए श्री आनंद दुबे सीएसी 7697429206,उप स्वास्थ्य केन्द्र निमसाड़िया के लिए श्री आनन्द शर्मा 9826977226, केसला अन्तर्गत शासकीय कन्या उ.मा. स्कल इटारसी के लिए रमेश कुमार कीर शिक्षक यूपीएचसी इटारसी के लिए श्री महेश रैकवार 9009024900, यूपीएचसी इटारसी नाला मोहल्ला के लिए शिक्षक श्री अमित डोंगरे 8085791555, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पथरोटा के लिए विकास खंड शिक्षा अधिकारी श्रीमती आशा मोर्य 9827541784 ,सिवनी मालवा अंतर्गत शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय सिवनी मालवा के लिए श्री संतोष शर्मा बीआरसी 9754114380 ,गवर्नमेंट नेहरू मेमोरियल हायर सेकेंडरी सिवनी मालवा के लिए प्रधान पाठक अनिल मसीह मोबाइल नंबर 9977639586, पिपरिया अंतर्गत आर एन ए स्कूल पिपरिया के लिए श्री पी के शर्मा बीआरसी, शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय बनखेड़ी के लिए श्री विमल राकेश 9755064547, गवर्नमेंट स्कूल डूमर के लिए प्रभारी प्राचार्य श्री राजेश शर्मा 8959934590 ,शासकीय स्कूल पचमढ़ी के लिए प्रभारी सीएसई श्री संजय टीकार एवं सोहागपुर अंतर्गत मंगल भवन के लिए बीआरसी श्री जी पी रजक 7999066976 के लिए को नोडल अधिकारी बनाया गया है।


वैक्सीनेशन सत्र स्थलों पर नागरिकों सुविधाओं का विशेष ध्यान रखें - कलेक्टर श्री धनंजय सिंह
सत्र स्थलों पर सघन मॉनिटरिंग की जाए
होशंगाबाद, 21 मई 2021/जिले में निर्धारित समस्त वैक्सीनेशन सत्र स्थलों पर टीकाकरण के लिए आए नागरिकों की सुविधाओं का विशेष ध्यान रखा जाए। सभी केंद्रों का मौका भ्रमण कर आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करें। यह निर्देश कलेक्टर होशंगाबाद श्री धनंजय सिंह ने सभी एसडीएम, तहसीलदार एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को दिए है।
      कलेक्टर ने समस्त एसडीएम को निर्देशित किया है कि वे अपने-अपने क्षेत्रों में वैक्सीनेशन कार्यक्रम की सघन मॉनिटरिंग सुनिश्चित करें।अभियान के रूप में टीकाकरण कार्य किया जाए। वैक्सीन की भी डोज वेस्ट न हो यह सुनिश्चित करें।केंद्रों पर कोरोना प्रोटोकॉल का प्रभावी ढंग से पालन किया जाए। कलेक्टर श्री सिंह ने गुरुवार को जिले में संचालित वैक्सीनेशन कार्यक्रम की ब्लॉक वार विस्तृत समीक्षा की एवं अधिकारियों को निर्देशित किया।


नवीनीकरण से शेष देशी एवं विदेशी मदिरा दुकानों के 05 समूहों का ई-टेण्डर के माध्यम से निष्पादन
होशंगाबाद, 21 मई 2021/जिला आबकारी अधिकारी श्री अभिषेक तिवारी ने बताया कि वर्ष 2021-22 के 10 माह (01 जून 2021 से 31 मार्च 2022) की अवधि के लिए जिले की 21 देशी विदेशी मदिरा समूहों में से नवीनीकरण पश्चात् शेष 05 देशी / विदेशी मंदिरा दुकान समूहों जिसमें (1) विदेशी मदिरा दुकान नई इटारसी समूह आरक्षित मूल्य 112871453 (01 देशी मदिरा दुकान एवं 01 विदेशी मदिरा दुकान) (2) विदेशी मदिरा दुकान इटारसी शहर समूह आरक्षित मूल्य 128222745 (03 देशी मदिरा दुकान एवं 01 विदेशी मदिरा दुकान) (3) विदेशी मदिरा दुकान मेहरागांव