सीटू का 10वां सम्मेलन में क्षेत्रीय कार्यकारिणी का किया चयन।
सीटू का 10वां सम्मेलन में क्षेत्रीय कार्यकारिणी का किया चयन।

अशोक बुंदेला अध्यक्ष एवं जगदीश डिगरसे बने महासचिव।

बैतूल/सारनी। कैलाश पाटिल

21 मार्च रविवार को लालझंडा कोल माइन मजदूर यूनियन सीटू पाथाखेड़ा के क्षेत्रीय पदाधिकारियों एवं कार्यकारणी सदस्य का चयन किया गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार लाल झंडा कॉल माइन मजदूर यूनियन सीटू पाथाखेड़ा क्षेत्र का 10वां सम्मेलन 21 मार्च रविवार को ऑफिसर क्लब पाथाखेड़ा में डीके दत्ता वेकोलि अध्यक्ष की अध्यक्षता में संपन्न हुआ। कार्यक्रम में मुख्य रुप से वक्ता के रूप में कामरेड प्रमोद प्रधान राष्ट्रीय सचिव, मध्यप्रदेश महासचिव सीटू, एसएच बेग महासचिव नागपुर, कामेश्वर राय वेकोलि कल्याण मंडल सदस्य उपस्थित थे। चर्चा के बाद लालझंडा कोल माइन मजदूर यूनियन सीटू पाथाखेड़ा की क्षेत्रीय कार्यकारिणी का चयन किया गया। जिसमें अशोक बुंदेला क्षेत्रीय अध्यक्ष, जगदीश डिगरसे महासचिव और जे विवेगानंदन को कोषाध्यक्ष बनाया गया। नवनिर्वाचित पदाधिकारी एवं कार्यकारणी सदस्य औद्योगिक संबंध के अंतर्गत द्विपक्षीय वार्ता के माध्यम से श्रमिकों की समस्याओं के निराकरण में संघ को मजबूती एवं सहयोग प्रदान करेंगे। इस अवसर पर कामरेड प्रमोद प्रधान राष्ट्रीय सचिव और मध्यप्रदेश महासचिव सीटू ने कहा कि दिल्ली में हो रहा किसान आंदोलन मौजूदा सरकार के खिलाफ है। आज अन्नदाताओ को अपने खेतों से निकलकर अधिकारों के लिए दिल्ली की सड़कों पर आने के लिए मजबूर होना पड़ा है। लेकिन देश में किसान एवं मजदूर एकता कायम है। वही नौजवानों का जीवन बेरोजगारी की वजह से अंधकार में हैं। देश में हो रहे सभी क्षेत्रों के निजीकरण के खिलाफ संघर्ष को और गति प्रदान करने की आवश्यकता है। साथ ही श्रम कानून में हो रहे छेड़छाड़ का विरोध करना होगा। कार्यक्रम को कामरेड मीर हसन पेंच कन्हान महासचिव ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम में सभी इकाईयो के अध्यक्ष, सचिव, पदाधिकारियों के अलावा कार्यकर्ता उपस्थित थे। सभी उपस्थित लोगों ने कोविड 19 को ध्यान में रखकर मास्क एवं सामाजिक दूरी का पालन किया।