परेऊ में मनाई वर्षगांठ, बही भजनों की सरिता
*परेऊ में मनाई वर्षगांठ, बही भजनों की सरिता*

वागाराम बोस की रिपोर्ट


परेऊ धाम स्थित गुलाब भारती  मठ में बरसी महोत्सव  मैं  रविवार को  सैकड़ों श्रद्धालु उमड़े  श्रद्धालुओं ने साधु संतों से आशीर्वाद लिया। इस दौरान  संतोष पुरी एंड शिवपुरी सहित कई भजन कलाकारों ने भजन प्रस्तुत कर समा बांधा।  महंत ओंकार भारती के सानिध्य में  कार्यक्रम हुआ। इस दौरान गौ माता व नशा मुक्ति के लिए संदेश देते हुए ओंकारभारती ने कहा कि नशा नाश का दार है बच्चों के लिए हर आदमी जीता है तो बच्चों के लिए इसको छोड़ दें। उनका भविष्य बनाने के लिए जो रुपया नशे पर व्यंय कर रहे हैं उसी को उनकी शिक्षा में लगाएं। इससे समाज और देश का भला होगा। उन्होंने कहा है कि गाय हमारी संस्कृति है। गाय के दूध, गोबर, गोमूत्र से कई रोग नहीं होते हैं। गाय का घर में होना ही लक्ष्मी का वास है। हमें हमारी संस्कृति से जुड़ना है। घर में गाय पाले और गाय की रक्षा के लिए हमेशा तैयार रहें। नगराज गोदारा ने कहा कि गुलाबभारती महाराज ने जो धर्म की पताका लहराई महंत ओंकार भारती उसको और भी  उसको ऊंचाई प्रदान कर रहे हैं। संतों का तप है। जो यह भूमि तपोभूमि हो गई है। उन्होंने नशा व्रति त्यागने के लिए युवाओं को प्रेरित किया।इस अवसर पर परेऊ मठाधिश ओंमकार भारती ,चोहटन  मठाधिश मंहत जगदीश पुरी व महंत मगनपुरी भियाड़ मठ, बाबु गिरी पुनासा मठ, राम भारती नाशी वाड़ा गुजरात मठ, शिव गिरी  शेरगढ़ मठ, महंत, निरंजन भारती बालेएटा धाम, मोटनाथ लीलसर मठ,  सुखदेव पुरी बालेर गुजरात, रेवापुरी  रेवदर गुजरात, शिवपुरी नेनवा गुजरात, मंहत,संत सहित अनेक भक्तगण मौजूद रहे।
वहीं रविवार शाम को रात्रि जागरण में स्थानिय कलाकारों ने एक से बढ़ एक मधुर वाणी में भजनों की प्रस्तुतियां दी।जिस पर भक्त खुशी से झूम उठे।
कार्यक्रम में परेऊ सरपंच बांकाराम चौधरी, पुर्व सरपच पर्बत सिंह महेचा,  पूर्व सरपंच एवं  सरपंच प्रतिनिधि नगराज गोदारा, आर एल पी के उम्मेदाराम बेनीवाल ,कानाराम लेगा सहित अनेक भक्तगण  मौजूद रहे।