समूह आरक्षित मूल्य 69033813 (02 देशी मदिरा दुकान एवं 01 विदेशी मदिरा दुकान) (4) विदेशी मदिरा दुकान समेरीहरचंद समूह आरक्षित मूल्य 46110442 (01 देशी मदिरा दुकान एवं 02 विदेशी मदिरा दुकान) (5) विदेशी मदिरा दुकान पचमढ़ी समूह आरक्षित मूल्य 78892850 (02 देशी मदिरा दुकान एवं 01 विदेशी मदिरा दुकान) पर ई-टेण्डर के माध्यम से निष्पादन हेतु इच्छुक टेण्डरदाता शासन द्वारा निर्धारित कार्यक्रम अनुसार दिनांक 21 मई 2021 प्रातः 10 बजे से दिनांक 25 मई 2021 दोपहर 1 बजे तक वेब पोर्टल https://mptenders.gov.in/nicgep/app के माध्यम से ई-टेण्डर फार्म डाउनलोड एवं सबमिट कर सकेंगे ततपश्चात दिनांक 25 मई 2021 दोपहर 02 बजे से ई-टेण्डर खोले जाने की कार्यवाही की जावेगी। इस संबंध में सम्पूर्ण एवं विस्तृत जानकारी जिला आबकारी कार्यालय जिला-होशंगाबाद से कार्यालयीन समय में प्राप्त की जा सकती है।


कोरोना की तीसरी वेव से बचाव में भी प्रभावी सिद्ध होगा "योग से निरोग" कार्यक्रम : मुख्यमंत्री श्री चौहान
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने होम आइसोलेशन में रह रहे कोरोना मरीजों से किया संवाद
श्री श्री रविशंकर तथा योग गुरु स्वामी रामदेव ने प्रदेश के होमआइसोलेशन मरीजों का किया मार्गदर्शन
होशंगाबाद, 21 मई 2021/मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण की स्थिति में लगातार सुधार हो रहा है। पॉजिटिविटी रेट 5.4 प्रतिशत हो गया है। मरीजों की संख्या लगातार कम हो रही है और स्वस्थ होकर घर जाने वाले व्यक्तियों की संख्या लगातार बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि कोरोना के प्रकरण न्यूनतम होने के बाद भी प्रदेश में "योग से निरोग" कार्यक्रम जारी रहेगा, क्योंकि हमें प्रदेशवासियों को कोरोना की तीसरी वेव के लिए तैयार करना है। रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने और व्यक्ति को स्वस्थ, सकारात्मक एवं ऊर्जावान बनाए रखने में योग बहुत प्रभावी है। मुख्यमंत्री श्री चौहान "योग से निरोग" कार्यक्रम के अंतर्गत होम आइसोलेशन प्रतिभागियों एवं योग प्रशिक्षकों से निवास से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग द्वारा संवाद कर रहे थे। कार्यक्रम में गुरु देव श्री श्री रविशंकर तथा योग गुरू स्वामी रामदेव ने भी प्रतिभागियों को ऑनलाईन मार्गदर्शन प्रदान किया। 
              कार्यक्रम में स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री श्री इंदर सिंह परमार, आयुष राज्य मंत्री श्री रामकिशोर कावरे, संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री सुश्री उषा ठाकुर, महर्षि पतंजलि संस्कृत संस्थान के अध्यक्ष श्री भरत बैरागी, इण्डियन योग एसोसिएशन की चेयरपर्सन डॉ. पुष्पांजलि शर्मा, प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा श्रीमती रश्मि अरुण शमी तथा प्रमुख सचिव आयुष श्रीमती करलिन खोंगवार देशमुख भी ऑनलाइन सम्मिलित हुईं।
योग के परिणामस्वरूप कोरोना का घातक प्रभाव नहीं हुआ : मुख्यमंत्री श्री चौहान
