मनरेगा योजना से 27 लाख रुपए की लागत से होगा गौशाला में निर्माण कार्य सुविधाओं में होगा इजाफा
हंडिया नमामि देवी नर्मदे सेवा यात्रा के दौरान हडिया में 22 लाख रुपए की लागत से बनकर तैयार गौशाला का अभी तक लोकार्पण नहीं हुआ है ऐसे में यहां पर रजिस्टर्ड समिति द्वारा गौशाला की बाउंड्री वाल भूसा से सेट नहीं होने को लेकर पिछले लंबे समय से विरोध किया जा रहा है जिसके चलते पूर्व कमलनाथ सरकार द्वारा समितियों को संशोधित करते हुए ग्राम पंचायत के माध्यम से नई समिति सरपंच सचिव की अध्यक्षता में गठित करने के बाद गौशाला  का लोकार्पण खटाई में पड़ गया ऐसे में पुनः प्रदेश में भाजपा की सरकार कायम होने के बाद पूर्व में बनी गौशालाओं की कमी को पूरी करने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा मनरेगा योजना में गौशालाओं को शामिल कर अधूरे निर्माण कार्य पूरे करने के निर्देश जारी किए गए जिसके चलते ग्राम पंचायत हंडिया के सचिव जगन्नाथ मिश्रा ने बताया कि हंडिया की गौशाला में 27 लाख रुपए की लागत से बाउंड्री वाल भूसा सेठ चौकीदार स्टाफ रूम ऑफिस के साथ ही पानी के लिए होदी बनाने के साथ ही अन्य कार्य किए जाएंगे जिसको लेकर जनपद पंचायत के सब इंजीनियरों की टीम ने गौशाला का निरीक्षण कर स्टीमेट तैयार किया है जिसका शीघ्र ही निर्माण कार्य शुरू किया जाएगा उधर बड़ी संख्या में बेमौत मर रही गौ माता की स्थिति को देखते हुए गो सेवक लगातार गौशाला शुरू करने को लेकर विरोध कर रहे हैं वहीं सरपंच संजू वर्मा का कहना है कि मनरेगा योजना के अंतर्गत गौशाला का निर्माण कार्य पूर्ण होते ही गौशाला शुरू की जाएगी जिससे कि गोवंश आए दिन दुर्घटना का शिकार ना हो
क्या कहते हैं मां नर्मदा गौशाला  हंडिया के अध्यक्ष अवंतिका प्रसाद तिवारी आर ई एस एबं पशु चिकित्सा विभाग द्वारा गौशाला का अपूर्ण कार्य कर समिति को हैंड ओवर करने की प्रक्रिया शुरू की गई थी जिसका हमारे द्वारा विरोध किया गया था मनरेगा योजना के अंतर्गत गौशाला का कार पूर्ण कर पंचायत को शीघ्र ही गौशाला शुरू करनी चाहिए जिससे कि गोवंश आए दिन दुर्घटना का शिकार होने से बचे