स्वसहायता समुह की महिलाओं को संस्था द्वारा दिया जा रहा प्रशिक्षण।

 स्वसहायता समुह की महिलाओं को संस्था द्वारा दिया जा रहा प्रशिक्षण।



बैतूल/सारनी। कैलाश पाटिल 


ग्राम फुलबेरिया में 4 स्वसहायता समुह की सिलाई प्रशिक्षण योग्य 30 महिलाओं को सुक्ष्म उद्यम विकास कार्यक्रम के अन्तर्गत सिलाई मशीन आपरेटर प्रशिक्षण 15 दिसंबर 2020 से 4 जनवरी 2021 तक 21 दिवसीय विभिन्न प्रकार के बैग कटिग एवं सिलाई का कार्य प्रशिक्षित मास्टर ट्रेनर अंकित बुनकर द्वारा प्रशिक्षण दिया।


ग्राम भारती महिला मंडल नाबार्ड जिला बैतुल के सहयोग से राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन से पंजीकृत समुहो को स्वरोजगार से जोड़कर महिलाओं को आत्म निर्भर बनाने के सतत् प्रयासरत है। जानकारी देते हुए संस्थाध्यक्ष भारती अग्रवाल ने बताया कि संस्था द्वारा द्वारा स्व सहायता समुह निर्मित कर राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन से पंजीकृत कर विभागीय सहयोग से रोजगार से जोडने की पहल ग्राम फुलबेरिया से की गई है।

जिसमें प्रशिक्षणार्थीयों को 6.6मीटर कपड़ा, बकरम, चैन, ब्लेट रनर,कैची,टेंप, पेन, पेंन्सिल, रबर, रजिस्टर, हुक, आदि संस्था द्वारा दिया गया। साथ ही प्रशिक्षण समापन के साथ 750/- प्रति, प्रतिभागी छात्रवृत्ति दी गई। संस्था की ओर से 3 दिन अतिरिक्त प्रशिक्षण महिलाओं को दिया जायेगा तथा 7 जनवरी 2021 को समापन किया जायेगा। स्वसहायता समुह की महिलाओं में उत्सुकता देखते बन रही है। आसपास के समुह की महिलायें भी यहाँ कार्य देखने आ रही है। विभागीय अधिकारी. तथा संस्था से समय-समय पर महिलाओं का मनोबल बढ़ाने के लिए पहुंच रहे है। महिलायें अब फुलवेरिया में अपनी हुनर का परचम लहरायेगी। प्रशिक्षण की सभी के द्वारा सराहना की जा रही, महिलाओं द्वारा सिले बैग सभी अत्याधिक पंसद कर रहे है। सिंगलयुज प्लास्टिक पर प्रतिबंध लगाने के लिये यह महिला समुह कम दर पर अच्छे बैग बनाकर सप्लाई करेगी। व्यापारियों के लिये यह सुनहरा अवसर हैं। जिसका लाभ उठाकर प्लास्टिक उपयोग पर प्रतिबंध में सहयोग प्रदान करें।