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा है कि मैं स्वयं कोरोना से प्रभावित हो गया था। चूंकि मैं कई वर्षों से योग कर रहा हूँ। अत: कोरोना का कोई घातक प्रभाव मुझ पर नहीं हुआ। हमारे परिवार के सभी सदस्य प्रतिदिन ध्यान और प्रणायाम अभ्यास करते हैं। मेरा यह व्यक्तिगत अनुभव है कि योग आत्म-विश्वास, सकारात्मकता और ऊर्जा बनाए रखने का प्रभावी माध्यम है। कोरोना के बाद आ रही ब्लैक फंगस, वाइट फंगस जैसी जटिलताओं से बचने में आयुर्वेदिक परंपराएँ, योग का अनुसरण सहायक सिद्ध हो सकता है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेश में कोविड के होम आइसोलेशन रोगियों को मार्गदर्शन देने के लिए श्री श्री रविशंकर गुरुदेव और योग गुरु श्री रामदेव जी का आभार माना। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने होम आइसोलेशन रोगियों खण्डवा की श्रीमती खैरुनिशा परियानी, खण्डवा के ही श्री सुरेन्द्र जैन, बालाघाट की श्रीमती जयश्री ठाकरे और ग्वालियर के योग प्रशिक्षक श्री जयदयाल शर्मा और श्रीमती आराधना दुबे से बातचीत भी की।
एक मुख्यमंत्री का जनता से मामा जैसा संबंध होना अनूठा उदाहरण : गुरुदेव श्री श्री रविशंकर
गुरुदेव श्री श्री रविशंकर ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सत्ता में रहते हुए प्रदेश के जन-जन से मामा का जो संबंध जोड़ा है वह उनका जनता के प्रति प्रेम और संवेदनशीलता का अनूठा उदाहरण है। योग विद्या जैसी गतिविधियों का राज्य के समर्थन से अधिक प्रभावी तरीके से संचालन संभव है। इस दिशा में मध्यप्रदेश द्वारा की गई पहल सराहनीय और प्रदेशवासियों के लिए कल्याणकारी है। श्री श्री रविशंकर ने कहा कि कोरोना के इस तांडव में आत्म-बल और मनोबल को बनाए रखना आवश्यक है। मजबूत मन कमजोर शरीर को आगे ले जा सकता है इसके लिए योग और प्रणायाम से प्रभावी कोई रास्ता नहीं है। हमारी भोजन शैली व भोजन प्रक्रिया में रोग प्रतिरोधक तत्व हैं अत: परंपरागत भोजन, आचार-विचार, योग पद्धति निरोगी रहने का प्रामाणिक मार्ग है। श्री श्री रविशंकर ने पूर्वाग्रह और अंधविश्वास से मुक्त रहते हुए वैज्ञानिक दृष्टिकोण के साथ परंपरागत ज्ञान-विज्ञान को अपनाने की आवश्यकता बताई।
कोरोना से बचाव के लिए योग पर आधारित कार्यक्रम आरंभ करना विश्व की एकमात्र पहल : स्वामी रामदेव
योग गुरु श्री रामदेव ने कहा कि कोरोना वैश्विक आपदा है। ऐलोपैथिक दवाओं के अधिक उपयोग ने रोग प्रतिरोधक क्षमता को घटाया है। इसके परिणाम स्वरूप ब्लैक फंगस और वाइट फंगस जैसे जटिल रोग सामने आ रहे हैं। मध्यप्रदेश सरकार द्वारा कोरोना से बचाव के लिए योग पर आधारित कार्यक्रम आरंभ करने की पहल को विश्व में एकमात्र ऐसी कोशिश बताते हुए योग गुरु श्री रामदेव ने कहा कि कोरोना के कारण उत्पन्न परिस्थितियों के परिणाम स्वरूप लोगों का योग और आयुर्वेद में विश्वास बढ़ा है। कोरोना की दवा यही है कि आप कितने सशक्त हैं आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कितनी है। इन दोनों में योग बहुत अधिक सहायक है। हमारे पूर्वजों के ज्ञान में यदि रोगों के समाधान हैं तो उनका उपयोग होना चाहिए। बिना धर्म, मजहब में बँटे हमें इस संचित ज्ञान और पद्धतियों का लाभ लेना होगा। योग गुरु ने कहा कि योग व्यक्ति को दु:ख, दारिद्रय, रोग, कुंठा, निराशा से निकालने और सकारात्मक बनाए रखने में सहायक है। 
