पिपरी थाना क्षेत्र के रावतपुर के समीप स्थित एक निजी अस्पताल में शुक्रवार को एक बालिका की मौत के बाद हंगामा हो गया।
कौशाम्बी की खबरें
पिपरी थाना क्षेत्र के रावतपुर के समीप स्थित एक निजी अस्पताल में शुक्रवार को एक बालिका की मौत के बाद हंगामा हो गया। इससे नाराज परिजनों ने चक्काजाम करते हुए हंगामा कर दिया। सूचना पर कई थानों की फोर्स के साथ सीओ मौके पर पहुंचे। ढाई घंटा बाद जाम खुलवाया गया। बालिका के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।

रावतपुर व घोसी गांव के बीच एक निजी अस्पताल है। इस अस्पताल में प्रयागराज के करेली थाना के करेंहटा गांव के मुकेश मिश्रा ने अपनी तीन साल की मासूम बेटी खुशी को 20 दिन पूर्व भर्ती कराया था। परिजनों का आरोप है कि 13वें दिन उसे जबरन बाहर निकाल दिया गया। परिजन उसको लेकर कई अस्पताल गए, लेकिन उसको भर्ती नहीं किया गया। शुक्रवार को परिजन उसको लेकर दोबारा उसी निजी अस्पताल पहुंचे। वह उसको भर्ती कराने का प्रयास कर रहे थे, लेकिन भर्ती नहीं किया गया। इसी दौरान बच्ची की मौत हो गई। इससे आक्रोशित परिजनों ने हंगामा शुरू कर दिया। जानकारी होने पर गांव के भी तमाम लोग इकट्ठा हो गए। लोगों ने चक्काजाम कर दिया। जानकारी होने पर सीओ श्यामकांत कई थानों की फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। परिजनों को किसी तरह समझा-बुझाकर शांत कराया। मुकेश मिश्र ने मामले में डॉक्टरों के खिलाफ लापरवाही से इंलाज करने की तहरीर दी है। साथ ही बताया कि बेटी का तीन जगह से आपरेशन किया गया था। उसके पेट में कई जगह टांका भी लगा हुआ है। पुलिस ने तहरीर लेकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। सीओ श्यामकांत ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।एसीपी न्यूज़ चैनल कौशाम्बी से ब्यूरो चीफ पवन मिश्रा की रिपोर्ट