युवाओं की टीम एक नए संकल्प के साथ मना रही है

 कन्नोद।


खातेगांव। युवाओं की टीम एक नए संकल्प के साथ मना रही है विश्व महिला दिवस  युवाओं की टीम जो एक नया आयाम लेकर समाज के बीच जी जान से बदलाव के लिए कार्य कर रही है बेटियों के लिए एक नया संकल्प लेकर समाज की मानसिकता बदलने का प्रयास कर रही है देवास जिले के कन्नोद खातेगांव तहसील के कई गांवों में विश्व महिला दिवस के उपलक्ष में 1 युवाओं की टीम पिछले 5 दिनों से अलग-अलग गांव में जाकर चौपाल लगाकर लोगों की मानसिकता को बदलने का प्रयास कर रही है चौपाल के माध्यम से वह लोगों को यहां समझाने का प्रयास कर रहे हैं जिस तरह ग्रामीण अंचलों में रहने वाली गरीब आदिवासी बच्चियों की पढ़ाई बारहवीं कक्षा के बाद रुक जाते हैं उन्हें पढ़ाया नहीं जाता है यह मानसिकता गलत अवधारणाओं को जन्म देती हैं यहां अवधारणा खत्म होनी चाहिए और बेटियों को भी पढ़ा कर आत्मनिर्भर बनाना चाहिए युवाओं की टीम ग्रामीण क्षेत्रों में चौपाल लगाकर उन बेटियों की समस्याओं को निकालने का प्रयास कर रही हैं ताकि उन समस्याओं को समझ कर उनका हल निकाल सके अभी युवाओं की टीम अलग-अलग गांव से ऐसी बच्चियों की सूची एकत्रित कर रही है जिनकी पढ़ाई रुक चुकी है या फिर अभी 12वीं कक्षा में है और उनकी समस्याओं को जानने का प्रयास  कर रही है युवाओं की टीम के प्रमुख अर्पित तिवारी ने जानकारी देते हुए बताया  कि समाज की मानसिकता और लोगों की अवधारणाओं बदलने के लिए तथा एक अच्छे समाज के निर्माण के लिए जहां बेटियों को सम्मान मिल अच्छी शिक्षा में बेटियां भी आत्मनिर्भर इस उद्देश्य को लेकर हम कार्य कर  रहे हैं। 


कन्नौद ।से श्रीकांत पुरोहित की रिपोर्ट