प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा श्रीमती रश्मि अरुण शमी ने कहा कि "योग से निरोग" कार्यक्रम का लक्ष्य है कि जो मरीज वर्तमान में होम आईसोलेशन में है वे वहीं रहकर ठीक हों और उन्हें अस्पताल जाने की जरूरत न पड़े। कोरोना महामारी में मरीजों को तनाव और अवसाद से बचाना, उनका मनोबल बनाए रखना और योग के साथ पौष्टिक आहार के संबंध में मार्गदर्शन प्रदान करना भी कार्यक्रम में सम्मिलित है। "योग से निरोग" कार्यक्रम में मरीजों को दिन में दो बार वीडियो कॉल या फोन कॉल द्वारा योग, ध्यान, आसन प्राणायाम का अभ्यास कराया जाता है। वर्तमान में प्रदेश में 93 हजार व्यक्तियों को तीन हजार से अधिक प्रशिक्षक सेवाएँ उपलब्ध करा रहे हैं।


निजी संस्थाओं द्वारा संचालित 8 गौशालाओं को गौवंश के भरण-पोषण हेतु 11.59 लाख की राशि वितरित
होशंगाबाद, 21 मई 2021/जिले में निजी संस्थाओं द्वारा संचालित 08 गौशालाओं को गौवंश के भरण पोषण के लिए म.प्र.गौपालन एवं पशु संवर्धन बोर्ड भोपाल से प्राप्त राशि रु 8.69 लाख भूसे चारे के लिए एवं राशि रु 2.88 लाख निजी गौशालाओं को 336 बैग पशु आहार हेतु तथा मुख्यमंत्री गौ-सेवा योजना अंतर्गत निर्मित गौशालाओं को चारा एवं पशु आहार हेतु माह मार्च 2021 तक की राशि रु. 09.91 लाख  वितरण का अनुमोदन जिला कलेक्टर होशंगाबाद श्री धनंजय सिंह द्वारा किया गया है  ।  
                 उपसंचालक पशु चिकित्सा सेवाएं जितेन्द्र कुल्हारे होशंगाबाद द्वारा बताया कि अनुमोदित राशि का विवरण इस प्रकार है- श्री सद्गुरू कृपा गौशाला बारीदेवी पिपरिया को  256303 रुपए ,श्री दादाजी गोसदन एवं जीवदया केन्द्र हमनापुर सिवनी मालवा को 163779 रुपए, भाउसाहब स्मृति लोकन्यास गोविन्द नगर पोस्ट पलिया, बनखेडी को  93588 रुपए,  महर्षि दयानन्द गौरक्षिणी सभा आर्थ गुरुकुल होशंगाबाद को  78699 रुपए,  भगवान बलराम गौसदन एवं शोध संस्थान खैरीदीवानबाबई 75508 रुपए, नंदिनी गौरक्षा एवं गौशाला समिति होशंगाबाद 50556 रुपए, श्री कृष्णकांति गौशाला चंदपुरा सि.मालवा 97842 रुपए, देवतारा गौसेवा समिति ग्राम राजा पिपरिया बनखेड़ी 43974 रुपए का वितरण किया गया।
               कलेक्टर होशंगाबाद श्री धनंजय सिंह द्वारा निर्देशित किया गया है कि गौशाला का संचालन निर्धारित मानक मापदण्डों के मुताबिक हो, सक्षम अधिकारी गौशाला का नियमित भ्रमण करें साथ ही गौशालाओं में साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखा जाये अधीनस्थ अधिकारी अपने विकासखंड स्थित गौशाला का नियमित भ्रमण करें। पुलिस द्वारा गौवंश पकड़े जाने वाले स्थान पर संबंधित विकासखंड के पशु चिकित्सक तत्काल मौके पर पहुंचकर आवश्यक कार्यवाही करें तथा तत्संबंध में सूचना अपने वरिष्ठ अधिकारी को भेजना सुनिश्चित करें।