अमरकंटक नर्मदा महोत्सव के स्वरूप एवं आयोजन के सम्बंध में नोडल अधिकारियों की बैठक सम्पन्न

 


अमरकंटक नर्मदा महोत्सव के स्वरूप एवं आयोजन के सम्बंध में नोडल अधिकारियों की बैठक सम्पन्न
आयोजन से स्थानीय निवासियों को अधिकाधिक लाभ दिलाने की कार्ययोजना पर हुआ मंथन, अमरकंटक की धार्मिक, आध्यात्मिक, प्राकृतिक एवं सांस्कृतिक विरासत का किया जाएगा प्रसार
अनुपपुर | 
    कलेक्ट्रैट कार्यालय नर्मदा सभागार में कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर की अध्यक्षता में अमरकंटक नर्मदा महोत्सव के आयोजन के सम्बंध में नोडल अधिकारियों की बैठक आयोजित हुई। बैठक में अमरकंटक नर्मदा महोत्सव के स्वरूप एवं आयोजन के सम्बंध में विस्तृत चर्चा की गयी। कलेक्टर ने नोडल अधिकारियों को निर्देश दिए कि महोत्सव आयोजन का लक्ष्य अमरकंटक क्षेत्र की धार्मिक, आध्यात्मिक, प्राकृतिक एवं सांस्कृतिक विरासत को विधिवत रूप से आमजनो के समक्ष प्रदर्शित करना है। जिसके माध्यम से आर्थिक गतिविधियों का सृजन किया जाकर स्थानीय निवासियों को अधिक से अधिक लाभान्वित किया जा सके।
           अमरकंटक नर्मदा महोत्सव का आयोजन 3 दिवसीय होने पर सहमति बनी। महोत्सव का आयोजन नर्मदा जयंती 19 फरवरी 2021 के शुभ अवसर पर 18 से 20 फरवरी तक आयोजित किया जाएगा। प्रकृति प्रेमियों के लिए प्रतिदिन योगा एवं ट्रेकिंग गतिविधियों का आयोजन किया जाएगा। उक्त गतिविधियों के सुचारु एवं व्यवस्थित रूप से आयोजन हेतु आपने सम्बंधित नोडल अधिकारियों को निर्देश दिए। ट्रेकिंग गतिविधि के सम्बंध में श्री ठाकुर ने यह भी कहा कि आयोजन में स्थानीय निवासियों को ईको टुरिजम गतिविधियों का प्रशिक्षण दिया जाय ताकि इस गतिविधि को वर्ष पर्यन्त नियमित किया जाकर स्थानीय निवासियों को सतत रोजगार उपलब्ध कराया जा सके।
           इसके साथ ही माँ नर्मदा शोभा यात्रा, महाआरती, कन्या भोज, माँ नर्मदा की जीवन पर आधारित लेजर शो एवं 108 कुंड महायज्ञ पर भी सहमति बनी। सांस्कृतिक कार्यक्रमों में स्थानीय कलाकारों को प्राथमिकता देने के साथ अमरकंटक क्षेत्र, सीमावर्ती क्षेत्र के निवासियों की रुचि के साथ सुदुर शहरी अंचल के निवासियों की रुचि आधार पर कलाकारों के चयन की बात की गयी। आपने कहा क्षेत्र में व्यापक स्तर पर आर्थिक गतिविधियों के संचालन हेतु यहाँ की नैसर्गिक एवं सांस्कृतिक क्षमता का प्रसार अहम है।
           श्री ठाकुर ने यह भी निर्देश दिए कि सभी गतिविधियों के आयोजन में कोरोना संक्रमण से बचाव सुनिश्चित करने हेतु नए दृष्टिकोण से परख भी अहम है। सभी आयोजनो में आवश्यक एहतियात एवं सुरक्षा सुनिश्चित करने हेतु स्वास्थ्य दल का भी गठन किया जाएगा। इस दौरान आयोजन के दौरान सुरक्षा व्यवस्था, साफ-सफाई एवं अन्य महत्वपूर्ण विषयों में चर्चा उपरांत कलेक्टर द्वारा आवश्यक निर्देश दिए गए। आपने कहा आयोजन के सम्बंध में आमजन की राय भी सम्मिलित की जाएगी जिससे आयोजन से स्थानीय निवासियों को अधिक से अधिक लाभ सुनिश्चित किया जा सके।
           कलेक्टर ने महोत्सव के दौरान स्थानीय प्राकृतिक उत्पादों गुलबकावली, शहद एवं आजीविका समूह द्वारा निर्मित विभिन्न उत्पादों के साथ-साथ माँ नर्मदा उद्गम मंदिर ट्रस्ट के भोग प्रसाद एवं अन्य उत्पादों को विधिवत रूप से शो केस करने पर भी बल दिया। बैठक में पुलिस अधीक्षक एमएल सोलंकी, अपर कलेक्टर सरोधन सिंह, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत मिलिंद नागदेवे सहित सम्बंधित नोडल अधिकारी उपस्थित थे।