चार माह से नही मिली आंगनवाडीयो की राशि, कर्ज में डूबे स्व सहायता समूह
चार माह से नही मिली आंगनवाडीयो की राशि, कर्ज में डूबे स्व सहायता समूह
मसनगांव- आंगनवाड़ी केंद्रो के माध्यम से छोटे बच्चों गर्भवती तथा धात्री माताओ  को मिलने वाले पोषण आहार की राशि स्व सहायता समूह को विगत चार माह से प्राप्त नहीं हुई है खिरकिया विकास खंड की आंगनवाडियो की  राशि शासन नही दी जाने से स्व सहायता समूह चलाने वाली महिलाओं को कर्ज लेकर अपना काम चलाना पड़ रहा है समूह की जिला अध्यक्ष सुनीता डोले ने बताया कि शासन द्वारा आंगनवाड़ी केंद्रों को दी जाने वाली राशि विगत 4 माह से प्राप्त नहीं हुई है जिसमे  खिरकीया विकास खंड के अधिकारी से बार बार मांग किए जाने के बावजूद अधिकारी ध्यान नहीं दे रहा है जिससे स्व सहायता समूह कर्ज में डूबे हुए हैं स्कूल बंद होने के पश्चात शासन के निर्देशानुसार आंगनवाड़ी केंद्र में दर्ज छोटे बच्चों एवं गर्भवती तथा धात्री माताओ रेडी टू ईट के रूप में सामान दिया जा रहा है जिसकी पूर्ति करने के लिए समूह को कर्ज लेकर काम चलाना पड़ रहा है ,पंरतु खिरकिया विकास खंड की आंगनवाडियो मे राशि नही दी आने से  समूह चलाने वाली महिलाओं को कर्ज लेकर काम चलाना पड़ रहा है समूह की जिला अध्यक्ष सुनीता डोले ने बताया कि महिला बाल विकास एवं आंगनवाड़ी विभाग के द्वारा  विकास खंडों के हिसाब से राशि  दी जा रही है जिससे  हरदा विकासखंड की सभी आंगनवाडियो को राशि प्राप्त हो चुकी है परंतु खिरकीया विकास खंड में मे आने वाली सभी आंगनवाड़ी केंद्रों को अभी तक राशि नहीं मिली जिससे समूह चलाने वाली महिलाओं को परेशानी हो रही है  विभाग द्वारा आंगनवाड़ी केंद्रों को राशि का भुगतान  3 से 4 माह में किया जाता है जिससे समूह चलाने वाली महिलाओं को परेशानी  होती है ।कोरोना वायरस संक्रमण के वावगुद आंगनवाड़ी केन्द्र बंद होने से समूहो  के द्वारा रेडी टू ईट के रूप में छोटे बच्चों एवं गर्भवती तथा धात्री महिलाओं को पोषण आहार का वितरण किया जा रहा है। वही अध्यक्ष सुनीता डोले ने बताया कि महिला बाल विकास एवं आंगनवाड़ी विभाग के द्वारा शीघ्र राशि नहीं दी जाती है तो समूह की महिलाओं के द्वारा  आंदोलन किया जाएगा।
 अनिल दीपावरे की रिपोर्ट