अभाव ग्रस्त क्षेत्रों में सरकार ने दी राहत
*अभाव ग्रस्त क्षेत्रों में सरकार ने दी राहत*

*फसल खराबे से आहर चालीस हजार कृषक होंगे लाभान्वित* 

*खरीफ 2020 में 45 करोड़ 56 लाख से अधिक की कृषि आदान अनुदान राशि स्वीकृत*

बाड़मेर से वागाराम बोस की रिपोर्ट 

बाड़मेर, 19 मई। जिले के अभावग्रस्त घोषित क्षेत्रों गडरारोड़, रामसर, शिव एवं चौहटन में प्रभावित विभिन्न श्रेणी के 40,054 कृषकों को अभाव संवत् 2077 (खरीफ-2020) में कुल 45 करोड़ 56 लाख 50 हजार एक सौ अडसठ रूपये की कृषि आदान अनुदान राशि दिये जाने हेतु प्रशासनिक स्वीकृति जारी की गई है। 
जिला कलक्टर लोक बंधु ने बताया कि एसएमएफ कृषक श्रेणी में 33 से 50 फीसदी खराबे पर गडरारोड़ तहसील क्षेत्र के 129 कृषकों को 901977 रूपये, शिव तहसील क्षेत्र में 38 कृषकों को 286751 रूपये तथा रामसर में 315 कृषकों को 1161440 रूपये की कृषि आदान अनुदान राशि दिये जाने की प्रशासनिक स्वीकृति जारी की गई है। इसी प्रकार 50 से 75 फीसदी खराबे पर तहसील क्षेत्र रामसर के 70 कृषकों को 254864 रूपये, गडरारोड़ के 3196 कृषको 25014557 रूपये, चौहटन के 1533 कृषकों को 7887028 रूपय एवं शिव के 3932 कृषकों को 29875222 रूपये तथा 75 से 100 फीसदी खराबे पर तहसील क्षेत्र रामसर के 2075 कृषकों को 11843133 रूपये की कृषि आदान अनुदान राशि दिये जाने की प्रशासनिक स्वीकृति जारी की गई है।
उन्होंने बताया कि एसएमएफ के अलावा कृषक श्रेणी में 33 से 50 फीसदी खराबे पर तहसील क्षेत्र शिव में 90 कृषकों को 1220124 रूपये, गडरारोड़ के 164 कृषकों को 2226320 रूप्ये एवं रामसर में 282 कृषकों को 3523896 रूपये, 50 से 75 फीसदी खराबे पर तहसील क्षेत्र शिव में 11174 कृषकों को 150199573 रूपये, गडरारोड़ में 11433 कृषकों को 154374907 रूपये, रामसर में 201 कृषकों को 1985736 रूपयें एवं चौहटन में 3006 कृषकों को 36430320 रूपये तथा 75 से 100 फीसदी खराबें पर तहसील क्षेत्र रामसर के 2416 कृषकों को 28464320 रूपये की कृषि आदान अनुदान राशि दिये जाने की प्रशासनिक स्वीकृति जारी की गई है।